Breaking News:

उत्तराखंड: आज प्रदेश के सभी जिलों में मिले कोरोना मरीज , जानिए खबर -

Saturday, September 26, 2020

शेफ सुनीता निर्मोही से सीखिए स्वादिष्ट ढोकला चाट बनाना -

Saturday, September 26, 2020

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 29 सितम्बर को करेंगे लोकार्पण, जानिए खबर -

Saturday, September 26, 2020

सरिता स्कूटी पर राजमा चावल की लगाती है स्टाल, जरूरतमन्द बच्चों की भी करती है मदद, जानिए खबर -

Saturday, September 26, 2020

मैंने कुछ गलत नही कहा : सुनील गावस्कर -

Saturday, September 26, 2020

युवा संवाद : आत्मनिर्भरता से अन्त्योदय तक……. -

Friday, September 25, 2020

जरा हटके : उत्तराखंड में फिर से हुई एडवेंचर टूरिज्म की शुरुआत -

Friday, September 25, 2020

उत्तराखंड: आज चार जिलों में सौ से अधिक कोरोना मरीज मिले , जानिए खबर -

Friday, September 25, 2020

बिहार चुनाव का ऐलान, पहले चरण का चुनाव 28 अक्टूबर, परिणाम 10 नवम्बर -

Friday, September 25, 2020

महान ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर और कॉमेंटेटर डीन जोन्स का निधन -

Friday, September 25, 2020

मासूम बालिका को गुलदार ने मार डाला, जानिए खबर -

Friday, September 25, 2020

उत्तराखंड: प्रदेश में आज कोरोना से कुछ राहत , जानिए खबर -

Thursday, September 24, 2020

कृषि विधेयकों से किसानों की दशा और दिशा में क्रांतिकारी होंगे बदलाव : सीएम त्रिवेंद्र -

Thursday, September 24, 2020

आरटीआई कार्यकर्ता सैफअली सिद्दीकी ने राज्य सूचना आयोग को लिखा पत्र , जानिए खबर -

Thursday, September 24, 2020

“आप” ने किया विधानसभा का घेराव, अध्यक्ष समेत कई कार्यकर्ता गिरफ्तार -

Thursday, September 24, 2020

एक नज़र : गर्भपात मामलों में बढोत्तरी -

Thursday, September 24, 2020

जरा हटके : उत्तराखंड में विश्व प्रसिद्ध फूलों की घाटी में आपका स्वागत -

Thursday, September 24, 2020

उत्तराखंड विधानसभा सत्र : सदन में सभी 19 विधेयक पारित -

Wednesday, September 23, 2020

उत्तराखंड: प्रदेश में आज चार जिलों में कोरोना का कोहराम , जानिए खबर -

Wednesday, September 23, 2020

अंपायर के फैसले बदलने पर धोनी निराश, जानिए खबर -

Wednesday, September 23, 2020

मुख्यमंत्री ने 150 करोड़ रूपए लागत की विभिन्न विकास योजनाओं का किया लोकार्पण एवं शिलान्यास

69वें राजकीय आद्यौगिक विकास एवं सांस्कृतिक गौचर मेले का मंगलवार को शानदार आगाज हो गया। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने गौचर मेले का विधिवत् उद्घाटन किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने 155.44 करोड़ रूपए लागत की विभिन्न विकास योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास कर जिले को बडी सौगात भी दी। मेले के उद्घाटन के अवसर पर छोलिया नृत्य के साथ मुख्यमंत्री का भव्य स्वागत किया गया। मुख्यमंत्री ने मेले में जनता को संबोधित करते हुए कहा कि गौचर मेला संस्कृति, बाजार तथा उद्योग तीनों के समन्वय के कारण एक प्रसिद्ध राजकीय मेला है और साल दर साल यह मेला अपनी ऊँचाइयों को छू रहा है। उन्होंने मेले को भव्य एवं आकर्षक स्वरूप देने के लिए जिला प्रशासन की सराहना भी की। मुख्यमंत्री ने जिले की संस्कृति, खानपान, धार्मिक एवं पर्यटक स्थलों के लिए प्रकाशित कॉफी टेबल बुक का विमोचन भी किया।  इस दौरान मुख्यमंत्री ने स्वतंत्रता संग्रामी सेनानी बख्तावर सिंह को सम्मानित  किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि कृषि और उद्यान के विकास में गौचर मेले की बड़ी भूमिका रही है। किसानों की आय को बढाने के लिए सरकार आर्गेनिक खेती को बढावा देने के लिए कार्य कर रही है ताकि किसान को अधिक से अधिक फायदा मिल सके। किसानों की आय बढाने के लिए ग्रोथ सेंटर स्थापित किए जा रहे हैं ताकि किसान अपनी आवश्यकता से अधिक अनाज को ग्रोथ सेंटर में मूल्यवर्धित करा सकते हैं। कंडाली और हैम्प के रेशे के महत्व को समझाते हुए उन्होंने कहा कि आज खेती के तरीके को बदलने की जरूरत है। बताया कि पूरी दुनिया में हैम्प के रेशे की बहुत डिमांड है आज नशा रहित हैम्प के रेशे से 527 किस्म के प्रोडक्ट तैयार किए जा रहे हैं। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में चुने हुए नए प्रतिनिधियों को बधाई देते हुए मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि दो बच्चे और शिक्षा की अनिवार्यता रखने के कारण इस बार के त्रिस्तरीय पंचायत चुनावों में अधिकांश युवाओं को प्रतिनिधित्व का मौका मिला है। उन्होंने कहा कि राजनीतिक इच्छा शक्ति से ही यह बदलाव संभव हुआ है। कहा कि राज्य के विकास के लिए दृष्टि ही नही दृष्टिकोण होना भी जरूरी है। साहसिक खेलों के लिए गौचर मेले में पहली बार अलकनंदा नदी में रिवर राफ्टिंग प्रतियोगिता भी आयोजित की गई। मुख्यमंत्री ने रिवर राफ्टिंग करते हुए प्रतियोगिता का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि यहॉ पर राफ्टिंग की भरपूर सम्भावनाएं है और जिला प्रशासन ने इसको आगे बढाने के लिए एक अच्छी पहल की है। उन्होंने स्थानीय लोगों को भी इस योजना में आगे बढाने पर जोर दिया। इससे पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने विभिन्न विकास योजनाओं के तहत 6402.35 लाख की योजनाओं का लोकार्पण तथा 16113.46 की योजनाओं का शिलान्यास कर जिले को विकास योजनाओं की एक बडी सौगात भी दी। जिन बडी योजनाओं को लोकर्पण किया गया उनमें 1187 लाख की सरमोला रानौ मोटर मार्ग, 895 लाख की सुगरबैंड से सिलपाटा मोटर मार्ग, 989 लाख की गोल से मथकोट मोटर मार्ग, 385 लाख़ की चटवापीपल से ग्राम सिरण मोटर मार्ग, 343 लाख की उज्ज्वलपुर-बैनोली मोटर मार्ग शामिल है। वही जिन बडी योजनाओं का आज शिलान्यास हुआ उनमें 1786 लाख की रैस-भटियांणा मोटर मार्ग, 840 लाख की लागत से तपोवन-रिंगी मोटर मार्ग, 599 लाख की हाटकल्याणी -बेराधार मोटर मार्ग, 527 लाख लागत की करछी-रेगडी मोटर मार्ग, 400 लाख लागत से माणा में निर्मित होने वाले बहुउद्देशीय व सार्वजनिक भवन निर्माण, 382 लाख़ लागत से तपोवन-करछोई मोटर मार्ग आदि शामिल है। इस दौरान मुख्यमंत्री ने अलकनंदा नदी पर बाढ सुरक्षा, गौचर बाईपास मोटर मार्ग निर्माण, चटवापीपल में घाट सौन्दर्यीकरण एवं पहुॅच मार्ग निर्माण, गौचर नगर पालिका में बहुमंजिला पार्किंग निर्माण, कर्णप्रयाग-नैनीसैंण-बडसोली मोटर मार्ग निर्माण तथा उमासैंण तक मोटर मार्ग का विस्तारीकरण, राइका मालसी में अतिरिक्त कक्षा कक्ष निर्माण, गौचर पेयजल योजना निर्माण आदि घोषणाएं भी की।
मेले के उद्घाटन के अवसर पर क्षेत्रीय विधायक सुरेन्द्र सिंह, थराली विधायक मुन्नी देवी शाह, नवनिर्वाचित जिला पंचायत अध्यक्षा रजनी भण्डारी, नगर पंचायत अध्यक्षा अंजू बिष्ट आदि उपस्थित थे।

Leave A Comment