Breaking News:

नेक कार्य : जरूरतमन्दों के लिए हज़ारो मास्क बना चुकी है प्रवीण शर्मा -

Sunday, May 31, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या पहुँची 907, आज 158 कोरोना मरीज मिले -

Sunday, May 31, 2020

सोशल डिस्टन्सिंग के पालन से कोरोना जैसी बीमारी से बच सकते है : डाॅ अनिल चन्दोला -

Sunday, May 31, 2020

कोरोंना से बचे : उत्तराखंड में मरीजो की संख्या 802 हुई -

Sunday, May 31, 2020

उत्तराखंड : 1152 लोगों को दून से विशेष ट्रेन से बेतिया बिहार भेजा गया -

Sunday, May 31, 2020

पूर्व सीएम हरीश रावत ने किया जनता से संवाद, जानिए खबर -

Sunday, May 31, 2020

प्रदेश में खेती को व्यावसायिक सोच के साथ करने की आवश्यकताः सीएम त्रिवेंद्र -

Sunday, May 31, 2020

अनलॉक के रूप में लॉकडाउन , जानिए खबर -

Saturday, May 30, 2020

कोरोना का कोहराम : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 749 -

Saturday, May 30, 2020

रहा है भारतीय पत्रकारिता का अपना एक गौरवशाली इतिहास -

Saturday, May 30, 2020

पहचान : फ्री ऑन लाइन कोचिंग दे रहे फुटबाल कोच विरेन्द्र सिंह रावत, जानिए खबर -

Saturday, May 30, 2020

एक वर्ष की सफलता ने प्रधानमंत्री मोदी को बनाया विश्व नेता : सीएम त्रिवेंद्र -

Saturday, May 30, 2020

श्री विश्वनाथ मां जगदीशिला डोली के आयोजन स्थलों पर पौधारोपण होगा : नैथानी -

Friday, May 29, 2020

हरेला पर 16 जुलाई को वृहद स्तर पर पौधारोपण किया जाएगाः सीएम -

Friday, May 29, 2020

छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी का निधन -

Friday, May 29, 2020

ज्योतिषी बेजन दारूवाला का निधन -

Friday, May 29, 2020

कथित पत्रकार सचिवालय के अफसर से ब्लैक मेलिंग में गिरफ्तार -

Friday, May 29, 2020

कोरोना का कोहराम : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 716, आज सबसे अधिक 216 मरीज मिले -

Friday, May 29, 2020

उत्तराखंड : उत्तराखंड में कोरोना मरीजों की संख्या हुई 602 , देहरादून में आज आये 54 नए मामले -

Friday, May 29, 2020

उत्तराखंड : दुकान खुलने का समय प्रातः 7 बजे से सांय 7 बजे तक हुआ -

Thursday, May 28, 2020

मैड एवं अपने सपने समेत अनेक संगठनों ने दीवाली पर बम पटाखे न फोड़ने की संयुक्त अपील

DOON

देहरादून| दूनके शिक्षित छात्रों के संगठन, मेकिंग ऐ डिफ्फेरेंस बाय बीइंग द डिफ्फेरेंस (मैड) के आग्रह पर शहर के कई संगठन एवं बुद्धिजीवी लोग एक साथ गांधी पार्क पर इकट्ठे हुए और घंटाघर तक रैली निकल कर वही संदेश देने की कोशिश करी कि इस वर्ष दीपावली को दीपों और रंगों का तयोहार ही बनाएं और बम, पटाखों और ध्वनि प्रदूषण का एक उदाहरण न बनाएं। इस आग्रह को न सिर्फ व्यापक जान समर्थन मिला बल्कि शहर के कई संगठनों ने एक स्वर में इसको अपना पूर्ण समर्थन संख्याबल एवं वैचारिक तौर पर दिया।गौरतलब है कि मैड संस्था के सदस्यों ने पहले तो सुबह गुछुपानी क्षेत्र की सफाई में श्रमदान दिया और शाम को रैली में भी पहुँच गए।

MAD

संस्था के सदस्यों में खुद अपने हाथ से चार्ट पेपर से विभिन्न नारों को लिखा था ताकि वो संतुलित विकास, स्वच्छता का संदेश एवं एक पर्यावरण के दृष्टिकोण से सहनशील दीवाली का संदेश दे सकें। संस्था को समर्थन देने वाले संगठनों में अपने सपने, नियो विज़न, आरटीआई क्लब, संयुक्त नागरिक संगठन, आई आई पी सी, अमूल्य जीवन, अखिल भारतीय समानता मंच, मैती स्वयंसेवा संगठन, दून रेसिडेंट्स वेलफेयर फ्रंट, फ्रीडम फाइटर सुक्सीस्सर आर्गेनाईजेशन एवं सोशल जस्टिस एंड ह्यूमन राईट आर्गेनाईजेशन शामिल थे। मैड संस्था की ओर से संस्थापक अध्यक्ष अभिजय नेगी, करन कपूर, विनोद बघियाल, शिप्रा, आदर्श, दक्ष, जाह्नवी, श्रेया, विजय प्रताप सिंह, शरद माहेश्वरी, आदि मौजूद थे।

Leave A Comment