Breaking News:

5 दिसम्बर को उप राष्ट्रपति उत्तराखण्ड दौरे पर -

Friday, November 24, 2017

जब डीएम इवा ने छात्रों से पूछे सवाल. जानिए खबर -

Friday, November 24, 2017

ईवीएम मशीनों के प्रति भ्रम हो दूर : हरजिंदर -

Friday, November 24, 2017

हर माह छोटे व्यापारियों को भी जी.एस.टी रिटर्न फाइल करना होगा ! -

Friday, November 24, 2017

उत्तराखंड : नगर निकाय चुनाव अप्रैल माह में ! -

Friday, November 24, 2017

उत्तराखंड : भारत सरकार ने दो परियोजनाओं के लिए 1300 करोड़ किये स्वीकृति -

Thursday, November 23, 2017

कबाड़ में काम करने वाला शख्स ने बनाई इतनी महंगी कार, जानिये खबर -

Thursday, November 23, 2017

सागरिका घाटगे से जहीर खान ने की शादी ! -

Thursday, November 23, 2017

आखिर यह लड़की किस क्रिकेटर की बनने वाली है भाभी, जानिये खबर … -

Thursday, November 23, 2017

अनुज मिस्टर फ्रेशर और अंकिता चुनी गई मिस फ्रेशर -

Wednesday, November 22, 2017

जिलाधिकारी नैनीताल दीपेंद्र चौधरी का जरूरतमंद बच्चो के प्रति अनोखी पहल -

Wednesday, November 22, 2017

जगुआर ने राइनो को 4 विकेट से हराया -

Wednesday, November 22, 2017

बच्चों की शिक्षा हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता होनी चाहिए : सीएम -

Wednesday, November 22, 2017

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी चारधाम आॅल वेदर रोड निर्माण की प्रगति पर किया संतोष व्यक्त -

Wednesday, November 22, 2017

एमबीए की डिग्री, बेटा अमेरिका में इंजीनियर पर गलियों में मांग रही थी भीख ! -

Tuesday, November 21, 2017

सीएम से एडिशनल डायरेक्टर जनरल एन.सी.सी ने की मुलाक़ात -

Tuesday, November 21, 2017

सफारी वाहनों का संचालन होगा काॅर्बेट टाइगर रिजर्व कोटद्वार में -

Tuesday, November 21, 2017

एडीजी ने एसटीएफ की कार्यक्षमता बढ़ाने को लेकर दिए दिशा-निर्देश -

Tuesday, November 21, 2017

मत्स्य पालन में जागरूकता की कमी : सीएम -

Tuesday, November 21, 2017

जब अपहरणकर्ताओं पर भारी पड़ा 9 साल का बच्चा, जानिए खबर -

Monday, November 20, 2017

रावत ने आंधी व तूफान से हुए नुकसान की समीक्षा

cm

मुख्यमंत्री हरीश रावत ने शुक्रवार को सर्किट हाउस हल्द्वानी में अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों के साथ बेमौसम बारिश से पूर्व में तथा वृहस्पतिवार की रात को आयी आंधी व तूफान से हुए नुकसान की समीक्षा की।सर्किट हाउस सभागार में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री श्री रावत ने कहा कि सरकार द्वारा प्रदेश के काश्तकारों को ओला वृष्टि और बरसात के कारण हुयी फसलो की बरबादी और तवाही को मध्यनजर रखते हुये फौरीतौर पर एक हजार रूपये की आर्थिक सहायता दी जा रही है। उन्हांेने कहा कि फसलों के साथ ही किसानो की मेहनत से तैयार सब्जियंा और फसलें बडी मात्रा मे तबाह हुयी है। उन्होंने बैठक में सभी की बात सुनने के बाद निर्यण लिया कि पूर्व मे सरकार द्वारा जारी राहत राशि के अलावा 25 करोड की अतिरिक्त धनराशि किसानों के हित में जारी की जायेगी। उन्होंने कहा कि 15 करोड की धनराशि उद्यान विभाग को दी जायेगी, जिससे वर्तमान बुवाई सीजन के लिए तत्काल बीजों की व्यवस्था मिनी किटो के माध्यम से की जायेगी। इसके अलावा 10 करोड रूपये कृषि विभाग को अतिरिक्त दिया जा रहा है, जिससे बीजो की व्यवस्था की जायेगी। उन्हांेने कहा कि वर्तमान मंे प्रदेश के तराई भावर एव पर्वतीय क्षेत्रों मे सब्जियों एवं फसलो की बुवाई होनी ह,ै इस धनराशि से धान, मक्का, सोयाबीन, उडद, राजमा, फ्रासबीन, हल्दी, अदरख, मडुआ आदि के बीज क्रय कर किसानो को वितरित किये जाए। मुख्यमंत्री रावत ने दूरभाष पर मुख्य सचिव एन रविशंकर , अपर मुख्य सचिव राकेश शर्मा तथा निदेशक कृषि चन्दन सिह मेहरा को निर्देश दिये कि उपलब्ध करायी जा रही 25 करोड की धनराशि से पन्तनगर विश्वविद्यालय, टीडीसी हल्दी व अन्य जगहों से उत्तम प्रजाति के बीजो की व्यवस्था कर काश्तकारों को निशुल्क वितरण सुनिश्चिित करायंे। उन्होंने कहा कि बीजो के वितरण की व्यवस्था के लिए नोडल अधिकारी सम्बन्धित मंडल के आयुक्त होंगे। इसके साथ ही जनपद के प्रभारी मंत्री एवं प्रभारी सचिव भी जनपदों का भ्रमण कर बीज वितरण की कार्यवाही का अनुश्रवण करेंगे । मुख्यमंत्री रावत ने जिलाधिकारी दीपक रावत को निर्देश दिये कि वह आंधी तूफान मे बर्बाद हुये पाॅली हाउसो को राजस्व कर्मीयों एवं उद्यान विभाग के कर्मचारियो से संयुक्त सर्वे कराकर उसका प्रस्ताव शासन को भेजे ताकि पाॅलीहाउस के माध्यम से खेती करने वाले किसानो को भी आर्थिक मदद दी जा सके। श्री रावत ने कहा कि पिथौरागढ एवं उत्तकाशी जनपदों के किसानो को मंडुवे का बीज भी उपलब्ध कराया जाए।जिलाधिकारी दीपक रावत ने बताया कि जनपद के 16 हजार हेक्टेयर में उद्यान क्षेत्र है, जिसमें फलो एव सब्जियांे की खेती की जाती है। उन्हांेने बताया कि शासन से प्राप्त एक करोड की धनराशि का शतप्रतिशत वितरण मानको के अनुसार 9 हजार 6 सौ किसानो को कर दिया गया है। आर्थिक सहायता देने के लिए 14 करेाड अतिरिक्त धनराशि की आवश्यकता है। नैनीताल जिले में लगभग 66 हजार किसान ओल वृष्टि, आधी तूफान तथा बारिश से प्रभावित हुये है। उन्होंने बताया कि पाॅलीहाउस के किसानो को सहायता देने के लिए 16 लाख का प्रस्ताव शासन को भेजा जा चुका है। बैठक मे वित्तमंत्री डा0 श्रीमती इन्दिरा हृदयेश, संसदीय सचिव सरिता आर्य, विधायक रेखा आर्य, अध्यक्ष आपदा प्रबन्धन प्रयाग दत्त भटट, सदस्य मलिन बस्ती सुधार खजान पाण्डे, ब्लाक प्रमुख आनन्द आर्य, अध्यक्ष मंडी समिति सुमित हृदयेश सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

Leave A Comment