Breaking News:

राज्यपाल एवं मुख्यमंत्री ने नारायण दत्त तिवारी के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया -

Thursday, October 18, 2018

उत्तराखंड : राज्यपाल बेबी रानी मौर्य केदारनाथ धाम में की पूजा-अर्चना -

Thursday, October 18, 2018

अपने जन्मदिन के दिन विकास पुरुष एनडी तिवारी ने ली अंतिम सांस -

Thursday, October 18, 2018

अब उत्तराखंड में भी केशर का उत्पादन हो सकेगा -

Thursday, October 18, 2018

इन्वेस्टर्स समिट के दौरान एमओयू को फॉलो अप करे अधिकारी : मुख्य सचिव -

Thursday, October 18, 2018

नहीं हटाया जाएंगे ‘हाउसफुल 4’ से नाना पाटेकर के सीन्स ! -

Thursday, October 18, 2018

दशहरे पर रावण दहन शाम 6 बजकर पांच मिनट पर -

Wednesday, October 17, 2018

राज्यपाल ने 101 कन्याओं का पूजन कर अपने हाथों से भोजन परोसा -

Wednesday, October 17, 2018

नगर निकाय चुनावः पत्र बिक्री, प्राप्ति, जांच व चुनाव चिन्ह आवंटन को स्थल हुए निर्धारित -

Wednesday, October 17, 2018

व्यंग्यः हर मानुष को पता चल गया है कि मीटू क्या है…. -

Wednesday, October 17, 2018

रामपाल समेत 15 दोषियों को उम्रकैद -

Tuesday, October 16, 2018

वित्त आयोग की बैठक में अहम निर्णय , जानिए खबर -

Tuesday, October 16, 2018

उत्तराखंड : राज्यपाल ने जरूरतमंद बच्चो एवं वृद्धजन के बीच बिताये समय -

Tuesday, October 16, 2018

दशहरा को लेकर डीएम व एसएसपी ने लिया व्यवस्थाओं का जायजा -

Tuesday, October 16, 2018

सिंधु, साइना डेनमार्क ओपन बैडमिंटन में भारतीय चुनौती संभालेंगी -

Tuesday, October 16, 2018

उत्तराखंड : निकाय चुनाव का मतदान 18 नवंबर को -

Monday, October 15, 2018

व्यंग्यः कितना दर्द दिया मीटू के टीटू ने…..! -

Monday, October 15, 2018

टिहरी गढ़वाल के बंगसील स्कूल में सफाई अभियान की अनोखी पहल -

Monday, October 15, 2018

गडकरी, एम्स डायरेक्टर समेत आठ लोगों के खिलाफ मातृसदन दर्ज कराएगा हत्या का मुकदमा -

Monday, October 15, 2018

साधन विहीन व निर्बल वर्ग के बच्चों को यथा सम्भव पहुंचे सहायता : राज्यपाल -

Monday, October 15, 2018

रावत ने आंधी व तूफान से हुए नुकसान की समीक्षा

cm

मुख्यमंत्री हरीश रावत ने शुक्रवार को सर्किट हाउस हल्द्वानी में अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों के साथ बेमौसम बारिश से पूर्व में तथा वृहस्पतिवार की रात को आयी आंधी व तूफान से हुए नुकसान की समीक्षा की।सर्किट हाउस सभागार में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री श्री रावत ने कहा कि सरकार द्वारा प्रदेश के काश्तकारों को ओला वृष्टि और बरसात के कारण हुयी फसलो की बरबादी और तवाही को मध्यनजर रखते हुये फौरीतौर पर एक हजार रूपये की आर्थिक सहायता दी जा रही है। उन्हांेने कहा कि फसलों के साथ ही किसानो की मेहनत से तैयार सब्जियंा और फसलें बडी मात्रा मे तबाह हुयी है। उन्होंने बैठक में सभी की बात सुनने के बाद निर्यण लिया कि पूर्व मे सरकार द्वारा जारी राहत राशि के अलावा 25 करोड की अतिरिक्त धनराशि किसानों के हित में जारी की जायेगी। उन्होंने कहा कि 15 करोड की धनराशि उद्यान विभाग को दी जायेगी, जिससे वर्तमान बुवाई सीजन के लिए तत्काल बीजों की व्यवस्था मिनी किटो के माध्यम से की जायेगी। इसके अलावा 10 करोड रूपये कृषि विभाग को अतिरिक्त दिया जा रहा है, जिससे बीजो की व्यवस्था की जायेगी। उन्हांेने कहा कि वर्तमान मंे प्रदेश के तराई भावर एव पर्वतीय क्षेत्रों मे सब्जियों एवं फसलो की बुवाई होनी ह,ै इस धनराशि से धान, मक्का, सोयाबीन, उडद, राजमा, फ्रासबीन, हल्दी, अदरख, मडुआ आदि के बीज क्रय कर किसानो को वितरित किये जाए। मुख्यमंत्री रावत ने दूरभाष पर मुख्य सचिव एन रविशंकर , अपर मुख्य सचिव राकेश शर्मा तथा निदेशक कृषि चन्दन सिह मेहरा को निर्देश दिये कि उपलब्ध करायी जा रही 25 करोड की धनराशि से पन्तनगर विश्वविद्यालय, टीडीसी हल्दी व अन्य जगहों से उत्तम प्रजाति के बीजो की व्यवस्था कर काश्तकारों को निशुल्क वितरण सुनिश्चिित करायंे। उन्होंने कहा कि बीजो के वितरण की व्यवस्था के लिए नोडल अधिकारी सम्बन्धित मंडल के आयुक्त होंगे। इसके साथ ही जनपद के प्रभारी मंत्री एवं प्रभारी सचिव भी जनपदों का भ्रमण कर बीज वितरण की कार्यवाही का अनुश्रवण करेंगे । मुख्यमंत्री रावत ने जिलाधिकारी दीपक रावत को निर्देश दिये कि वह आंधी तूफान मे बर्बाद हुये पाॅली हाउसो को राजस्व कर्मीयों एवं उद्यान विभाग के कर्मचारियो से संयुक्त सर्वे कराकर उसका प्रस्ताव शासन को भेजे ताकि पाॅलीहाउस के माध्यम से खेती करने वाले किसानो को भी आर्थिक मदद दी जा सके। श्री रावत ने कहा कि पिथौरागढ एवं उत्तकाशी जनपदों के किसानो को मंडुवे का बीज भी उपलब्ध कराया जाए।जिलाधिकारी दीपक रावत ने बताया कि जनपद के 16 हजार हेक्टेयर में उद्यान क्षेत्र है, जिसमें फलो एव सब्जियांे की खेती की जाती है। उन्हांेने बताया कि शासन से प्राप्त एक करोड की धनराशि का शतप्रतिशत वितरण मानको के अनुसार 9 हजार 6 सौ किसानो को कर दिया गया है। आर्थिक सहायता देने के लिए 14 करेाड अतिरिक्त धनराशि की आवश्यकता है। नैनीताल जिले में लगभग 66 हजार किसान ओल वृष्टि, आधी तूफान तथा बारिश से प्रभावित हुये है। उन्होंने बताया कि पाॅलीहाउस के किसानो को सहायता देने के लिए 16 लाख का प्रस्ताव शासन को भेजा जा चुका है। बैठक मे वित्तमंत्री डा0 श्रीमती इन्दिरा हृदयेश, संसदीय सचिव सरिता आर्य, विधायक रेखा आर्य, अध्यक्ष आपदा प्रबन्धन प्रयाग दत्त भटट, सदस्य मलिन बस्ती सुधार खजान पाण्डे, ब्लाक प्रमुख आनन्द आर्य, अध्यक्ष मंडी समिति सुमित हृदयेश सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

Leave A Comment