Breaking News:

भगवा रक्षा दल : पंकज कपूर बने प्रदेश मीडिया प्रभारी -

Saturday, November 16, 2019

उत्तराखण्ड स्कूलों में वर्चुअल क्लास शुरू करने वाला बना पहला राज्य -

Saturday, November 16, 2019

सूचना कर्मचारी संघ चुनाव : भुवन जोशी अध्यक्ष , सुषमा उपाध्यक्ष एवं सुरेश चन्द्र भट्ट चुने गए महामंत्री -

Saturday, November 16, 2019

रेस लगाना पड़ा महंगा, हादसे में तीन की मौत -

Saturday, November 16, 2019

पब्लिक रिलेशंस सोसाइटी आफ इंडिया : 41वीं नेशनल कान्फ्रेंश के ब्रोशर का हुआ विमोचन -

Saturday, November 16, 2019

अन्तर्राष्ट्रीय सम्मेलन में भारत से साध्वी भगवती सरस्वती ने किया सहभाग -

Saturday, November 16, 2019

देहरादून में हुआ भाजपा के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा का भव्य स्वागत, जानिए खबर -

Friday, November 15, 2019

भिक्षा मांग रहे बच्चो को भिक्षा की जगह शिक्षा दे : एडीजी अशोक कुमार -

Friday, November 15, 2019

हरिद्वार : पर्यटकों के लिए खुले राजा जी रिजर्व पार्क के दरवाजे -

Friday, November 15, 2019

शहर में दूसरा प्लास्टिक बैंक हुई स्थापित, जानिए खबर -

Friday, November 15, 2019

उत्तराखण्ड में ‘‘सबका साथ-सबका विकास’’ जनयोजना अभियान 2 दिसम्बर से , जानिए खबर -

Friday, November 15, 2019

उत्तराखण्ड : सीएम त्रिवेंद्र ने सांसद आदर्श ग्राम योजना की समीक्षा की -

Thursday, November 14, 2019

अंगीठी की गैस से दम घुटने के कारण मां-बेटी की मौत -

Thursday, November 14, 2019

भारतीय वन्य जीव संस्थान का दल पहुंचा परमार्थ निकेतन -

Thursday, November 14, 2019

पिथौरागढ़ विस उपचुनाव: प्रचार को कांग्रेस प्रभारी भी -

Thursday, November 14, 2019

मुख्यमंत्री ने 150 करोड़ रूपए लागत की विभिन्न विकास योजनाओं का किया लोकार्पण एवं शिलान्यास -

Thursday, November 14, 2019

जनभावनाओं के अनुरूप श्रीराम का भव्य मंदिर जल्द : सीएम योगी आदित्यनाथ -

Wednesday, November 13, 2019

उत्तराखण्ड : मंत्रिमंडल की बैठक में 27 फैसलों को मंजूरी -

Wednesday, November 13, 2019

फीस वृद्धि : छात्रों में भारी आक्रोश, की तालाबंदी -

Wednesday, November 13, 2019

उत्तराखण्ड : 25 नवंबर से शुरू होगा खेल महाकुम्भ, जानिए खबर -

Wednesday, November 13, 2019

रेसलिंग वर्ल्ड चैंपियनशिप में सुशील के रास्ते से हटे प्रवीण, जानिए ख़बर

नई दिल्ली | रेसलिंग वर्ल्ड चैंपियनशिप के लिए 74 किग्रा भारवर्ग में दो बार के ओलिंपिक मेडलिस्ट सुशील कुमार और प्रवीण राणा के बीच होने वाली भिड़ंत पर सभी की निगाहें थी, लेकिन राणा ने अनफिट होने के चलते ट्रायल से नाम वापस ले लिया है। ‘वर्ल्ड चैंपियनशिप के लिए 74 किग्रा और बाकी भारवर्ग में ट्रायल इसी हफ्ते होंगे। रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया के असिस्टेंट सेक्रटरी विनोद तोमर ने कहा, ‘टीम भेजने की समयसीमा समाप्त हो चुकी है। मैंने यूनाइटेड वर्ल्ड रेसलिंग से यह कहकर एक हफ्ते का अतिरिक्त समय मांगा है कि अभी कुछ पहलवान फिट नहीं हैं। हमें किसी भी कीमत पर 18 अगस्त तक टीम भेजनी ही पड़ेगी।’ रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया ने ओलिंपिक भार वर्ग का ट्रायल पिछले महीने की 26 तारीख को कराया था। राणा ने उस समय फिट नहीं होने की बात कहते हुए फेडरेशन से ट्रायल बाद में कराने की मांग की थी। यही वजह है कि 74 किग्रा का ट्रायल तब नहीं लिया गया था। राणा ने बताया, ‘मैंने डॉक्टर से मुलाकात की थी। उन्होंने मुझे अभी मैट पर उतरने से मना किया है। मेरी अब यही कोशिश है कि नैशनल में खेलकर उसके आगे के ट्रायल में हिस्सा लूंगा। बेलारूस में मेदवेद टूर्नमेंट में हिस्सा लेने गए सुशील कुमार मेडल से चूक गए। बावजूद इसके उन्होंने अपने प्रदर्शन पर संतोष प्रकट किया। बेलारूस से फोन पर उन्होंने बताया, ‘मैं एक साल बाद मैट पर उतरा था। मुझे खुद भी यकीन नहीं था कि मैं इतनी कड़ी चुनौती पेश करूंगा। ब्रॉन्ज मेडल मुकाबले में मैं जिस पहलवान से 7-8 के मामूली अंतर से हारा उसने हाल के दिनों में ही खेतिक जैसे पहलवान को हराया था। मुझे मुकाबले से यह अहसास हो गया कि मेरे अंदर अभी काफी कुश्ती बची है और मैं अपने पुराने इतिहास को दोहरा सकता हूं।’ कोच विनोद कुमार ने भी सुशील के प्रदर्शन पर संतोष जाहिर किया।

Leave A Comment