Breaking News:

सीएम ने की विभिन्न निर्माण कार्यों का शिलान्यास, जानिए खबर -

Sunday, December 9, 2018

पौराणिक मेले हमारी पहचान : सीएम त्रिवेंद्र -

Sunday, December 9, 2018

मैड और एनसीसी की टीम ने रिस्पना को किया साफ़ -

Sunday, December 9, 2018

राष्ट्रीय जनसंपर्क सम्मेलन : हिमालय और गंगा राष्ट्र का गौरव -

Sunday, December 9, 2018

दून नगर निगम बढ़ाएगा हाउस टैक्स, जानिए खबर -

Sunday, December 9, 2018

आईएमए पीओपीः 347 कैडेट बने भारतीय सेना का हिस्सा -

Saturday, December 8, 2018

सीएम त्रिवेंद्र 40वें आॅल इण्डिया पब्लिक रिलेशन्स काॅन्फ्रेंस का किया शुभारम्भ -

Saturday, December 8, 2018

कर्ज से परेशान किसान ने की आत्महत्या की कोशिश, हालत गंभीर -

Saturday, December 8, 2018

सीएम त्रिवेंद्र किये कई घोषणाएं , जानिए खबर -

Saturday, December 8, 2018

‘केदारनाथ’ फिल्म के नाम से ऐतराज: सतपाल महाराज -

Saturday, December 8, 2018

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र करेंगे राष्ट्रीय जनसंपर्क सम्मेलन का शुभारंभ -

Friday, December 7, 2018

सीएम एप ने दिलाई गरीब परिवारों को धुएं से मुक्ति, जानिए खबर -

Friday, December 7, 2018

गावस्कर : विराट नहीं भारत के ओपनर करेंगे सीरीज का फैसला -

Friday, December 7, 2018

मीका सिंह को छेड़छाड़ मामले में कोर्ट में पेश किए जाएंगे -

Friday, December 7, 2018

सड़क पर बच्चे का जन्म, जानिए खबर -

Friday, December 7, 2018

गन्ना किसानों का बकाया भुगतान जल्द, जानिए खबर -

Friday, December 7, 2018

फैशन में करियर की अपार संभावनाएंः पूर्व मिस इंडिया इको ख्याती -

Thursday, December 6, 2018

उत्तराखंड : 1111 पुरूष व महिला होमगार्डस की नई भर्तियां जल्द -

Thursday, December 6, 2018

उत्तराखंड : जिलाधिकारियों के पाले में केदारनाथ फिल्म की रिलीज -

Thursday, December 6, 2018

गौतम गंभीर कोटला पर आखिरी बार थामेंगे बल्ला -

Thursday, December 6, 2018

लकवाग्रस्त बीरा को हेल्पेज ने दिया सहारा, जानिये खबर

PEHCHAN-PAHAL

 

रुद्रप्रयाग। हेल्पेज इण्डिया के फिजियोथेरेपिस्ट डाॅ रंगलाल यादव ने पैरापलेजिया रोग से पीड़ित पचास वर्षीय महिला को रिकाॅर्ड 35 दिनों में अपने पैरों पर खड़ा कर बड़ी उपलब्धि हासिल की है। पैरापलेजिया रोग रीढ़ की हड्डी की एक बीमारी है, जिसमें शरीर का निचला हिस्सा लकवाग्रस्त हो जाता है। महिला के परिजनों ने इसके लिए हेल्पेज इण्डिया एवं डाॅ रंगलाल यादव का आभार प्रकट करते हुए उन्हें धन्यवाद दिया है।  डाॅ रंगलाल यादव ने बताया कि अस्पताल में एक माह पूर्व कुरछोला ग्राम की पैरापलेजिया रोग से पीड़ित एक गरीब महिला बीरा देवी (50) अपना ईलाज कराने आई थी। महिला गरीब परिवार से थी। महिला का पति श्रमिक है और वह भी अधिकांशतः बीमार ही रहता है। ऐसे में महिला का सम्पूर्ण ईलाज कराना सम्भव नहीं हो पा रहा था। पैरापलेजिया रोग रीढ़ की हड्डी में होता है जो अक्सर लम्बे समय तक कमर दर्द रहने के कारण भी होता है। इस बीमारी में महसूस करने की क्षमता कम हो जाती है और मरीज को शौच एवं पेशाब पर नियन्त्रण नहीं रह पाता है। इसके साथ ही शरीर के निचले अंगों को लकवा हो जाता है। ऐसे में किसी ने उन्हें हेल्पेज इण्डिया के निःशुल्क अस्पताल जाने की राय दी। बीरा देवी का बेटा अनुज उन्हें गोद में उठाकर अस्पताल लाया, जहां उन्होंने फिजियोथेरेपी से उनका ईलाज किया और 35 दिनों में ही उन्हें ठीक कर अपने पैरो पर चलते हुए अस्पताल से डिस्चार्ज किया। हेल्पेज इण्डिया के जिला समन्वयक प्रवीण राॅय एवं सामाजिक सुरक्षा अधिकारी पंकज राठौर ने बताया कि केदारनाथ आपदा के बाद से आपदाग्रस्त क्षेत्रों में स्वास्थ्य सेवा में हेल्पेज इण्डिया बेहतर कार्य कर रही है। संस्था न केवल दूर दराज के गांवों में स्वास्थ्य शिविरों का आयोजन कर रही है, बल्कि अगस्त्यमुनि सौड़ी के पास एक बीस बेड का अस्पताल भी खोला हैं जिसमें क्षेत्र के गरीब मरीजों का निःशुल्क ईलाज किया जाता है। उन्होंने बताया कि पहाड़ की विषम भोगोलिक परिस्थितियों के कारण कई लोग विभिन्न कारणों से लकवाग्रस्त हो जाते हैं। जिन्हें लम्बे समय तक फिजियोथेरेपी एवं ईलाज की आवश्यकता पड़ती है। हेल्पेज इण्डिया ने पहाड़वासियो की इन समस्याओं को समझा और अस्पताल में एक व्यवस्थित फिजियोथेरेपी अनुभाग खोला है जहां एक पूर्णकालिक डाॅक्टर मरीजों की निरन्तर फिजियोथेरेपी कर रहा है। अस्पताल में गरीब मरीजों को निःशुल्क रहने की व्यवस्था की गई है।

Leave A Comment