Breaking News:

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 958 -

Monday, June 1, 2020

उत्तराखंड : कोरोना मरीजो की संख्या 929 हुई, चम्पावत में 15 नए मामले मिले -

Monday, June 1, 2020

जागरूकता: तंबाकू छोड़ने की जागरूकता के लिए स्वयं तत्पर होना जरूरी -

Monday, June 1, 2020

मदद : गांव के छोटे बच्चों को पढ़ा रही भावना -

Monday, June 1, 2020

नही रहे मशहूर संगीतकार वाजिद खान -

Monday, June 1, 2020

नेक कार्य : जरूरतमन्दों के लिए हज़ारो मास्क बना चुकी है प्रवीण शर्मा -

Sunday, May 31, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या पहुँची 907, आज 158 कोरोना मरीज मिले -

Sunday, May 31, 2020

सोशल डिस्टन्सिंग के पालन से कोरोना जैसी बीमारी से बच सकते है : डाॅ अनिल चन्दोला -

Sunday, May 31, 2020

कोरोंना से बचे : उत्तराखंड में मरीजो की संख्या 802 हुई -

Sunday, May 31, 2020

उत्तराखंड : 1152 लोगों को दून से विशेष ट्रेन से बेतिया बिहार भेजा गया -

Sunday, May 31, 2020

पूर्व सीएम हरीश रावत ने किया जनता से संवाद, जानिए खबर -

Sunday, May 31, 2020

प्रदेश में खेती को व्यावसायिक सोच के साथ करने की आवश्यकताः सीएम त्रिवेंद्र -

Sunday, May 31, 2020

अनलॉक के रूप में लॉकडाउन , जानिए खबर -

Saturday, May 30, 2020

कोरोना का कोहराम : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 749 -

Saturday, May 30, 2020

रहा है भारतीय पत्रकारिता का अपना एक गौरवशाली इतिहास -

Saturday, May 30, 2020

पहचान : फ्री ऑन लाइन कोचिंग दे रहे फुटबाल कोच विरेन्द्र सिंह रावत, जानिए खबर -

Saturday, May 30, 2020

एक वर्ष की सफलता ने प्रधानमंत्री मोदी को बनाया विश्व नेता : सीएम त्रिवेंद्र -

Saturday, May 30, 2020

श्री विश्वनाथ मां जगदीशिला डोली के आयोजन स्थलों पर पौधारोपण होगा : नैथानी -

Friday, May 29, 2020

हरेला पर 16 जुलाई को वृहद स्तर पर पौधारोपण किया जाएगाः सीएम -

Friday, May 29, 2020

छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी का निधन -

Friday, May 29, 2020

लाखों श्रद्धालुओं ने किया गंगा स्नान, जानिए खबर

हरिद्वार । निर्जला एकादशी पर देश भर से आए लाखों श्रद्धालुओं ने गंगा स्नान व दान आदि कर पुण्य लाभ अर्जित किया। पौराणिक मान्यताओं व ज्योतिष के अनुसार निर्जला एकादशी को वर्ष में होने वाली 24 एकादशियों में सर्वश्रेष्ठ बताया गया है। बृहष्पतिवार को निर्जला एकादशी स्नान का लाभ उठाने के लिए देश के विभिन्न राज्यों से लाखों श्रद्धालु हरिद्वार पहुंचे। श्रद्धालुओं ने हरकी पैड़ी सहित धर्मनगरी के तमाम गंगा घाटों पर स्नान कर सूर्य को अर्ध्य देकर परिवारों के लिए मंगलकामना की। स्नान के बाद श्रद्धालुओं ने पंखे, शरबत, फल आदि का दान भी किया। निर्जला एकादशी का व्रत रखने वाले श्रद्धालुओं ने घाटों पर पुरोहितों और पंडितों से निर्जला एकादशी की कथा का श्रवण भी किया। स्नान के लिए आए श्रद्धालु विभिन्न पौराणिक मंदिरों में देव प्रतिमाओं के दर्शन करने के लिए भी पहुंचे। पौराणिक मंशादेवी, चण्डी देवी, मायादेवी, दक्षेश्वर महादेव मंदिर, बिल्केश्वर महादेव मंदिर आदि में श्रद्धालुओं की खासी भीड़ रही। सवेरे ब्रह्म मुहर्त में शुरू हुआ स्नान का सिलसिला दिनभर चलता रहा। स्नान के लिए दिल्ली, पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, राजस्थान आदि से सर्वाधिक श्रद्धालु हरिद्वार पहुंचे। हरिद्वार आने वाली तमाम ट्रेन व बसें स्नानार्थियों से भरी हुई पहुंची। निजी वाहनों से भी बड़ी संख्या में लोग पहुंचे। यात्रीयों की भारी भीड़ के चलते रेलवे स्टेशन, बस स्टैण्ड व बाजारों में दिनभर गहमा गहमी रही। स्नान को सकुशल संपन्न कराने के लिए पुलिस प्रशासन की और सुरक्षा व यातायात के विशेष इंतजाम किए गए थे। हाईवे को जाम से बचाने के लिए यातायात पुलिस के साथ नागरिक पुलिस के जवानों व अधिकारियों को भी तैनात किया गया था। इसके अलावा सभी घाटों पर व मंदिरों पर भी सुरक्षा के विशेष इंतजाम किए गए थे। यात्रीयों की भारी भीड़ दूसरे प्रदेशों से आने वाहनों का संचालन ऋषिकुल मैदान में बन गए अस्थाई बस अड्डे से किया गया। ऋषिकुल बस अड्डे पर यात्रीयों की सुविधाओं को ध्यान में नही रखा गया। बस अड्डे पर शौचालया की व्यवस्था को भी लागू नहीं किया गया। महिलाएं, बुजुर्ग, बच्चे इधर उधर धूप के कारण भटकते रहे। बस अड्डे पर बसों का इंतजार कर रहे यात्रियों को पेड़ों की छांव में ही अपना समय बिताना पड़ा। ई रिक्शा चालकों ने जमकर यात्रियों से अतिरिक्त किराया वसूला। ऋषिकुल बस अड्डे पर यातायात को सुचारू करने के लिए पुलिस बल के साथ अधिकारी भी मौजूद रहे।

Leave A Comment