Breaking News:

उत्तराखंड में पांच और कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आए, संक्रमित मरीजों की संख्या हुई 31 -

Monday, April 6, 2020

सीएम ने उत्तराखंड के जवानों की शहादत को नमन किया -

Monday, April 6, 2020

उत्तराखंड : मुख्यमंत्री कैम्प कार्यालय में बेहतर समन्वय के लिए बनाया गया कंट्रोल रूम -

Monday, April 6, 2020

पौड़ी : पाबौ में चट्टान से गिरने से महिला की मौत -

Monday, April 6, 2020

जुबिन नौटियाल ने ऑनलाइन शो से कोरोना फाइटर्स को कहा थैंक्यू -

Monday, April 6, 2020

अनूप नौटियाल व डा. दिनेश चौहान रहे कोरोना वाॅरियर -

Monday, April 6, 2020

पहल : देहरादून में 7745 भोजन पैकेट वितरित किये गये -

Sunday, April 5, 2020

सीएम त्रिवेन्द्र ने परिवार संग दीप जला कर हौसला बढाने का दिया सन्देश -

Sunday, April 5, 2020

उत्तराखंड में चार और कोरोना पाॅजीटिव मामले सामने आए, संख्या 26 हुई -

Sunday, April 5, 2020

दुःखद : जंगल की आग में जिंदा जली दो महिलाएं -

Sunday, April 5, 2020

आम आदमी की रसोईः जरूरतमंदों को दे रही भोजन और राशन -

Sunday, April 5, 2020

5 अप्रैल को रात 9 बजे 9 मिनट के लिए अपने घरों में लाईट बंद कर दीपक जलाए : सीएम त्रिवेंद्र -

Saturday, April 4, 2020

लापता व्यक्ति का शव पाषाण देवी के मंदिर पास झील से बरामद हुआ -

Saturday, April 4, 2020

देहरादून : स्वयंसेवी संस्थाओं के सहयोग से 9482 भोजन पैकेट वितरित किये गये -

Saturday, April 4, 2020

उत्तराखंड में कोरोना पॉजिटिव मामलों की संख्या हुई 22 -

Saturday, April 4, 2020

सोशियल पॉलीगोन ग्रुप ऑफ कंपनी ने मुख्यमंत्री राहत कोष में 5 लाख का चेक दिया -

Saturday, April 4, 2020

लॉकडाउन : रचायी जा रही शादी पुलिस ने रुकवाई, 15 लोगों पर मुकदमा दर्ज -

Friday, April 3, 2020

उत्तराखंड : त्रिवेन्द्र सरकार ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए जारी किये 85 करोङ रूपए -

Friday, April 3, 2020

ऋषियों का मूल मंत्र ’तमसो मा ज्योतिर्गमय’ एक अद्भुत आइडियाः स्वामी चिदानन्द सरस्वती -

Friday, April 3, 2020

आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने किया रक्तदान -

Friday, April 3, 2020

लौटाए 4 लाख रुपये, ईमानदारी की मिशाल किया पेश , जानिये खबर

pahal

अहमदाबाद | हार्ट पेशंट प्रेमलता गहलोत के 4 लाख रुपये एक ऑटो रिक्‍शा में छूट गया विदित हो की प्रेमलता गहलोत गुजरात की राजधानी अहमदाबाद राजस्‍थान आईं हुई थी। जिंदगीभर की बचत गंवा देने पर प्रेमलता के होश उड़ गए लेकिन थोड़ी ही देर बाद उनके खुशी का ठिकाना नहीं रहा। ऑटो रिक्‍शा चालक नंजी नयी उनके पास पहुंचे और सारा पैसा लौटा दिया। इस पैसे से प्रेमलता अपने हार्ट का ऑपरेशन कराने वाली थीं। इससे पहले प्रेमलता और उनके पति धर्मनारायण मंगलवार सुबह रानिप एसटी बस डिपो पहुंचे। यहां से उन्‍होंने एक निजी अस्‍पताल के लिए ऑटो रिक्‍शा लिया। इस बुजुर्ग दंपती ने नंजी को थलतेज के किसी सस्‍ते होटेल ले चलने के लिए कहा। थलतेज के नजदीक दोनों लोग नाश्‍ते के लिए उतरे। इसके बाद वे अपने होटल चले गए। इस बीच प्रेमलता अपना पैसों से भरा बैग होटल में ही भूल गईं। प्रेमलता कहती हैं, ‘जब मुझे बैग की याद आई तो दिल बैठ गया। नंजी ने बताया कि उन्‍होंने कभी इतना कैश नहीं देखा था, इसलिए उनका दिल धड़कने लगा। इसके बाद नंजी को याद आया कि बुजुर्ग दंपती का यह पैसा हो सकता है। नंजी अपने बेटे और दामाद के साथ वस्‍तरपुर पुलिस स्‍टेशन पहुंचे जहां बुजुर्ग दंपती पैसे मिलने की आस में बैठे हुए थे। नंजी ने उनका पैसा लौटा दिया। हम ड्राइवर की तलाश में आसपास गए और बाद में वस्‍तरपुर पुलिस स्‍टेशन पहुंचे।’ उधर, नयी जब अपने ऑटो रिक्‍शा की सफाई कर रहे थे, तब उन्‍होंने बैग देखा।’

Leave A Comment