Breaking News:

15 गरीब कन्याओं का कराया सामूहिक विवाह -

Wednesday, February 20, 2019

पौड़ी और अल्मोड़ा में सबसे अधिक पलायन -

Tuesday, February 19, 2019

कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग ने पाकिस्तान व आतंकियों का फूंका पुतला -

Tuesday, February 19, 2019

शहीद मेजर विभूति शंकर ढ़ौडियाल के अंतिम दर्शन में उमड़ा जनसैलाब, सीएम त्रिवेन्द्र पुष्प चक्र अर्पित कर दी श्रद्धांजलि -

Tuesday, February 19, 2019

भारत को वर्ल्ड कप में पाकिस्तान के खिलाफ नहीं खेलना चाहिए: हरभजन -

Tuesday, February 19, 2019

फिल्‍म ‘नोटबुक’ से सलमान खान ने रिप्‍लेस किया सिंगर आतिफ असलम को -

Tuesday, February 19, 2019

त्रिवेंद्र सरकार ने पेश किया 48663.90 करोड़ रु का बजट -

Monday, February 18, 2019

समावेशी विकास को समर्पित है बजट-मुख्यमंत्री -

Monday, February 18, 2019

मुख्यमंत्री ने की प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना की समीक्षा -

Monday, February 18, 2019

मोहाली स्टेडियम से पंजाब क्रिकेट संघ ने हटावाईं पाकिस्तानी क्रिकेटरों की तस्वीरें -

Monday, February 18, 2019

तुलाज इंस्टीट्यूट में मनाया गया अमौर -

Monday, February 18, 2019

द न्यू देवतास का बुक डब्लूआईसी इंडिया में हुआ लॉन्च -

Monday, February 18, 2019

मैड ने चलाया अभियान, गंदी दीवारों का किया कायाकल्प -

Monday, February 18, 2019

देहरादून के लिए मिस्टर एंड मिस फैशन आइकॉन ऑडिशन का आयोजन -

Monday, February 18, 2019

वेब मीडिया एसोसिएशन उत्तराखंड प्रदेश कार्यकारणी ने वरिष्ठ पत्रकार चन्द्रशेखर जोशी का किया स्वागत -

Sunday, February 17, 2019

कार्तिक आर्यन ने ठुकराई ,10 करोड़ की फिल्म का ऑफर -

Sunday, February 17, 2019

शहीद मेजर चित्रेश बिष्ट का पार्थिव शरीर पहुंचा देहरादून -

Sunday, February 17, 2019

उत्तराखण्ड : साहसिक पर्यटन स्थल पर्यटकों के आकर्षण का बना केन्द्र -

Sunday, February 17, 2019

आईएफएसएमएन उत्तराखण्ड प्रदेश कार्यकारणी हुआ गठन -

Sunday, February 17, 2019

भाजपा नेता नरेश बंसल जहरीली शराब के कारण मृत लोगो के परिजनों से की भेंट -

Sunday, February 17, 2019

वन्यजीवों द्वारा मानव क्षति पर मुआवजे की राशि में हुई बढ़ोतरी जानिए ख़बर

uk 2018

प्रदेश में वन्यजीवों द्वारा मानव क्षति पर मुआवजे की राशि को बढ़ा दिया गया है। मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत की अध्यक्षता में सम्पन्न उत्तराखण्ड राज्य वन्य जीव बोर्ड की बैठक में यह निर्णय लिया गया। वन्य जीवों द्वारा मारे जाने पर मुआवजे की राशि को 3 लाख रूपए से बढ़ाकर 5 लाख रूपए जबकि गम्भीर रूप से घायल को मुआवजा राशि 50 हजार रूपए से बढ़ाकर 2 लाख रूपए किया गया है। राष्ट्रीय पार्कों से विस्थापित किए जाने वालों को अन्यत्र बसाए गए स्थान पर भूमिधरी अधिकार दिए जाने पर भी सैद्धान्तिक सहमति जताई गई। केबिनेट में इसके लिए प्रस्ताव लाया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि वनों के प्रबंधन में स्थानीय लोगों की भागीदारी सुनिश्चित की जानी चाहिए। वनों के संरक्षण के लिए ग्रामीणों का सहयोग जरूरी है। वनों का संरक्षण भी हो और स्थानीय ग्रामीण इनसे आजीविका भी प्राप्त कर सकें इसके लिए ग्रीन टूरिज्म की कन्सेप्ट पर काम किया जाए। कार्बेट के बफर जोन व रामनगर वन प्रभाग में हाथी सफारी को भी अनुमति दी गई। यह भी तय किया गया कि राजाजी टाईगर रिजर्व में पर्यटन से होने वाली आय का 100 फीसदी राजाजी टाईगर रिजर्व कंजरवेशन फाउंडेशन के कोष में जमा किया जाएगा। इसका कुछ भाग सामुदायिक गतिविधियों में प्रयोग किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि साल में एक बार होने वाली उत्तराखण्ड राज्य वन्य जीव बोर्ड की बैठक हर 6 माह में आयोजित की जाए। इसमें प्रस्तुत किए जाने वाले बिंदुओं के साथ विस्तृत रिपोर्ट भी संलग्न होनी चाहिए। यदि कोई मामला जनता से जुड़ा हो तो बोर्ड की बैठक में प्रस्तुत करने से पहले यह भी अध्ययन करा लिया जाए कि इससे सम्भावित लाभ व हानि क्याक्या हैं। आरक्षित वन और टाईगर रिजर्व के बफर जोन में एंगलिंग का परमिट नहीं दिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि वन विभाग द्वारा जिन पर्वतारोही दलों को अनुमति दी जाती है उसकी सूचना पुलिस को भी दी जाए। ताकि किसी आकस्मिक स्थिति में फंसे पर्वतारोहियों को बचाया जा सके। वन मंत्री डाॅ. हरक सिंह रावत ने कंडी मार्ग पर आवश्यक औपचारिकताएं जल्द पूरी किए जाने पर बल दिया। उन्होंने कहा कि गढ़वाल की कुमायूं से कनेक्टीवीटी में यह बहुत महत्वपूर्ण मार्ग है। इसके बनने से गढ़वाल से कुमायूं के लिए सीधा सम्पर्क मार्ग बनेगा और इससे यात्रावधि में लगभग 3 घंटे की कमी आएगी। उनके निर्देश पर बैठक में वाईल्ड लाईफ इंस्टीट्यूट आॅफ इंडिया द्वारा प्रस्तावित कंडी मार्ग पर किए गए फिजीबिलिटी सर्वे का प्रस्तुतिकरण किया गया। उनके सुझाव पर कंडी मार्ग के संबंध में एक कार्यकारी समिति बनाने का निर्णय किया गया। बैठक में विधायक श्री दीवान सिंह बिष्ट, श्री सुरेश राठौर, मुख्य सचिव श्री उत्पल कुमार सिंह, अपर मुख्य सचिव डाॅ. रणबीर सिंह, प्रमुख वन संरक्षक डाॅ. वी.एस. खाती, श्री जयराज, सहित बोर्ड के अन्य सदस्य उपस्थित थे।

Leave A Comment