Breaking News:

अधिकारियों व कार्मिकों को निरन्तर प्रशिक्षण की जरूरत , जानिए खबर -

Tuesday, December 11, 2018

एनआईटी मामला : हाईकोर्ट ने राज्य,एनआईटी और केंद्र सरकार को जवाब दाखिल करने को कहा -

Tuesday, December 11, 2018

जनसंपर्क और मीडिया लोक कल्याणकारी राज्य की प्रमुख विशेषता : राज्यपाल -

Monday, December 10, 2018

मानव अधिकार दिवस : इस वर्ष 2090 वाद में से 1434 वाद निस्तारित -

Monday, December 10, 2018

एकता कपूर व माही गिल गंगाआरती में हुए शामिल -

Monday, December 10, 2018

एकता कपूर और जितेंद्र हरिद्वार में करेंगे महाआरती , जानिए खबर -

Monday, December 10, 2018

पहल : एक साथ विवाह बंधन में बंधे 21 जोड़े -

Monday, December 10, 2018

सीएम ने की विभिन्न निर्माण कार्यों का शिलान्यास, जानिए खबर -

Sunday, December 9, 2018

पौराणिक मेले हमारी पहचान : सीएम त्रिवेंद्र -

Sunday, December 9, 2018

मैड और एनसीसी की टीम ने रिस्पना को किया साफ़ -

Sunday, December 9, 2018

राष्ट्रीय जनसंपर्क सम्मेलन : हिमालय और गंगा राष्ट्र का गौरव -

Sunday, December 9, 2018

दून नगर निगम बढ़ाएगा हाउस टैक्स, जानिए खबर -

Sunday, December 9, 2018

आईएमए पीओपीः 347 कैडेट बने भारतीय सेना का हिस्सा -

Saturday, December 8, 2018

सीएम त्रिवेंद्र 40वें आॅल इण्डिया पब्लिक रिलेशन्स काॅन्फ्रेंस का किया शुभारम्भ -

Saturday, December 8, 2018

कर्ज से परेशान किसान ने की आत्महत्या की कोशिश, हालत गंभीर -

Saturday, December 8, 2018

सीएम त्रिवेंद्र किये कई घोषणाएं , जानिए खबर -

Saturday, December 8, 2018

‘केदारनाथ’ फिल्म के नाम से ऐतराज: सतपाल महाराज -

Saturday, December 8, 2018

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र करेंगे राष्ट्रीय जनसंपर्क सम्मेलन का शुभारंभ -

Friday, December 7, 2018

सीएम एप ने दिलाई गरीब परिवारों को धुएं से मुक्ति, जानिए खबर -

Friday, December 7, 2018

गावस्कर : विराट नहीं भारत के ओपनर करेंगे सीरीज का फैसला -

Friday, December 7, 2018

वित्त मंत्री ने योजनाओं के लिए मांगे 3435 करोड़ की धनराशि

news-uk

नई दिल्ली | प्रदेश के संसदीय कार्य एवं वित्त मंत्री प्रकाश पन्त ने नई दिल्ली में केन्द्रीय वित्त मंत्री अरूण जेटली जी से मुलाकात कर राज्य में केन्द्र सरकार द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं की प्रगति/वस्तुस्थिति एवं धनावंटन के सम्बन्ध में चर्चा की। साथ ही राज्य की सीमित आय के संसाधनों, विषम भौगोलिक परिस्थिति एवं योजनाओं के ससमय पूर्ण कराने के दृष्टिगत विशेष सहयोग करते हुये वित्तीय वर्ष 2016-17 एवं वित्तीय वर्ष 2017-18 से सम्बन्धित विभिन्न योजनाओं की अवशेष 3435.64 करोड़ की धनराशि यथाशीघ्र उपलब्ध कराने का अनुरोध किया। वर्तमान में राज्य में आईसीडीएस, विद्यालयी शिक्षा, उच्च शिक्षा, ऊर्जा, खेल, सिंचाई एवं लघु सिंचाई की विभिन्न योजनायें यथा-किशोरी शक्ति योजना, सबला, सर्व शिक्षा अभियान, राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान, मिड-डे मील, दीन दयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना, पीएमकेएसवाई, सैन्ट्रल स्पोन्सर्ड स्कीम आॅफ टीचर एजुकेशन आदि संचालित हैं तथा इन योजनाओं से सम्बन्धित धनावंटन अपेक्षित है। इसके अतिरिक्त विषम परिस्थितियों को दृष्टिगत रखते हुये ई-वे बिल की वैधता 100 कि0मी0/दिन के स्थान पर 50 कि0मी0/दिन करने, कारोबार के स्थान से परिवहनकर्ता के स्थान तक अग्रेत्तर परिवहन के लिये दूरी 10 कि0मी0 के स्थान पर 25 कि0मी0 करने, ई-वे बिल तैयार करने हेतु एच0एस0एन0 कोड की अनिवार्यता, नियत तिथि से पश्चात भी जी0एस0टी0आर-1 दाखिल करने की अनुमन्यता तथा जीएसटीआर-3बी में सुधार हेतु वन टाइम रिवीजन की सुविधा प्रदान कराने आदि विभिन्न मामलों पर चर्चा/वार्ता की। केन्द्रीय वित्त मंत्री के कार्यालय में हुई यह वार्ता काफी सकारात्मक रही तथा अरूण जेटली जी द्वारा उत्तराखण्ड के वित्त मंत्री प्रकाश पन्त को उनके द्वारा उठाये गये बिन्दुओं एवं राज्य में संचालित केन्द्र सरकार की योजनाओं के त्वरित क्रियान्वयन हेतु उचित सहयोग प्रदान करने का आश्वासन दिया। प्रकाश पन्त ने अवगत कराया कि वे अगले दो दिन भी दिल्ली में हैं तथा उनका अन्य मा0 केन्द्रीय मंत्रीगण से भी भेंट करने का कार्यक्रम है।

Leave A Comment