Breaking News:

बुजुर्गो से ठगी करने वाला गिरफ्तार , जानिए खबर -

Tuesday, November 12, 2019

फीस वृद्धि के खिलाफ आयुष छात्रों का आंदोलन जारी -

Tuesday, November 12, 2019

धूमधाम से मनाया गया 550वां प्रकाशोत्सव -

Tuesday, November 12, 2019

पिथौरागढ़ में भूकंप के झटके, जानिए खबर -

Tuesday, November 12, 2019

बचपन की कुछ बातें और उनसे जुडी कुछ यादें….. -

Tuesday, November 12, 2019

प्रकाशपर्व: मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र ने मत्था टेक प्रदेश की खुशहाली की कामना की -

Tuesday, November 12, 2019

उत्तराखण्ड: सीएम को फोन पर धमकी देने वाला आरोपी गिरफ्तार -

Monday, November 11, 2019

छात्रो ने फैशन शो में पेश किया नया क्लेक्शन -

Monday, November 11, 2019

पौड़ी के विकास में सीता माता सर्किट होगा मील का पत्थर साबित : सीएम -

Monday, November 11, 2019

सिन्मिट कम्युनिकेशन्स द्वारा मिस टैलेंटेड का आयोजन -

Monday, November 11, 2019

सीएम त्रिवेंद्र 550वें प्रकाश उत्सव एवं कार्तिक पूर्णिमा पर प्रदेशवासियों को दी शुभकामनाएं -

Monday, November 11, 2019

शहर के इस हालात पर अवैध टैक्सी स्टैंड जिम्मेदार, जानिए खबर -

Sunday, November 10, 2019

एक दिसम्बर को केंद्रीय कूर्मांचल परिषद का द्विवार्षिक चुनाव -

Sunday, November 10, 2019

सीएम त्रिवेंद्र ने फिल्म “शुभ निकाह” का मुहूर्त शॉट लिया -

Sunday, November 10, 2019

पौड़ी सांसद तीरथ सिंह रावत घायल, ऋषिकेश एम्स में भर्ती -

Sunday, November 10, 2019

डीएम सविन बंसल की एक पहलः स्कूूली बच्चों को सिखा रहे चित्रकारी -

Sunday, November 10, 2019

रास्ते में पड़े सिंगल यूज प्लास्टिक को भी उठाएं: सीएम त्रिवेंद्र -

Sunday, November 10, 2019

IPL-2020 : तीन नए शहर होगे सकते है शामिल , जानिए खबर -

Saturday, November 9, 2019

उत्तराखंड सैन्यधाम और विद्याधाम भी : रक्षामंत्री राजनाथ सिंह -

Saturday, November 9, 2019

आयुष्मान की सबसे बड़ी ओपनर बनी ‘बाला’, जानिए खबर -

Saturday, November 9, 2019

वैज्ञानिकों ने प्लास्टिक नष्ट कराने वाला एन्जाइम बनाया जानिए ख़बर…

आज विश्व की सबसे बड़ी पर्यावरण संबंधी समस्या प्रदूषण है प्रदूषण एक बहुत बड़ी समस्या बन गई है. प्रदूषण का एक अहम कारण प्लास्टिक है जो अमूमन नष्ट नहीं किया जा सकता है. लेकिन अब कुछ वैज्ञानिकों का दावा है कि उन्होंने एक ऐसा एन्जाइम बनाया है जो प्लास्टिक को नष्ट करने में सक्षम है. विश्व की सबसे बड़ी पर्यावरण संबंधी समस्या के हल की दिशा में ये प्रगति महत्वपूर्ण साबित हो सकती है. इस एन्जाइम के विकास से पॉलीथीन टेरिफ्थेलैट से बने करोड़ों टन बोतलों का रिसाइकिल मुमकिन हो सकता है. अमेरिका के पोर्ट्समाउथ विश्वविद्यालय एवं ऊर्जा मंत्रालय के राष्ट्रीय अक्षय ऊर्जा प्रयोगशाला (एनआरईएल) के अनुसंधानकर्ताओं ने पीईटीएस एन्जाइम की संरचना का अध्ययन किया. थ्रीडी जानकारी की मदद से उसकी कार्यप्रणाली को समझने का प्रयत्न किया. हाल में विकसित ये एन्जाइम पीईटी को नष्ट करने में सक्षम बताया जा रहा है. इन वैज्ञानिकों ने अनजाने में इस एन्जाइम की खोज में सफलता हासिल की है. हमारे जल स्रोतों, मिट्टी और प्राकृतिक नज़ारों को तेज़ी के साथ दूषित करने के लिए अकेले प्लास्टिक ही ज़िम्मेदार है. एक बार उपयोग वाले प्लास्टिक उत्पाद जैसे कि डिस्पोजेबल स्ट्रॉ, कप और प्लेट्स, सब्जी और फल बेचने वालों द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले प्लास्टिक बैग्स भारत में प्रदूषण का सबसे बड़ा स्रोत है. इन प्लास्टिक उत्पादों को रिसाइकिल नहीं किया जा सकता है.

Leave A Comment