Breaking News:

गैरसैण बनेगी ई-विधानसभा : सीएम त्रिवेंद्र -

Friday, June 5, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1215 , ठीक हुए मरीजो की संख्या हुई 344 -

Friday, June 5, 2020

“उत्तराखंड की शान भैजी विरेन्द्र सिंह रावत” ऑडियो वीडियो का हुआ शुभारम्भ -

Friday, June 5, 2020

डेंगू से बचाव के लिए जागरूकता जरूरी -

Friday, June 5, 2020

कोरोना से बचे : कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1199, देहरादून में 15 नए मामले मिले -

Friday, June 5, 2020

7 जून से “एसपीओ” द्वारा राष्ट्रीय ऑनलाइन योगा प्रतियोगिता का आयोजन -

Friday, June 5, 2020

उत्तराखंड : 10वीं च 12वीं की शेष परीक्षाएं 25 जून से पहले होंगी -

Friday, June 5, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1153 आज 68 नए मरीज मिले -

Thursday, June 4, 2020

पांच जून को अधिकांश जगह बारिश की संभावना -

Thursday, June 4, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1145 -

Thursday, June 4, 2020

जागरूकता और सख्ती पर विशेष ध्यान हो : सीएम त्रिवेंद्र -

Thursday, June 4, 2020

दुःखद : बॉलीवुड कास्टिंग निदेशक का निधन -

Thursday, June 4, 2020

वक्त का फेर : चैम्पियन तीरंदाज सड़क पर बेच रही सब्जी -

Thursday, June 4, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या 1085 हुई , 42 नए मरीज मिले -

Wednesday, June 3, 2020

अभिनेत्री ने जहर खाकर की खुदकुशी, जानिए खबर -

Wednesday, June 3, 2020

मुझे बदनाम करने की साजिश : फुटबॉल कोच विरेन्द्र सिंह रावत -

Wednesday, June 3, 2020

मोदी 2.0 : पहले साल लिए गए कई ऐतिहासिक निर्णय -

Wednesday, June 3, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या 1066 हुई -

Wednesday, June 3, 2020

सराहनीय पहल : एक ट्वीट से अपनों के बीच घर पहुंचा मानसिक दिव्यांग मनोज -

Tuesday, June 2, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1043 -

Tuesday, June 2, 2020

व्यापार एप्प अब हिन्दी में भी उपलब्ध, जानिए खबर

देहरादून । व्यापार, जोकि एक सिम्प्लीफाइड और फ्री बिजनेस अकाउंटिंग सॉफ्टवेयर है, ने अपने एप्प पर हिन्दी में रीजनल यूजर इंटरफेस के साथ टेक्नो्लॉजी में भाषा के अंतर को दूर किया है। यह लघु और मध्यम व्यावसायों को भाषा की सीमाओं के बिना बिजनेस अकाउंटिंग जरूरतों पर अधिक फोकस करने में सक्षम बनाता है। एप्प को भारत में छोटे व्यावसायों के लिये डिजाइन किया गया है, ताकि बिजनेस अकाउंटिंग और जीएसटी अनुपालन की जटिलताओं को दूर किया जा सके। एसएमबी की विविध जरूरतों को ध्यांन में रखते हुये यह एप्प हिन्दी में उपलब्ध है। इसका लक्ष्य उस समुदाय को सशक्त बनाना है, जो अंग्रेजी में बातचीत नहीं कर सकता और उनके लिये बिजनेस की दैनिक देखभाल और प्रबंधन को आसान बनाता है। भारत में व्यांपार एकमात्र मोबाइल बिलिंग, इंवेंटरी और जीएसटी सॉल्यूशन है, जो हिन्दीं में उपलब्ध। है। सुमित अग्रवाल, सह-संस्थापक, व्यापार एप्प ने कहा, ‘‘भारत में अधिकतर बिजनेस इंटरनेट यूजर गैर-अंग्रेजी भाषी लोग हैं। ऐसे में हमें लगता है कि अधिकतर भारतीय एसएमबी को उनका डिजिटल सफर शुरू करने के लिये एक माध्यम उपलब्ध कराने की जरूरत है। स्थानीयकरण समय की जरूरत है, खासतौर से अत्यधिक विकसित होते बाजारों पर काबिज होने के लिये।

Leave A Comment