Breaking News:

नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी दिखेंगे 25 साल के यंग अवतार में ,जानिए खबर -

Thursday, January 24, 2019

केदारनाथ धाम में सात फीट तक हुई बर्फवारी -

Thursday, January 24, 2019

“तुम मुझे खून दो, मै तुम्हे आजादी दूँगा ” के नारों से गुजा आसमाँ -

Thursday, January 24, 2019

डीएम व एसएसपी ने गणतंत्र दिवस पर परेड मैदान का निरीक्षण किया -

Wednesday, January 23, 2019

बर्फ गलाकर पानी पीने को मजबूर , जानिए खबर -

Wednesday, January 23, 2019

जनता से जुड़े मामलों को शीर्ष प्राथमिकता दी जाये : सीएम त्रिवेन्द्र -

Wednesday, January 23, 2019

फिल्‍ममेकर प्रदीप शर्मा के बेटे प्रियांक शर्मा करने जा रहे है फिल्‍म डेब्‍यू -

Wednesday, January 23, 2019

सीएमएस में अपोलो-मेडिक्स ने सैनेटरी नैपकिन वेंडिंग मशीन लगाई -

Wednesday, January 23, 2019

सड़क किनारे भूख से तड़प रही दिव्यांग बुजुर्ग को कॉन्स्टेबल ने खिलाया खाना, जानिए खबर -

Wednesday, January 23, 2019

गोरखा कल्याण परिषद हो शीघ्र गठन : पदम सिंह थापा -

Wednesday, January 23, 2019

15वें प्रवासी भारतीय दिवस सत्र का पीएम मोदी ने किया शुभारम्भ -

Tuesday, January 22, 2019

गति फाउंडेशन ने जारी की स्वच्छता सर्वेक्षण पर रिपोर्ट -

Tuesday, January 22, 2019

मसूरी में सीजन का पहला हिमपात , जानिए ख़बर -

Tuesday, January 22, 2019

दो फरवरी को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह दून में -

Tuesday, January 22, 2019

उत्तराखंड यूथ फेस्टिवल के लिए आयोजित हुआ ऑडिशन -

Tuesday, January 22, 2019

23 जनवरी को युवा कांग्रेस की क्रांति यात्रा पहुँचेगी दून -

Tuesday, January 22, 2019

मानव विकास में देहरादून प्रथम, जानिए ख़बर -

Monday, January 21, 2019

सीएम त्रिवेन्द्र प्रयागराज कुंभ पर्व में हुए सम्मिलित -

Monday, January 21, 2019

नेत्रदान के लिए गांव ने फैलाई जागरूकता, जानिए खबर -

Monday, January 21, 2019

रिलीज़ हुआ फिल्म ‘टोटल धमाल’ का मजेदार ट्रेलर -

Monday, January 21, 2019

शासन ने मारी महिला हैल्पलाइन के ढांचे पर कुंडली

HELPLINEदेहरादून। शासन की महिलाओ की सुरक्षा के प्रति कितनी संवेदनशीलता है इस बात का इससे ही पता चलता है कि प्रदेशभर में बढ़ रहे महिला उत्पीड़न के मामलों को दरकिनार कर राज्य शासन प्रदेश में स्थापित महिला हैल्पलाइन के स्वीकृत ढांचे के अनुरूप भर्तियों के प्रस्ताव पर दो साल से कुंडली मारे बैठा है । दिल्ली में 2012 में हुए सामूहिक बलात्कार कांड के बाद उत्तराखंड में भी पुलिस मुख्यालय तथा जिलों में महिला हैल्पलाइन स्थापित की गई थी । इसमें महिलाओं से संबंधित घरेलू हिंसाए छेडछाड और अन्य लैंगिक अपराधो को लेकर पुलिस मुख्यालय में टोल फ्री नंबर 18001804111 पर फोन करके अथवा मोबाइल नंबर 9411112780 पर एसएमएस करके सूचना दी जा सकती है । सूचना मिलते ही पुलिस त्वरित कार्रवाई करती है । इसके अलावा जिला स्तर पर भी मुपफ्त पफोन नंबर 1090 पर सूचना पंजीकृत कराई जा सकती है । आंकडे बताते हैं कि जनवरी से 31 मई 2016 तक इस प्रकार के पुलिस मुख्यालय तथा जिला स्तर तक 2104 शिकायतें दर्ज कराई गई है जिनमें से नौ पुलिस प्राथमिकियां दर्ज की गई । राज्य महिला सुरक्षा हैल्पलाइन प्रभारी अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ममता बोहरा के अनुसार अधिकांश मामलों में त्वरित कार्रवाई की गई है जबकि 81 शिकायतों पर काम किया जा रहा है । इससे पहले वर्ष 2015 में इस तरह की कुल 5580 शिकायतें दर्ज की गई थी जिनमें से 12 में पुलिस प्राथमिकी दर्ज की गई थी । जबकि वर्ष 2014 में यह संख्या 6941 थी जिनमें 53 पुलिस प्राथमिकी दर्ज की गई थी । यही नही, महिलाओं के प्रति अपराधें की रोकथाम को बनाये गये इस तंत्र का दुरूपयोग भी कम नही हो रहा है । शरारती तत्वों ने इन नंबरों पर 32 पफोन ओैर एसएमएस करके 2013 में गलत सूचनायें देकर पहले से ही काम की अध्किता से जूझ रही हैल्पलाइन का समय और ऊर्जा बर्बाद की जबकि 2014 में ऐसी 65 और 2015 में एक पफर्जी काल की। इस साल भी अभी तक तीन ऐसी काल आ चुकी हैं ।

Leave A Comment