Breaking News:

उत्तराखंड: आज कोरोना का महा कहर , दो हज़ार से अधिक मरीज मिले जानिए खबर -

Saturday, September 19, 2020

हर स्थिति के साथ बढ़ती गयी हिम्मत : नमन भारद्वाज -

Saturday, September 19, 2020

जरा हटके : कोरोना मरीजो के मनोरंजन के लिए गीत संगीत का आयोजन -

Saturday, September 19, 2020

उत्तराखंड की जेलों में बड़ी संख्या में गंभीर रोगी हैैं केैद, जानिए खबर -

Saturday, September 19, 2020

देहरादून : होम आईसोलेशन के लिए जिला सर्विलांस अधिकारी से अनुमति प्राप्त करना अनिवार्यः डीएम -

Saturday, September 19, 2020

कोरोना योद्धा हुए सम्मानित, जानिए खबर -

Friday, September 18, 2020

उत्तराखंड: प्रदेश में कोरोना मरीजो की संख्या 38 हज़ार पार , जानिए खबर -

Friday, September 18, 2020

जनता से किए 85 फीसदी वायदे किये पूरे : सीएम त्रिवेंद्र -

Friday, September 18, 2020

किस अभिनेत्री ने कही यह बात , मेरा मीडिया ट्रायल ना किया जाए -

Friday, September 18, 2020

एसबीआई : एटीएम से दस हज़ार से अधिक की राशि निकालने पर यह नियम लागू, जानिए खबर -

Friday, September 18, 2020

उत्तराखंड: प्रदेश में कोरोना मरीजो की संख्या पहुँची 37139 , जानिए खबर -

Thursday, September 17, 2020

कैबिनेट बैठक : सरकार ने व्यावसायिक वाहनों के टैक्स में छूट तीन माह तक बढ़ाया -

Thursday, September 17, 2020

कुपोषण मुक्त बच्चों के अभिभावकों को सीएम त्रिवेंद्र ने किया सम्मानित -

Thursday, September 17, 2020

शिकागो के अर्थशास्त्री राज साह ने भेंट की स्मृति पट्टिका, जानिए खबर -

Thursday, September 17, 2020

भारत : देश मे कोरोना मरीजो की संख्या पहुँची 50 लाख के पार, जानिए खबर -

Thursday, September 17, 2020

सीएम त्रिवेंद्र ने पीएम नरेन्द्र मोदी को उनके जन्मदिन पर दी बधाई -

Thursday, September 17, 2020

नेक कार्य : लावारिस अस्थियों को मां गंगा में पूर्ण वैदिक विधि विधान से किया विसर्जित -

Thursday, September 17, 2020

“राजयोग में साइलेंस की शक्ति और डिप्रेशन से मुक्ति’’ पुस्तक का सीएम त्रिवेंद्र ने किया लोकार्पण -

Wednesday, September 16, 2020

उत्तराखंड: प्रदेश में आज 1540 नए कोरोना मरीज मिले , जानिए खबर -

Wednesday, September 16, 2020

सेवा सप्ताह कार्यक्रम : रक्तदान शिविर का हुआ आयोजन -

Wednesday, September 16, 2020

संकट से गुजर रही कम्पनियो के लिए “पीआर” संजीवनी …..

 

देहरादून। जब भी कोई व्यक्ति अपना व्यवसाय शुरू करता है तो उसका सबसे बड़ा चैलेंज होता है लोगों तक उस व्यवसाय की जानकारी पहुँचना और वह भी कम खर्च में। इसके लिए उसके बहुत सी बातों का अनुमान लगाना होता है कि जैसे कि वह कौन सा ऐसा तरीका अपनाए जिससे कि वह कम समय से ज्यादा माध्यमों से लोगों तक पहुँच सके और वह तरीका इतना भरोसे मंद हो कि लोग उसे हाथों हाथ ले लें। यहीं नहीं ऐसे समय में जब कि प्रजिस्पर्धा का जमाना है तो लोग आपकी छवि को भी क्षति पहुंचाने की कोशिश कर सकते है वहां पर भी ऐसा क्या माध्यम है जो अपने काम आ सका है। चाहे वह लोगों के बीच अपने व्यवसाय की छवि को बदलना हो या अपने व्यवसाय को हानि से बचाने के लिए तैयार करना हो, जनसंपर्क हमेशा आपके लिए वह माध्यम है जिस पर लोग भरोसा कर सकते है। पीआर के बारे में बात करते हुए राज कम्युनिकेशन पब्लिक रिलेशन कंपनी के संस्थापक राज छाबड़ा कहते हैं कि, “पीआर क्षेत्र बहुत विशाल है। कोई भी कंपनी जब एक निश्चित संकट से गुजर रही होती है, तो उसके लिए विशेष रूप से पीआर का समर्थन बहुत आवश्यक हो जाता है। किसी भी कंपनी को सफलता हासिल करने में कई कई बार कई साल लग जाते हैं, लेकिन एक पल ही इन सालों की मेहनत और नाम को बर्बाद कर देता है। ऐसे समय में पीआर ही है जो किसी कंपनी को उसके नुकसान से बाहर निकालने में मदद करता है। वर्तमान में मीडिया ने दुनिया भर में अपनी जड़ें फैला ली हैं। एक शहर से दूसरे शहर तक पलक झपकते ही समाचारों का आदान-प्रदान होता है। जब कोई ब्रांड देश के एक हिस्से में नकारात्मक प्रचार का सामना करता है तो यह दुनिया के हर हिस्से में जंगल की आग की तरह फैलता है। यह पीआर है जो क्रमिक रूप से इस नकारात्मक प्रचार पर पैनी नजर रखने की क्षमता रखता है, मीडिया से सामंजस्य बनाकर सकारात्मक जानकारी देता है।

Leave A Comment