Breaking News:

जरा हट के : महिलाओं को दिया जा रहा ऐपण आर्ट का प्रशिक्षण -

Thursday, November 21, 2019

अवैध निर्माणों पर एमडीडीए हुआ सख्त, जानिए खबर -

Thursday, November 21, 2019

शूट की जा रही फिल्म ‘‘सौम्या गणेश‘‘ का सीएम त्रिवेंद्र ने मुहूर्त शॉट लिया -

Thursday, November 21, 2019

गोवा : अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव का शुभारंभ, विशेष सत्र में उत्तराखंड को स्थान -

Wednesday, November 20, 2019

शिक्षकों की कमी से प्रभावित हो रही छात्रों की पढ़ाई, जानिए खबर -

Wednesday, November 20, 2019

सिपाही को ट्रैक्टर से कुचलने वाले आरोपी चालक गिरफ्तार -

Wednesday, November 20, 2019

मिस रेडिएंट स्किन और मिस ब्यूटीफुल हेयर उप प्रतियोगिताओं का आयोजन, जानिए खबर -

Wednesday, November 20, 2019

कोटद्वार में मुख्यमंत्री ने मुस्लिम योग शिविर का किया उद्घाटन -

Wednesday, November 20, 2019

उत्तराखंड : महसूस हुए भूकंप के झटके -

Tuesday, November 19, 2019

उत्तराखण्ड : समाज कल्याण विभाग के संयुक्त निदेशक गीताराम नौटियाल निलंबित -

Tuesday, November 19, 2019

मैट्रो से नही दून-ऋषिकेश व हरिद्वार को मिनी मैट्रो से जोड़ा जायेगा -

Tuesday, November 19, 2019

भोजपुरी फिल्म प्रोड्यूसर एवं फिल्म निर्देशक सीएम से की भेंट -

Tuesday, November 19, 2019

केदारनाथ परिसर में बनेगा भगवान शिव की पुरातात्विक महत्व की प्रतिमाओं का नया संग्रहालय, जानिए खबर -

Tuesday, November 19, 2019

कांग्रेस बागी विधायकों के लिए फिर दरवाजे खोलने को तैयार ! -

Monday, November 18, 2019

सीएम ने स्वच्छ कॉलोनी के पुरस्कार से किया सम्मानित, जानिए खबर -

Monday, November 18, 2019

पर्वतीय क्षेत्रों में 500 उपभोक्ता पर एक मीटर रीडर हो ,जानिए खबर -

Monday, November 18, 2019

ईरान एवं भारत में है गहरा सांस्कृतिक सम्बन्धः डॉ पण्ड्या -

Monday, November 18, 2019

गांधी पार्क में ओपन जिम का सीएम त्रिवेंद्र ने किया लोकार्पण -

Monday, November 18, 2019

स्मार्ट सिटी हेतु 575 करोड़ रूपए के कामों का हुआ शिलान्यास, जानिए खबर -

Sunday, November 17, 2019

मिसेज दून दिवा सेशन-2 के फिनाले में पहुंचे राहुल रॉय , जानिए खबर -

Sunday, November 17, 2019

संसद के बजट सत्र का दूसरा चरण शुरू, विपक्ष सरकार को घेरने के मूड में

Sansad Bhawan

आज से संसद के बजट सत्र का दूसरा चरण शुरू होने जा रहा है। अब तक के जो सियासी संकेत और संदेश हैं, उस हिसाब से यह मोदी सरकार के 4 साल का सबसे ज्यादा घमासानवाला सत्र साबित हो सकता है। इस सत्र में जहां विपक्ष सरकार पर पहली बार हर तरह से हमला करने के मूड में है तो मोदी सरकार ने भी पलटवार करने की तैयारी कर ली है। साथ ही इस सत्र में विपक्षी एकता की भी परीक्षा होने वाली है। नीरव मोदी और पीएनबी घोटाले के मुद्दे पर विपक्ष मोदी सरकार को घेरने के लिए कमर कस चुका है। विपक्ष इसे मोदी सरकार के सबसे बड़े घोटाले के रूप में पेश करेगा। इसके अलावा राफेल डील पर भी विपक्ष हंगामा करेगा। हालांकि सत्र से पहले ही विपक्ष में पीएनबी घोटाले की जांच को लेकर दरार उभर चुकी है। कांग्रेस ने जहां जेपीसी गठन की मांग की थी, वहीं टीएमसी सहित कुछ विपक्षी दलों ने इससे किनारा कर लिया था। सचिन तेंडुलकर और रेखा के लिए भी यह अंतिम संसद सत्र होगा। दोनों का टर्म अप्रैल में खत्म हो रहा है। दोनों ने संसद में अब तक एक भी मामले पर अपनी राय नहीं पेश की, न ही किसी बहस में शामिल हुए। हालांकि पिछली बार सचिन तेंडुलकर जरूर स्पोर्ट्स बिल पर बोलने के लिए उठे थे लेकिन हंगामे के कारण वह बोल नहीं सके थे। त्रिपुरा में ऐतिहासिक जीत हासिल करने के बाद बीजेपी भी विपक्ष पर पलटवार करने के मूड में है। करप्शन पर विपक्ष के हमले का जवाब पार्टी कार्ति चिदंबरम की गिरफ्तारी के साथ देगी। साथ ही सरकार करप्शन से जुड़े 3 बिल भी इस सत्र में पेश करने की तैयारी में है। सरकार तीन तलाक और ओबीसी बिल को किसी भी सूरत में इस सत्र में पास कराने की कोशिश करेगी। बीजेपी को उम्मीद है कि दोनों बिलों से उसे सियासी लाभ हो सकता है। ध्यान हो कि तीन तलाक से जुड़े बिल में एक बार में तीन तलाक कहने वाले पति को जेल की सजा का प्रावधान है। यह बिल अपने आप में विवाद का विषय बना हुआ है। बीजेपी पहले ही यह स्पष्ट कर चुकी है कि वह इस बिल को बिना संशोधन संसद की मंजूरी दिलवाएगी जबकि कांग्रेस सहित कई विपक्षी दल इसमें संशोधन की मांग कर रहे हैं।

Leave A Comment