Breaking News:

श्री विश्वनाथ मां जगदीशिला डोली के आयोजन स्थलों पर पौधारोपण होगा : नैथानी -

Friday, May 29, 2020

हरेला पर 16 जुलाई को वृहद स्तर पर पौधारोपण किया जाएगाः सीएम -

Friday, May 29, 2020

छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी का निधन -

Friday, May 29, 2020

ज्योतिषी बेजन दारूवाला का निधन -

Friday, May 29, 2020

ब्लैकमेल : न्यूज़ पोर्टल संचालक हुआ गिरफ्तार -

Friday, May 29, 2020

कोरोना का कोहराम : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 716, आज सबसे अधिक 216 मरीज मिले -

Friday, May 29, 2020

उत्तराखंड : उत्तराखंड में कोरोना मरीजों की संख्या हुई 602 , देहरादून में आज आये 54 नए मामले -

Friday, May 29, 2020

उत्तराखंड : दुकान खुलने का समय प्रातः 7 बजे से सांय 7 बजे तक हुआ -

Thursday, May 28, 2020

कोरोना कहर : उत्तराखंड में कोरोना मरीजों की संख्या पहुँची 500 -

Thursday, May 28, 2020

टीवी अभिनेत्री का सड़क हादसे में हुई मौत -

Thursday, May 28, 2020

बिहार की बेटी ज्योति के मुरीद हुए विदेशी भी, जानिए खबर -

Thursday, May 28, 2020

मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना’’ का शुभारंभ हुआ -

Thursday, May 28, 2020

उत्तराखंड : कोरोना मरीजो की संख्या हुई 493 -

Thursday, May 28, 2020

उत्तराखंड : मुख्यमंत्री राहत कोष में आज यह दिए दान, जानिए खबर -

Wednesday, May 27, 2020

देहरादून से विशेष ट्रेन द्वारा हज़ारो मजदूर बिहार एंव उत्तर प्रदेश के लिए रवाना, जानिए खबर -

Wednesday, May 27, 2020

उत्तराखंड : कोरोना मरीजो की संख्या हुई 469, आज 69 मरीज मिले कोरोना के -

Wednesday, May 27, 2020

ऋषिकेश-धरासू हाइवे पर 440 मीटर लंबी टनल हुई तैयार, सीएम त्रिवेंद्र ने जताया आभार -

Wednesday, May 27, 2020

कोरोना का कहर : उत्तराखंड में कोरोना मरीज हुए 438 -

Wednesday, May 27, 2020

उत्तराखंड : राज्य में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 401 -

Tuesday, May 26, 2020

“आप” पार्टी से जुड़े कई लोग, जानिए खबर -

Tuesday, May 26, 2020

संस्कृति सम्मान समारोह में कलाकार हुए सम्मानित

kla-aur-sanscriti

किसी भी कला, संस्कृति और परम्परा के संरक्षण में समाज का अहम योगदान होता है। एक जागरूक समाज ही अपनी कला और संस्कृति का संरक्षण कर सकता है। राज्य सरकार कला, संस्कृति और साहित्य के संरक्षण के लिए प्रतिबद्ध है। अपनी माटी, अपने गांव के विकास में हम सभी को सहभागी बनना होगा। सरकार ने हिटो पहाड़ की अवधारणा को आगे बढाया है, जिसमें मेरा धन मेरा गांव योजना शुरू की गई है। यह बात मुख्यमंत्री हरीश रावत ने नगर निगम प्रेक्षागृह में उत्तराखण्ड फिल्म, टेलीविजन एण्ड रेडियो एसोसियेशन द्वारा आयोजित संस्कृति सम्मान एवं सांस्कृतिक सम्मान यात्रा-2015 के अवसर पर कही। मुख्यमंत्री रावत ने इस अवसर पर कला एवं संस्कृति के क्षेत्र में योगदान देने वाले महानुभावों को सम्मानित भी किया।मुख्यमंत्री रावत ने कहा कि राज्य सरकार कला, संस्कृति एवं साहित्य के संरक्षण के लिए प्रतिबद्ध है। सरकार ने 5 करोड़ रुपये के कारपस फण्ड से लोक गायक/कलाकार कल्याण कोष का गठन किया है। सरकार ने यह भी निर्णय लिया है कि 60 वर्ष से अधिक आयु के कलाकारों को पेंशन दी जायेगी। प्रदेश की फिल्म नीति को लागू किया जा रहा है। इसमें सभी कला एवं संस्कृति के क्षेत्र से जुड़े लोगों से सुझाव भी मांगे जा रहे है। प्रदेश में चार संग्रहालय स्थापित होंगे। वाद्य यंत्रों, पांडुलिपियों आदि के संरक्षण की दिशा में भी कदम उठाये गये है। राज्य गीत बनाने की दिशा में भी हमने निर्णय लिया है। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री रावत द्वारा कला एवं संस्कृति के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने वाले महानुभावों को सम्मानित भी किया गया। इनमें जागर गायक किशोरी लाल, कुमांउनी गायक नैननाथ रावत, गायक अनुराधा निराला, मास्टर करन रावत, लाखीराम टम्टा, कैलाश भट्ट, संगीता ढौडि़याल, प्रेम हिंदवाल, हरपाल रावत, अनिल कुमार भारती, हेमा नेगी करासी, संजय कुमोला, जसपाल पंवार, मिनाक्षी उनियाल, नागेन्द्र प्रसाद, वसुन्धरा नेगी, सुरेन्द्र राणा, मुकेश शर्मा, मोहनी ध्यानी पटनी, संजय सिलोड़ी, मनीष वर्मा व उर्मी नेगी आदि शामिल थे।कार्यक्रम में कैबिनेट मंत्री प्रीतम सिंह पंवार, सभा सचिव एवं विधायक शैलारानी रावत, मेयर विनोद चमोली, उत्तराखण्ड फिल्म, टेलीविजन एण्ड रेडियो एसोसियेशन के अध्यक्ष प्रदीप भण्डारी, संयोजक चन्द्रवीर गायत्री, कांता प्रसाद आदि उपस्थित थे।

Leave A Comment