Breaking News:

मेयर से मांगी ज़रूरतमंदो के लिए मदद, जानिए खबर -

Wednesday, April 8, 2020

उत्तराखंड : शाक्य बौद्ध समुदाय ने मुख्यमंत्री राहत कोष में 23 लाख रूपये की राशि दी -

Wednesday, April 8, 2020

सीएम, मंत्रियों व विधायकों के वेतन मेें होगी 30 प्रतिशत की कटौती -

Wednesday, April 8, 2020

दून के तीन होटलों को सरकार ने किया अधिग्रहित -

Wednesday, April 8, 2020

उत्तराखण्ड पीसीएस एसोसिएशन 15 दिन के वेतन का चेक सीएम राहत कोष में दिया -

Wednesday, April 8, 2020

नैनीताल बैंक प्रधानमंत्री राहत कोष में देगा 15 लाख रुपये की धनराशि -

Wednesday, April 8, 2020

लॉकडाउन : मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने अधिकारियों से लिए फीडबैक -

Tuesday, April 7, 2020

सीएम त्रिवेन्द्र ने शहीद जवान अमित कुमार और देवेंद्र सिंह की पार्थिव देह पर पुष्प चक्र अर्पित कर दी श्रद्धांजलि -

Tuesday, April 7, 2020

सफाई कार्मिकों को किया पुरस्कृत, जानिए खबर -

Tuesday, April 7, 2020

फूल उगाने वाले किसानों के चेहरे मुरझाए, जानिए खबर -

Tuesday, April 7, 2020

हेल्प मी वेलफेयर सोसायटी ने गरीबों की मदद किये -

Tuesday, April 7, 2020

उत्तराखंड में पांच और कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आए, संक्रमित मरीजों की संख्या हुई 31 -

Monday, April 6, 2020

सीएम ने उत्तराखंड के जवानों की शहादत को नमन किया -

Monday, April 6, 2020

उत्तराखंड : मुख्यमंत्री कैम्प कार्यालय में बेहतर समन्वय के लिए बनाया गया कंट्रोल रूम -

Monday, April 6, 2020

पौड़ी : पाबौ में चट्टान से गिरने से महिला की मौत -

Monday, April 6, 2020

जुबिन नौटियाल ने ऑनलाइन शो से कोरोना फाइटर्स को कहा थैंक्यू -

Monday, April 6, 2020

अनूप नौटियाल व डा. दिनेश चौहान रहे कोरोना वाॅरियर -

Monday, April 6, 2020

पहल : देहरादून में 7745 भोजन पैकेट वितरित किये गये -

Sunday, April 5, 2020

सीएम त्रिवेन्द्र ने परिवार संग दीप जला कर हौसला बढाने का दिया सन्देश -

Sunday, April 5, 2020

उत्तराखंड में चार और कोरोना पाॅजीटिव मामले सामने आए, संख्या 26 हुई -

Sunday, April 5, 2020

सत्य की रोशनी परमात्मा बोद्य से मिलती है : ऊषा अरोड़ा

gyan

देहरादून। निरंकारी मंडल के सत्संग कार्यक्रम में प्रवचन करते हुए ऊषा अरोड़ा ने कहा कि अज्ञानता के अंधेरे में भटके लोगों को ज्ञानरूपी उजाले की आवश्यकता है। जिससे जीवन में उजाला आता है, वह परमात्मा का बोद्य ही है जो हमें सत्य की रोशनी में जीवन जीने का तरीका सिखाता है। सद्गुरू की शरण में आकर जीवन की हर अभिलाषा ज्ञान से प्राप्त होती है।रेस्ट कैंप स्थित निरंकारी सत्संग भवन में आयोजित सत्संग कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि जो लोग सत्य की राह से भटक जाते हैं वह अपने जीवन को भ्रमों में फंसाकर भटकन में रहते हैं। सद्गुरू की कृपा दृष्टि से भ्रम-भ्रान्तियां दूर होती हैं। क्योंकि सद्गुरू मानवता प्रेम के लिए संसार में जीवन जीकर सबका कल्याण करता है। धर्म मजहब सम्प्रदाय से ऊपर उठकर मानव एकता का संदेश देता है। जिससे दीवार रहित संसार का निर्माण होता है। बिना दिल में सच का वास करें कैसे मनुष्य पाक-साफ हो सकता है। ईष्र्या, नफरत आदि की खेती जहां होती है वहां कैसे प्यार, एकता, नम्रता की बारिस हो सकती है। सुन्दर तन के साथ सुन्दर मन की आवश्यकता होती है यदि सद्गुरू का साथ मिल जाये तो वह और सुन्दर हो जाता है। उन्होंने कहा कि पारब्रह्म परमात्मा का बोध हमें वह जीवन दर्शन देता है जिससे संकीर्णतायें मिटती है, विशालता हृदय में आती है, वह मनुष्य भाग्यशाली हैं जो निरन्तर सद्गुरू की शरण में रहकर अपने जीवन को समर्पित कर देता है। सिर्फ एक के साथ नाता जोड़कर जीवन को सार्थक बनाता है। सद्गुरू हर बात सरलता के साथ सिखाता है, निर्मलता के साथ सिखाता है। हम किसी से झूठ बोलते हैं तो इसका मतलब कि हम अपने आप से झूठ बोलते हैं। और मनुष्य अपने झूठ पर ही पर्दा डालता जाता है। सत्य से विमुख हो जाता है। सत्य प्रभु परमात्मा है जिसके साथ में सद्गुरू जोड़कर जीवन जीने का सलीका सिखाता है। जो सदा ही शाश्वत सत्य है। सत्संग समापन से पूर्व अनेक सन्तों-भक्तों ने गीतों एवं प्रवचनों के द्वारा गढ़वाली, पंजाबी, हिन्दी भाषा का सहारा लेकर संगत को निहाल किया। मंच संचालन बहन शशि बिष्ट ने किया।

Leave A Comment