Breaking News:

समाज सेवा के लिये रहा पंडित दीन दयाल उपाध्याय का सम्पूर्ण जीवन : सीएम -

Monday, September 24, 2018

राधा क्यूँ गोरी मै क्यू काला …… -

Monday, September 24, 2018

लखनऊ : सीएम त्रिवेंद्र ने मध्य क्षेत्रीय परिषद् की बैठक में किया प्रतिभाग -

Monday, September 24, 2018

मंत्री ने राज्यसभा सदस्य अनिल बलूनी की पहल का किया स्वागत -

Monday, September 24, 2018

खुलेगा 300 बेड का नया जच्चा-बच्चा अस्पताल , जानिए खबर -

Monday, September 24, 2018

अखबारों की विश्वसनीयता आज भी बरकरार : प्रकाश पंत -

Monday, September 24, 2018

सीएम त्रिवेंद्र ने आयुष्मान भारत योजना के गोल्डन कार्ड किए वितरित -

Sunday, September 23, 2018

एक साथ एक समय चुनाव करवाने से धन, ऊर्जा व समय की होगी बचतः सीएम -

Sunday, September 23, 2018

जिलाधिकरी मंगेश घिल्डियाल चन्द्रशिला से तुंगनाथ धाम तक की साफ सफाई -

Sunday, September 23, 2018

मुंबई के एक शख्स ने एक ही लड़की की दो बार बचाई जान , जानिए खबर -

Sunday, September 23, 2018

रणवीर-दीपिका को टालनी पड़ी अपनी शादी,जानिए खबर -

Sunday, September 23, 2018

रमेश सिप्पी, शर्मन जोशी ने छात्रों से की खास मुलाकात , जानिये खबर -

Sunday, September 23, 2018

राज्यपाल ने की ‘ज्ञान कुंभ’ की तैयारियों की समीक्षा की -

Saturday, September 22, 2018

यात्री वाहन खाई में पलटा, 13 की मौत -

Saturday, September 22, 2018

ई हेल्थ-सेवा डेशबोर्ड का सीएम ने शुभारम्भ किया -

Saturday, September 22, 2018

मिस उत्तराखंड प्रतियोगिता “फस्ट लुक” आयोजित -

Saturday, September 22, 2018

सीएम ने किया ‘स्वच्छता ही सेवा’ अभियान के तहत श्रमदान -

Saturday, September 22, 2018

जल्द नजर आएंगे विराट कोहली बड़े पर्दे,जानिए खबर -

Saturday, September 22, 2018

30 साल से बिना वेतन के संभालते हैं गंगाराम जी ट्रैफिक, जानिए खबर -

Saturday, September 22, 2018

रमेश सिप्पी को भा गई दून की वादियां, उत्तराखंड फिल्म इंडस्ट्री का भविष्य -

Saturday, September 22, 2018

सरकारी स्कूल और स्लम इलाकों में पीरियड्स को लेकर 3 सहेलियां कर रहीं जागरूक, जानिए खबर

pahal

गाजियाबाद | सच ही कहा गया है यदि समाज के लिए आप के पास वक्त है तो समाज भी आप के लिरे वक्त जरूर देगा | ऐसा ही कुछ उनके जीवन में आया है यह दिन सहेलियों में | इंदिरापुरम में रहने वाली तीन सहेलियां स्कूल में पढ़ने वाली लड़कियों को पीरियड्स (मासिक धर्म) और इससे जुड़ी चीजों को लेकर जागरूक कर रही हैं। गाजियाबाद के अलग-अलग कॉलेजों में पढ़ने वाली इन युवतियों का कहना है कि अक्सर लड़कियां पीरियड्स के दौरान लापरवाही बरतती हैं। शर्म और झिझक की वजह से ये अपनी देखभाल नहीं कर पाती हैं। कई बार हाइजीन का ध्यान रखने पर परेशानी खड़ी हो जाती है। यही कारण है कि वे आसपास के सरकारी स्कूलों और स्लम एरिया में शॉर्ट फिल्म दिखाकर बच्चियों को जागरूक कर रही हैं, जिससे वे अपना ध्यान रख सकें। प्रज्ञा, प्रियंका और विदुषी तीनों गाजियाबाद के कॉलेजों में पढ़ती हैं। प्रियंका ने बताया कि उन्होंने पाया कि आसपास के स्लम इलाकों में लड़कियां पीरियड्स को लेकर काफी लापरवाह हैं। एक दिन ईवनिंग वॉक के दौरान तीनों ने तय किया कि वह स्कूलों, स्लम इलाकों में जाकर इस बारे में जागरूक करेंगी। अक्सर पीरियड्स के दौरान ज्यादातर लड़कियां और महिलाएं लापरवाही बरतती हैं और बीमारियों की चपेट में आ जाती हैं। हाइजीन का ख्याल नहीं रखने की वजह से ऐसा होता है। इसके अलावा मासिक धर्म को लेकर कई महिलाओं व लड़कियों में कई तरह की भ्रांतियां भी हैं। इन्हें भी दूर करना उनका मकसद है। यही कारण है कि तीनों सहेलियां शनिवार को स्कूल और स्लम इलाकों में जाकर शॉर्ट फिल्म दिखाकर बच्चियों और महिलाओं को जागरूक कर रही हैं।

Leave A Comment