Breaking News:

डब्ल्यूआईसी इंडिया में फोटो प्रदर्शनी को कला प्रेमियों ने सराहा -

Saturday, July 21, 2018

देशभर में सेब का हब बन सकता है उत्तराखण्ड, जानिये खबर -

Saturday, July 21, 2018

सीएम त्रिवेंद्र कल केरवां गांव से रिस्पना पुनर्जीविकरण का करेंगे शुभारंभ -

Saturday, July 21, 2018

2026 में FIFA वर्ल्ड कप खेल सकता है भारत यदि …. -

Saturday, July 21, 2018

त्रिवेंद्र सरकार उत्तराखंड की जनता के सपने को कर रही साकार , जानिये खबर -

Friday, July 20, 2018

पूजा बेदी द्वारा फिक्की फ्लो के लिए ‘लाइफ ट्रांसफॉर्मेशन’ कार्यशाला -

Friday, July 20, 2018

पर्यटन व वन विभाग के मध्य उचित समन्वय आवश्यक : मुख्यमंत्री -

Friday, July 20, 2018

धरती के इतिहास में वैज्ञानिकों ने खोजा ‘मेघालय युग’ जानिये खबर -

Friday, July 20, 2018

सोनाली बेंद्रे ने बेटे रणवीर के लिए लिखी दिल छू जाने वाली बातें , जानिये खबर -

Friday, July 20, 2018

विकास कार्यों में धीमापन बरदाश्त नहींः मुख्यमंत्री -

Friday, July 20, 2018

सड़क पर पानी में खड़े होकर संभाला ट्रैफिक,जानिये खबर -

Friday, July 20, 2018

नैनीताल विधानसभा क्षेत्रों के विकास कार्यों की सीएम त्रिवेन्द्र ने की समीक्षा -

Thursday, July 19, 2018

एम्स ऋषिकेश पहुंचकर सीएम ने बस दुर्घटना के घायलों का जाना हाल-चाल -

Thursday, July 19, 2018

अपने सपने : पर्यावरण बचाने हेतु बच्चो ने किया लोगो को जागरूक -

Thursday, July 19, 2018

बहाली की मांग को लेकर धरना-प्रदर्शन का 79वा दिन, जानिये खबर -

Thursday, July 19, 2018

ऋषि कपूर की फिल्म “मुल्क” को U/A सर्टिफिकेट, जानिये खबर -

Thursday, July 19, 2018

जिंदा रहने के लिए गुफा की चट्टानों से टपकते पानी का किया इस्तेमाल , जानिये खबर -

Thursday, July 19, 2018

सुप्रीम कोर्ट ने खोले महिलाओ के लिए सबरीमाला मंदिर का द्वार ,जानिये खबर -

Thursday, July 19, 2018

उत्तराखंड : जर्मन डेवलपमेंट बैंक स्वच्छ पेयजल और गंगा सफाई के लिए देगा 960 करोड़ -

Wednesday, July 18, 2018

गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मिले मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत -

Wednesday, July 18, 2018

सरकारी स्कूल पर याचिका लगाने वाला शिक्षक हुआ बर्खास्त

shiv-kumar

अब इसे क्या कहे ,जब समाज नहीं सुधरता तो कहते है छोडो लेकिन जब सिस्टम नहीं सुधरता है तो कुछ लोग आवाज़ उठा कर कहते है हां सिस्टम तो बदलना चाहिए लेकिन आज के राज नेताओ ने इस आवाज़ को भी बंद करने में लगे हुए है | बात हो रही है उत्तर प्रदेश सरकार की | उत्तर प्रदेश के प्राथमिक स्कूलों में शिक्षा की बदहाल स्थिति के खिलाफ आवाज उठाने वाले एक शिक्षक को बड़ी कीमत चुकानी पड़ी है। राज्य में शिक्षा की स्थिति में सुधार लाने के इरादे से इलाहाबाद हाईकोर्ट में याचिका दायर करने वाले सुल्तानपुर के शिक्षक शिव कुमार पाठक को सरकार ने नौकरी से बर्खास्त कर दिया है। सुल्तानपुर जिले के लम्भुआ में स्कूल शिक्षक शिव कुमार पाठक को सरकार ने बर्खास्त कर दिया है \ पाठक ने आरोप लगाया है की राज्य में शिक्षा की बदहाली दूर करने को लेकर इलाहाबाद हाईकोर्ट में याचिका दायर करने के बाद उन्हें बर्खास्त किया गया है।विदित हो की अभी हाल ही में इलाहाबाद हाईकोर्ट ने अपने एक फैसले में यह आदेश दिया था कि उत्तर प्रदेश में मंत्रियों, अधिकारियों, न्यायाधीशों और सरकार से वेतन पाने वाले सभी कर्मचारियों के बच्चों का सरकारी प्राथमिक स्कूलों में पढ़ना अनिवार्य किया जाए।

Comments
One Response to “सरकारी स्कूल पर याचिका लगाने वाला शिक्षक हुआ बर्खास्त”
  1. Dhruv Arya says:

    This is just unacceptable. Please we all should support and raise our voice against these corrupt NETAS in the Court, and this gentle man Shiv Kumar Pathak must be reinstated.

Leave A Comment