Breaking News:

त्रिवेंद्र सरकार के ढाई वर्ष : उत्तराखंड राज्य के विकास दर में हुई वृद्धि -

Wednesday, September 18, 2019

केजरीवाल सरकार : मजदूर की बेटी शशि बनेगी एमबीबीएस -

Wednesday, September 18, 2019

पुलिस कर्मियों के सामने ‘बेघर’ का संकट -

Wednesday, September 18, 2019

डेंगू और अब स्वाइन फ्लू का अटैक -

Wednesday, September 18, 2019

पंचायत चुनाव: विकास खण्ड मुख्यालय पर होगा चुनाव चिन्ह आवंटन -

Wednesday, September 18, 2019

गरीब बच्चों को राज्यपाल ने स्कूल टिफिन और छाते उपहार स्वरूप किये भेंट -

Tuesday, September 17, 2019

मोटोरोला ने लांच किया स्मार्ट टीवी , जानिए खबर -

Tuesday, September 17, 2019

पीएम नरेन्द्र मोदी के जन्मोत्सव पर चित्र प्रदर्शनी का सीएम त्रिवेंद्र ने किया शुभारंभ -

Tuesday, September 17, 2019

सिर पर हेल्मेट होती तो बच जाती लगभग पचास हज़ार लोगों की जान , जानिए खबर -

Tuesday, September 17, 2019

उत्तराखण्ड में होगा एनआरसी लागू, सीएम ने दिए संकेत -

Tuesday, September 17, 2019

हमारी प्रेरणा एवं ऊर्जा के श्रोत हैं पीएम नरेंद्र मोदी : सीएम त्रिवेंद्र -

Tuesday, September 17, 2019

राज्य की आर्थिक स्थिति और मजबूत हो : सीएम त्रिवेंद्र -

Monday, September 16, 2019

देहरादून से वाराणसी के लिए हवाई सेवा 28 सितम्बर से -

Monday, September 16, 2019

ऋषभ पंत के लिए खतरे की घण्टी, जानिए खबर -

Monday, September 16, 2019

एक परीक्षा ऐसा भी : पुस्तक साथ ले जाने की छूट -

Monday, September 16, 2019

सीबीएसई ने जारी की डेंगू से बचाव के लिए एडवायजरी -

Monday, September 16, 2019

फर्जी प्रमाण-पत्रों से नौकरी पाने वाले शिक्षकों की मुश्किलें बढ़ी -

Sunday, September 15, 2019

डेंगू का डंक : बकरी के दूध की डिमांड बढ़ी -

Sunday, September 15, 2019

मैक्स अस्पताल की फ्री बस सेवा का शुभारंभ -

Sunday, September 15, 2019

मुख्‍यमंत्री के पालतू कुत्‍ते की मौत, डॉक्‍टर पर एफआईआर -

Sunday, September 15, 2019

सराहनीय कार्य : लाल चुनरिया ओढ़े विदा हुई 31 बेटियां

बालाजी सेवा समिति की अनूठी पहल

देहरादून। श्री श्री बालाजी सेवा समिति की ओर रविवार को हिन्दू वैदिक रीति रिवाज से 31 निर्धन कन्याओं का सामूहिक विवाह कराया गया और खुशियो के आंसू और लाल चुनरिया ओढ़े 31 बेटियों को विदा किया। रविवार सुबह दर्शनलाल चौक स्थित पंचायती मंदिर से जब 31 दूल्हों की एक साथ बारात निकली तो सब देखते रह गए। एक के बाद एक दूसरा दूल्हा कतार में देख लोग रास्ते में खड़े होकर बारात का लुप्त उठाने लगे और जब तक बारात उनके आंखों से दूर न हुई तब तक दूल्हों को देखते रहे। घोसी गली स्थित पंचायती मंदिर से पल्टन बाजार, धामावाला बाजार, सहारनपुर चैक, पटेलनगर होते हुये बारात कारगी रोड़ स्थित वेडिंग प्वाइंट पहुंची जहां समिति के पदाधिकारियों, बेटियों के परिजनों और मेहमानों ने बारातियों की जोरदार अगुवानी की तथा वैवाहिक आयोजनों की रस्में पूरी की। विवाह कार्यक्रम में समिति के सेवादारों के अलावा समाज के हर तबके के लोगों ने पूरे मनोयोग से विवाह स्थल पर पहुंचे बारातियों और मेहमानों की सेवा की। समिति द्वारा दूल्हों की जरूरतों और बारातियों की आवभगत का पूरा ध्यान रखा गया। बारात पहुंचने के बाद विवाह स्थल पर वरमाला से लेकर फेरों तक पंडाल गढ़वाली मांगल गीतों से गुंजायमान रहा। वर वधूओं को आर्शीवाद देने के लिए विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचन्द अग्रवाल, देहरादून के मेयर सुनील उनियाल गामा, विधायक गणेश जोशी, भाजपा नेता नरेश बंसल, रविन्द्र कटारिया व बृज क्षेत्र से भाजपा की क्षेत्रीय सह संयोजक नीतू चैधरी सहित तमाम सामाजिक-धार्मिक संगठनों से जुघ्घ्ड़े लोग उपस्थित रहे। वहीं समिति की ओर से संरक्षक आर0के0 गुप्ता, श्रवण वर्मा, कुलभूषण अग्रवाल, समिति के अध्यक्ष अखिलेश अग्रवाल, सचिव मनोज खण्डेलवाल, के अलावा ओ0पी0 गुप्ता, चंद्रेश अरोड़ा, उमाशंकर रघुवंशी, मनमोहन लखेड़ा, संजय शर्मा, विजय बिष्ट, पंकज चांदना, देवेन्द्र साहनी, राजेश चैरसिया, दीपक अग्रवाल, एसपी शर्मा, अशोक गुप्ता, आर0के0 शर्मा, दीपक मेहरा, अशोक नागपाल, कै0 रमेश रावत, मेजर शंकर क्षेत्री, कै0 कैलाश चन्द, सचिन गुप्ता, अरविन्द तयाल, विनीत गर्ग, ध्यान चन्द धीमान, मनीष बंसल, दुष्यंत बडोला, अतुल अग्रवाल, देवेन्द्र मित्तल, अविनाश अग्रवाल, ऋषभ अग्रवाल, महिला अध्यक्ष ममता गर्ग, कविता खण्डेलवाल, अनु क्षेत्री, रश्मी अरोडा, गीता नेगी, अर्चना अग्रवाल, ममता गर्ग, कृष्णा देवी, गीता वर्मा, सरिता रानी, सरिता अग्रवाल, किरन गुप्ता, सरिता गुप्ता, अलका गुप्ता, सुशीला काला, कंचन लखेड़ा आदि सैकड़ों महिला सेवादार उपस्थित रहे। बनारस से आये यू0के0 सिंह ने पानी, फ्रूटी और जलजीरे से जहां बारातियों की प्यास बुझायी वहीं आगरा से आये विक्रम अरोड़ा, कार्तिकजी और उनके पूरे परिवार ने तमाम अतिथियों को बारात विदा होने तक आगरा का मीठे पैठे से लोगों मुंह मिष्ठान कराया।शाम करीब साढ़े छह बजे समिति नेे घर-गृहस्थी के तमाम साजो सामान के साथ कन्याओं की भावभीनी विदाई दी। इससे पहले समिति के अध्यक्ष ने कहा कि ‘‘कन्यादान महादान’’ है यह कार्य सभी के सहयोग से पूरा हो सका है। इसके लिए समिति तमाम दानदाताओं और सहयोगकर्ताओं का हृदय से आभार व्यक्त करती है।

Leave A Comment