Breaking News:

ईरान एवं भारत में है गहरा सांस्कृतिक सम्बन्धः डॉ पण्ड्या -

Monday, November 18, 2019

गांधी पार्क में ओपन जिम का सीएम त्रिवेंद्र ने किया लोकार्पण -

Monday, November 18, 2019

स्मार्ट सिटी हेतु 575 करोड़ रूपए के कामों का हुआ शिलान्यास, जानिए खबर -

Sunday, November 17, 2019

मिसेज दून दिवा सेशन-2 के फिनाले में पहुंचे राहुल रॉय , जानिए खबर -

Sunday, November 17, 2019

शीघ्र ही नई शिक्षा नीति : निशंक -

Sunday, November 17, 2019

उत्तराखंड : युवा इनोवेटर्स ने विकसित किए ऊर्जा दक्ष वाहन -

Sunday, November 17, 2019

यमकेश्वर : कार्यरत स्टार्ट अप को मुख्यमंत्री ने दिए 10 लाख रूपए -

Sunday, November 17, 2019

भगवा रक्षा दल : पंकज कपूर बने प्रदेश मीडिया प्रभारी -

Saturday, November 16, 2019

उत्तराखण्ड स्कूलों में वर्चुअल क्लास शुरू करने वाला बना पहला राज्य -

Saturday, November 16, 2019

सूचना कर्मचारी संघ चुनाव : भुवन जोशी अध्यक्ष , सुषमा उपाध्यक्ष एवं सुरेश चन्द्र भट्ट चुने गए महामंत्री -

Saturday, November 16, 2019

रेस लगाना पड़ा महंगा, हादसे में तीन की मौत -

Saturday, November 16, 2019

पब्लिक रिलेशंस सोसाइटी आफ इंडिया : 41वीं नेशनल कान्फ्रेंश के ब्रोशर का हुआ विमोचन -

Saturday, November 16, 2019

अन्तर्राष्ट्रीय सम्मेलन में भारत से साध्वी भगवती सरस्वती ने किया सहभाग -

Saturday, November 16, 2019

देहरादून में हुआ भाजपा के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा का भव्य स्वागत, जानिए खबर -

Friday, November 15, 2019

भिक्षा मांग रहे बच्चो को भिक्षा की जगह शिक्षा दे : एडीजी अशोक कुमार -

Friday, November 15, 2019

हरिद्वार : पर्यटकों के लिए खुले राजा जी रिजर्व पार्क के दरवाजे -

Friday, November 15, 2019

शहर में दूसरा प्लास्टिक बैंक हुई स्थापित, जानिए खबर -

Friday, November 15, 2019

उत्तराखण्ड में ‘‘सबका साथ-सबका विकास’’ जनयोजना अभियान 2 दिसम्बर से , जानिए खबर -

Friday, November 15, 2019

उत्तराखण्ड : सीएम त्रिवेंद्र ने सांसद आदर्श ग्राम योजना की समीक्षा की -

Thursday, November 14, 2019

अंगीठी की गैस से दम घुटने के कारण मां-बेटी की मौत -

Thursday, November 14, 2019

सहिष्णुता हमारे विश्वास व रग-रग में है : हरीश रावत

cm_r

मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा है कि सहिष्णुता हमारे विश्वास व रग-रग में है। हमारे देश में वही शासन कर सकता है जो कि दूसरो को समझने का काम करें, सभी के विश्वास व आस्था का सम्मान करें। पीटी सेमिनरी आॅडिटाॅरियम राजपुर रोड़ में ‘‘विश्व अल्पसंख्यक अधिकार दिवस’’ पर उत्तराखंड अल्पसंख्यक आयोग द्वारा आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री श्री रावत ने कहा कि भारत के इतिहास में उन्हीं शासकों को महान कहा गया है जो इंसानियत से प्रेम करते थे, दूसरों की कद्र करते थे। मुख्यमंत्री ने राज्य अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष डा.नरेंद्र जीत सिंह बिंद्रा को कार्यक्रम के आयोजन के लिए बधाई देते हुए कहा कि इस परिचर्चा से हमारी सोच को नई रंगत मिली है। श्रीराम को मर्यादा पुरषोत्तम इसलिए कहा गया क्योंकि उन्होंने उस समय जनता की आवाज को सुनने का काम किया। शासकों में अशोक व अकबर को महान कहा गया है। ये इंसानियत में विश्वास करते थे। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी संख्या बल कम होते हुए भी लम्बे समय तक सरकार चलाने में सफल रहे क्योंकि उन्होंने भारत की तासीर को समझा और दूसरों की भावनाओं का सम्मान किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि शक्ति के बल पर दूसरों को दबाने की कोशिशों को हमारे देश व समाज के अंदर से ही जवाब मिलता है। हमारा संविधान जिस रास्ते पर हमें ले जाना चाहता है, उस रास्ते से भटकाने की कोशिशें करने वाले कभी सफल नहीं हो सकते हैं। मेजोरिटी तभी काम कर सकती है जबकि माइनोरिटी को सुनने का काम करे। भारत के मिजाज को समझकर ही शासन किया जा सकता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखंड में हमेशा से ही सद्भाव की परम्परा रही है। चारधाम के समान ही हेमकुण्ड साहिब, रीठा साहिब, पिरान कलियर साहिब हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं। हमने प्रत्येक विभाग को निर्देशित किया है कि अल्पसंख्यक बाहुल्य इलाकों में अपने बजट का कम से कम 16 प्रतिशत अवश्य व्यय करें। हमारी सरकार यह आश्वस्त करना चाहती है कि अल्पसंख्यक समुदायों की पूरी भागीदारी के साथ राज्य के सामाजिक व आर्थिक एजेंडे को आगे ले जाया जाएगा। सरकार व समाज का दायित्व है कि जो लोग अपनी आवाज को प्रभावशाली तरीके से उठा नहीं सकते हैं, उनकी आवाज को सुना जाए। मुख्यमंत्री ने राज्य अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष डा.नरेंद्र जीत सिंह बिंद्रा द्वारा प्रस्तुत विभिन्न मांगों पर अपनी सैद्धांतिक सहमति देते हुए कहा कि इन्हें पूरा करने के लिए हरसम्भव प्रयास किया जाएगा। डा. बिंद्रा ने अल्पसंख्यकों के लिए स्वरोजगार की ऋण व अनुदान योजना में लाभार्थी के लिए आय सीमा को बढ़ाए जाने, कब्रिस्तानों के लिए भूमि उपलब्ध करवाए जाने, चारदीवारी के लिए अतिरिक्त धनराशि स्वीकृत किए जाने, मदरसा बोर्ड एक्ट को जल्द लागू करने, लोक सेवा आयोग, अधीनस्थ सेवा चयन बोर्ड में अल्पसंख्यकों को प्रतिनिधित्व दिए जाने, कालसी में अशोक के शिलालेख को बौद्ध पर्यटन सर्किट से जोड़े जाने के लिए आग्रह किया था।

Leave A Comment