Breaking News:

श्री विश्वनाथ मां जगदीशिला डोली के आयोजन स्थलों पर पौधारोपण होगा : नैथानी -

Friday, May 29, 2020

हरेला पर 16 जुलाई को वृहद स्तर पर पौधारोपण किया जाएगाः सीएम -

Friday, May 29, 2020

छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी का निधन -

Friday, May 29, 2020

ज्योतिषी बेजन दारूवाला का निधन -

Friday, May 29, 2020

ब्लैकमेल : न्यूज़ पोर्टल संचालक हुआ गिरफ्तार -

Friday, May 29, 2020

कोरोना का कोहराम : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 716, आज सबसे अधिक 216 मरीज मिले -

Friday, May 29, 2020

उत्तराखंड : उत्तराखंड में कोरोना मरीजों की संख्या हुई 602 , देहरादून में आज आये 54 नए मामले -

Friday, May 29, 2020

उत्तराखंड : दुकान खुलने का समय प्रातः 7 बजे से सांय 7 बजे तक हुआ -

Thursday, May 28, 2020

कोरोना कहर : उत्तराखंड में कोरोना मरीजों की संख्या पहुँची 500 -

Thursday, May 28, 2020

टीवी अभिनेत्री का सड़क हादसे में हुई मौत -

Thursday, May 28, 2020

बिहार की बेटी ज्योति के मुरीद हुए विदेशी भी, जानिए खबर -

Thursday, May 28, 2020

मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना’’ का शुभारंभ हुआ -

Thursday, May 28, 2020

उत्तराखंड : कोरोना मरीजो की संख्या हुई 493 -

Thursday, May 28, 2020

उत्तराखंड : मुख्यमंत्री राहत कोष में आज यह दिए दान, जानिए खबर -

Wednesday, May 27, 2020

देहरादून से विशेष ट्रेन द्वारा हज़ारो मजदूर बिहार एंव उत्तर प्रदेश के लिए रवाना, जानिए खबर -

Wednesday, May 27, 2020

उत्तराखंड : कोरोना मरीजो की संख्या हुई 469, आज 69 मरीज मिले कोरोना के -

Wednesday, May 27, 2020

ऋषिकेश-धरासू हाइवे पर 440 मीटर लंबी टनल हुई तैयार, सीएम त्रिवेंद्र ने जताया आभार -

Wednesday, May 27, 2020

कोरोना का कहर : उत्तराखंड में कोरोना मरीज हुए 438 -

Wednesday, May 27, 2020

उत्तराखंड : राज्य में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 401 -

Tuesday, May 26, 2020

“आप” पार्टी से जुड़े कई लोग, जानिए खबर -

Tuesday, May 26, 2020

सावधान : उत्तराखण्ड सरकार के नाम से भी मिल सकती हैं कई फर्जी साइट !

देहरादून । प्रदेश के परिवहन विभाग की वेबसाइट के मिलते-जुलते नाम वाली वेबसाइट बनाकर धोखाधड़ी करने वाले राज्य में तो पकड़े गए हैं। लेकिन यह वेबसाइट अब भी चल रही है। इस साइबर फ्रॉड के पकड़े जाने के बाद फिलहाल परिवहन विभाग को होने वाला नुकसान तो रुक गया है, लेकिन इससे बड़ा सवाल खड़ा हो गया है। सरकारी विभागों से मिलते-जुलते नाम से वेबसाइट बनाकर क्या कोई भी इतनी आसानी से फ्रॉड कर सकता है? इस मामले में साइबर एक्सपर्ट कहते हैं हां। साइबर एक्सपर्ट अंकुर चंद्रकांत कहते हैं कि साइबर वर्ल्ड में होने वाली धोखाधड़ी से बचने का सबसे आसान और सही तरीका का जागरुकता है। आपको खुद ही ध्यान रखना चाहिए कि जिस वेबसाइट का आप इस्तेमाल कर रहे हैं, कहीं वह फेक तो नहीं है. हालांकि यह काम आसान नहीं है। देहरादून पुलिस ने परिवहन विभाग की फर्जी वेबसाइट चलाने वाले जिन धोखेबाजों को पकड़ा है। वह कमर्शियल वाहन चलाने वाले या बाहर से आने वाले ऐसे लोगों से ठगी करते थे जो खुद ऑनलाइन टैक्स जमा नहीं कर सकते थे। साइबर क्रिमिनल तो अच्छे-खासे पढ़े-लिखे लोगों को भी ठग लेते हैं। अंकुर के अनुसार कुछ समय पहले स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की भी फेक वेबसाइट बना ली गई थी। एसबीआई की वेबसाइट है आॅनलाईन एसबीटी डाॅट काम धोखेबाज ने इसमें ओ को जीरो से बदल दिया था। इसकी वजह से वेबसाइट इस्तेमाल करने वाले आसानी से धोखा खा रहे थे। इसी तरह कुछ समय पहले यूपीएससी की भी फेक वेबसाइट बनाकर हजारों अभ्यर्थियों से

Leave A Comment