Breaking News:

सराहनीय पहल : एक ट्वीट से अपनों के बीच घर पहुंचा मानसिक दिव्यांग मनोज -

Tuesday, June 2, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1043 -

Tuesday, June 2, 2020

उत्तराखंड : मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना में करें अब आनलाईन आवेदन -

Tuesday, June 2, 2020

10 वर्षीय आन्या ने अपने गुल्लक के पैसे देकर मजदूर का किया मदद -

Tuesday, June 2, 2020

उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या 999 हुई, 243 मरीज हुए ठीक -

Tuesday, June 2, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 958 -

Monday, June 1, 2020

उत्तराखंड : कोरोना मरीजो की संख्या 929 हुई, चम्पावत में 15 नए मामले मिले -

Monday, June 1, 2020

जागरूकता: तंबाकू छोड़ने की जागरूकता के लिए स्वयं तत्पर होना जरूरी -

Monday, June 1, 2020

मदद : गांव के छोटे बच्चों को पढ़ा रही भावना -

Monday, June 1, 2020

नही रहे मशहूर संगीतकार वाजिद खान -

Monday, June 1, 2020

नेक कार्य : जरूरतमन्दों के लिए हज़ारो मास्क बना चुकी है प्रवीण शर्मा -

Sunday, May 31, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या पहुँची 907, आज 158 कोरोना मरीज मिले -

Sunday, May 31, 2020

सोशल डिस्टन्सिंग के पालन से कोरोना जैसी बीमारी से बच सकते है : डाॅ अनिल चन्दोला -

Sunday, May 31, 2020

कोरोंना से बचे : उत्तराखंड में मरीजो की संख्या 802 हुई -

Sunday, May 31, 2020

उत्तराखंड : 1152 लोगों को दून से विशेष ट्रेन से बेतिया बिहार भेजा गया -

Sunday, May 31, 2020

पूर्व सीएम हरीश रावत ने किया जनता से संवाद, जानिए खबर -

Sunday, May 31, 2020

प्रदेश में खेती को व्यावसायिक सोच के साथ करने की आवश्यकताः सीएम त्रिवेंद्र -

Sunday, May 31, 2020

अनलॉक के रूप में लॉकडाउन , जानिए खबर -

Saturday, May 30, 2020

कोरोना का कोहराम : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 749 -

Saturday, May 30, 2020

रहा है भारतीय पत्रकारिता का अपना एक गौरवशाली इतिहास -

Saturday, May 30, 2020

सीएम त्रिवेंद्र का हरिद्वार नगर निगम अधिकारियों को कड़ी फटकार, जानिए खबर

cm uk

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने हरिद्वार नगर निगम अधिकारियों को कड़ी फटकार लगाते हुए जनपद हरिद्वार में कूड़ा निस्तारण शीघ्र सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने अधिकारियों को चेतावनी दी कि यदि शहर में कूड़ा निपटान की व्यवस्था ससमय सुनिश्चित न कि गई तो सम्बन्धित अधिकारियों के विरूद्ध सख्त से सख्त कार्यवाही की जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वच्छता अभियान सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकताओं में है। ससमय कूड़ा निपटान व सार्वजनिक स्थलों की सफाई में जरा सी भी लापरवाही बर्दाश्त नही की जाएगी। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि जनहित के कार्यो में अधिकारी जनता के चुने हुए जनप्रतिनिधियों के साथ समन्वय बनाकर कार्य करे तथा सहयोगात्मक रवैया अपनाए। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत सोमवार को सचिवालय में जनपद हरिद्वार के सौन्दर्यीकरण एवं हरितीकरण के सम्बन्ध में बैठक ले रहे थे। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने जिलाधिकारी हरिद्वार को जनपद हरिद्वार के बाहरी क्षेत्रों में बूचड़खानों से निकलने वाले खून व मांस को नालों में सीधा प्रवाहित करने की घटनाओं पर कड़ाई से रोक व सख्त निगरानी के निर्देश दिए। स्थानीय लोगों की शिकायत का संज्ञान लेते हुए मुख्यमंत्री ने जिलाधिकारी हरिद्वार को बरसात के दौरान सीवरेज ट्रीटमेंट प्लान्ट के बन्द होने की घटनाओं के जांच के आदेश दिए। उन्होंने नालों को एसटीपी (सीवरेज ट्रीटमेन्ट प्लान्ट) से जोड़ने व सफाई सुनिश्चित करने हेतु तत्काल टेक्निकल सर्वे व अन्य प्रकरणों के निपटान के लिए निर्देश दिए। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि हमें 2021 हरिद्वार कुंभ से पूर्व राज्यभर के लगभग 135 नाले जिसमें कि 23 हरिद्वार में स्थित है की स्वच्छता व पुनर्जीवीकरण सुनिश्चित करना हैं। उन्होंने आगामी हरिद्वार कुंभ से पूर्व गंगा को निर्मल बनाये जाने की बात कही। मुख्यमंत्री ने कहा कि नालों की साफ-सफाई व ठोस अपशिष्ट के प्रबन्धन हेतु दीर्घकालीन योजनाओं के साथ तत्काल प्रभाव वाली लघुकालीन योजनाओं पर भी कार्य करने की जरूरत है। बैठक में परमार्थ निकेतन द्वारा चन्द्रेश्वर नाले को मात्र 5 दिन के बहुत कम अवधि में स्वच्छ व सौन्दर्यीकृत किए जाने के सफल प्रयास पर एक प्रस्तुतिकरण दिया गया। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि अधिकारियों द्वारा परमार्थ निकेतन के उक्त प्रयास को पाइलेट प्रोजेक्ट के रूप में अन्य नालों के ट्रीटमेन्ट व सौन्दर्यीकरण के लिए भी क्रियान्वित किया जाना चाहिए। उन्होंने निर्देश दिए कि इस प्रोजेक्ट को लागू करने हेतु शीघ्र ही टेक्निकल सर्वे करवाया जाए। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने निर्देश दिए कि जब तक राज्यभर के नालों के ट्रीटमेन्ट हेतु सीवरेज ट्रीटमेन्ट प्लान्ट स्थापित नही कर लिए जाते विभिन्न नालों के तत्काल ट्रीटमेन्ट हेतु चन्द्रेश्वर नाले में किए गए सफल प्रयास को क्रियान्वित करने के संभावनाओं पर कार्य किया जाए। बैठक के दौरान प्रशासन व सीएसआर फण्ड के सहयोग से जनपद हरिद्वार में विभिन्न घाटों के पुनर्विकास व सौन्दर्यीकरण, योगा पार्क विकसित करने, विभिन्न सड़कों, प्रवेश द्वारों व कुण्डों के सौन्दर्यीकरण, वृक्षारोपण, मल्टीलेवल पार्किंग विकसित करने पर चर्चा की गई। बैठक में कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक, विधायक आदेश चौहान, स्वामी यतीश्वरानन्द, देशराज कर्णवाल, प्रदीप बत्रा, संजय गुप्ता, प्रमुख सचिव आनन्द बर्द्धन, सचिव अरविंद ह्यांकी , जिलाधिकारी हरिद्वार दीपक रावत, परमार्थ निकेतन के स्वामी चिदानन्द मुनि सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Leave A Comment