Breaking News:

स्टेडियम में रंगारंग कार्यक्रमों ने बांधा समां -

Monday, November 12, 2018

एनाटाॅमिकल सोसायटी आॅफ इंडिया ने उत्कृष्ठ कार्य करने वालों को किया सम्मानित -

Monday, November 12, 2018

रेसलर को ललकारना राखी सावंत को पड़ा महंगा ,जानिए ख़बर -

Monday, November 12, 2018

निकाय चुनाव : कांग्रेस ने अपना दृष्टिपत्र किया जारी -

Monday, November 12, 2018

नगर निगम चुनाव : प्रेक्षकों को दिशा निर्देश जारी -

Monday, November 12, 2018

यूथ आईकॉन अवार्ड 2018 से “सोशल” सम्मानित -

Sunday, November 11, 2018

मेयर प्रत्याशी सुनील उनियाल गामा ने जनसंपर्क कर मांगे वोट -

Sunday, November 11, 2018

नहाय-खाय के साथ छठ पर्व का शुभारम्भ -

Sunday, November 11, 2018

भारत और पाकिस्तान आज फिर होंगे आमने सामने, जानिए खबर -

Sunday, November 11, 2018

जल्द रिलीज होगा रणवीर की फिल्म ‘सिंबा’ का ट्रेलर -

Sunday, November 11, 2018

डब्ल्यूआईसी: किड्स फैशन शो ‘डैजल’ का आयोजन -

Saturday, November 10, 2018

देव संस्कृति विश्वविद्यालय में राज्यपाल ने किया शौर्य दीवार का अनावरण -

Saturday, November 10, 2018

व्हाट्सएप ग्रुप पर सुसाइड नोट पोस्ट और शव पेड़ पर मिला लटका -

Saturday, November 10, 2018

आइटीबीपी का उत्तराखंड से अटूट रिश्ता….. -

Saturday, November 10, 2018

बजरंग पूनिया बने दुनिया के नंबर एक पहलवान -

Saturday, November 10, 2018

‘भारत’ फिल्म की फाइनल शूटिंग के लिए पंजाब पहुंचे सलमान -

Saturday, November 10, 2018

शीतकाल के लिए केदारनाथ और यमुनोत्री धाम के कपाट हुए बंद -

Saturday, November 10, 2018

उत्तराखंड : “मैड” ने की प्लास्टिक की घर वापसी -

Friday, November 9, 2018

उत्तराखंड में आ रहा परिवर्तन ……… -

Friday, November 9, 2018

गाय को बचाने के लिए नहर में लगाई, जानिए खबर -

Friday, November 9, 2018

सीएम त्रिवेंद्र का हरिद्वार नगर निगम अधिकारियों को कड़ी फटकार, जानिए खबर

cm uk

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने हरिद्वार नगर निगम अधिकारियों को कड़ी फटकार लगाते हुए जनपद हरिद्वार में कूड़ा निस्तारण शीघ्र सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने अधिकारियों को चेतावनी दी कि यदि शहर में कूड़ा निपटान की व्यवस्था ससमय सुनिश्चित न कि गई तो सम्बन्धित अधिकारियों के विरूद्ध सख्त से सख्त कार्यवाही की जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वच्छता अभियान सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकताओं में है। ससमय कूड़ा निपटान व सार्वजनिक स्थलों की सफाई में जरा सी भी लापरवाही बर्दाश्त नही की जाएगी। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि जनहित के कार्यो में अधिकारी जनता के चुने हुए जनप्रतिनिधियों के साथ समन्वय बनाकर कार्य करे तथा सहयोगात्मक रवैया अपनाए। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत सोमवार को सचिवालय में जनपद हरिद्वार के सौन्दर्यीकरण एवं हरितीकरण के सम्बन्ध में बैठक ले रहे थे। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने जिलाधिकारी हरिद्वार को जनपद हरिद्वार के बाहरी क्षेत्रों में बूचड़खानों से निकलने वाले खून व मांस को नालों में सीधा प्रवाहित करने की घटनाओं पर कड़ाई से रोक व सख्त निगरानी के निर्देश दिए। स्थानीय लोगों की शिकायत का संज्ञान लेते हुए मुख्यमंत्री ने जिलाधिकारी हरिद्वार को बरसात के दौरान सीवरेज ट्रीटमेंट प्लान्ट के बन्द होने की घटनाओं के जांच के आदेश दिए। उन्होंने नालों को एसटीपी (सीवरेज ट्रीटमेन्ट प्लान्ट) से जोड़ने व सफाई सुनिश्चित करने हेतु तत्काल टेक्निकल सर्वे व अन्य प्रकरणों के निपटान के लिए निर्देश दिए। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि हमें 2021 हरिद्वार कुंभ से पूर्व राज्यभर के लगभग 135 नाले जिसमें कि 23 हरिद्वार में स्थित है की स्वच्छता व पुनर्जीवीकरण सुनिश्चित करना हैं। उन्होंने आगामी हरिद्वार कुंभ से पूर्व गंगा को निर्मल बनाये जाने की बात कही। मुख्यमंत्री ने कहा कि नालों की साफ-सफाई व ठोस अपशिष्ट के प्रबन्धन हेतु दीर्घकालीन योजनाओं के साथ तत्काल प्रभाव वाली लघुकालीन योजनाओं पर भी कार्य करने की जरूरत है। बैठक में परमार्थ निकेतन द्वारा चन्द्रेश्वर नाले को मात्र 5 दिन के बहुत कम अवधि में स्वच्छ व सौन्दर्यीकृत किए जाने के सफल प्रयास पर एक प्रस्तुतिकरण दिया गया। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि अधिकारियों द्वारा परमार्थ निकेतन के उक्त प्रयास को पाइलेट प्रोजेक्ट के रूप में अन्य नालों के ट्रीटमेन्ट व सौन्दर्यीकरण के लिए भी क्रियान्वित किया जाना चाहिए। उन्होंने निर्देश दिए कि इस प्रोजेक्ट को लागू करने हेतु शीघ्र ही टेक्निकल सर्वे करवाया जाए। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने निर्देश दिए कि जब तक राज्यभर के नालों के ट्रीटमेन्ट हेतु सीवरेज ट्रीटमेन्ट प्लान्ट स्थापित नही कर लिए जाते विभिन्न नालों के तत्काल ट्रीटमेन्ट हेतु चन्द्रेश्वर नाले में किए गए सफल प्रयास को क्रियान्वित करने के संभावनाओं पर कार्य किया जाए। बैठक के दौरान प्रशासन व सीएसआर फण्ड के सहयोग से जनपद हरिद्वार में विभिन्न घाटों के पुनर्विकास व सौन्दर्यीकरण, योगा पार्क विकसित करने, विभिन्न सड़कों, प्रवेश द्वारों व कुण्डों के सौन्दर्यीकरण, वृक्षारोपण, मल्टीलेवल पार्किंग विकसित करने पर चर्चा की गई। बैठक में कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक, विधायक आदेश चौहान, स्वामी यतीश्वरानन्द, देशराज कर्णवाल, प्रदीप बत्रा, संजय गुप्ता, प्रमुख सचिव आनन्द बर्द्धन, सचिव अरविंद ह्यांकी , जिलाधिकारी हरिद्वार दीपक रावत, परमार्थ निकेतन के स्वामी चिदानन्द मुनि सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Leave A Comment