Breaking News:

भाई की पुकार…….. -

Monday, August 3, 2020

भाजपा उत्तराखंड में 5 अगस्त को दीपमाला प्रकाशित कर मनाएगी उत्सव -

Monday, August 3, 2020

ऋषिकेश : दुर्घटना में चोटिल मां-बेटे को स्पीकर ने अपनी गाड़ी पहुंचाया अस्पताल -

Monday, August 3, 2020

उत्तराखंड: राजभवन में दो साल से मुसीबत का सबब बना उत्पाती बंदर रेस्क्य टीम ने दबोचा -

Monday, August 3, 2020

उत्तराखंड: आज इस जिले में मिले कोरोना के 100 से अधिक मरीज, जानिए खबर -

Monday, August 3, 2020

भाषा बोली किसी भी संस्कृति एवं सभ्यता का होता है आईना : मंत्री प्रसाद नैथानी -

Sunday, August 2, 2020

रक्षाबन्धन : आंगनबाड़ी और आशा कार्यकत्रि के खाते में एक-एक हजार रुपये की सम्मान राशि मिलेगी -

Sunday, August 2, 2020

उत्तराखंड: आज इन जिलों में मिले कोरोना के अधिक मरीज, जानिए खबर -

Sunday, August 2, 2020

पाताल से भी ढूढ निकालेंगे रिया चक्रवर्ती को : बिहार पुलिस -

Sunday, August 2, 2020

देहरादून : सार्वजनिक स्थानों पर मास्क न पहनने पर 532 लोगों का चालान किया -

Sunday, August 2, 2020

उत्तर प्रदेश : कैबिनेट मंत्री कमल रानी वरुण की कोरोना से मौत -

Sunday, August 2, 2020

डमरूधारी भोला भण्डारी वीडियो गीत को किया लांच, जानिए खबर -

Saturday, August 1, 2020

उत्तराखंड : नरेश बंसल ने नई शिक्षा नीति लागू होने पर खुशी जताई -

Saturday, August 1, 2020

रक्षाबंधन के दिन सुबह 9.29 बजे तक भद्रा रहेगी, उसके बाद पूरे दिन राखी बांधने का समय -

Saturday, August 1, 2020

सकारात्मक पोस्ट के साथ दुष्प्रचार का भी जवाब दें सोशल मीडिया प्रभारीः मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र -

Saturday, August 1, 2020

उत्तराखंड: आज 264 कोरोना के नए मामले मिले -

Saturday, August 1, 2020

बद्रीनाथ धाम के प्रसाद अब देश और विदेश के श्रद्वालुओं को ऑनलाइन  मिलना शुरू, जानिए खबर -

Saturday, August 1, 2020

भारत : पूरे देश मे कोरोना मरीजो की संख्या पहुँची 17 लाख के करीब -

Saturday, August 1, 2020

उत्तराखंड: आज दो जिले को छोड़ बाकी सभी जिलों में मिले नए कोरोना मरीज, जानिए खबर -

Friday, July 31, 2020

उत्तराखंड | वरिष्ठ आईएएस अफसर ओमप्रकाश ने मुख्य सचिव पद का कार्यभार ग्रहण किया -

Friday, July 31, 2020

सीएम त्रिवेंद्र ने किया “दून हाट” का लोकार्पण, जानिए खबर

देहरादून | हथकरघा और हस्तशिल्प को बढ़ावा देने के लिए नावार्ड योजना के अन्तर्गत नव निर्मित दून हाट का गुरूवार को मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित त्रिवेन्द्र सिंह रावत, माननीय मुख्यमंत्री उत्तराखण्ड सरकार ने लोकार्पण किया। विशिष्ट अतिथि के रूप में रोशनलाल सेमवाल माननीय उपाध्यक्ष, यू.एच.एच.डी.सी एवं गणेश जोशी माननीय विधायक मसूरी, देहरादून उपस्थिति रहें मुख्य अतिथि त्रिवेन्द्र सिंह रावत, माननीय मुख्यमंत्री उत्तराखण्ड सरकार ने दून हाट के लिए सभी को बधाई दी। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड की पारंपरिक परिधानों व उत्पादों को एक छत के नीचे लाया गया है। जहां उत्तराखण्ड के सभी हथकरघा और हस्तशिल्पियों को अपने उत्पादों को प्रदर्शित करने का सुनहरा अवसर मिलेगा। उन्होंने कहा कि दून हाट के माध्यम से स्वरोजगार विकसित होगा। ‘‘उत्तराखण्ड राज्य शिल्प रत्न’’ पुरस्कार प्राप्त करने वाले सभी शिल्पियों को बधाई दी।

सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम विभाग द्वारा स्थानीय उत्पादों के साथ-साथ हथकरघा और हस्तशिल्प उत्पादों के विपणन प्रोत्साहन हेतु दून हाट का शुभारम्भ किया गया है। नावार्ड के सहयोग से नवनिर्मित दून हाट को दिल्ली हाट की तर्ज पर एक ऐसे स्थान के रूप में विकसित किया जा रहा है, जहां देश-विदेश के पर्यटकों को राज्य के स्थानीय उत्पादों के साथ-साथ संस्कृति, कला एंव विशिष्टताओं से परिचित होने का अवसर मिल सकें।दून हाट में स्थानीय उत्पादों के विपणन प्रोत्साहन हेतु 14 स्टॉल/दुकानों का निर्माण किया गया है, जिसमें समय-समय पर राज्य के विभिन्न जनपदों के लघु उद्यमियों, बुनकर एवं शिल्पियों को स्थानीय उत्पादों के विपणन प्रोत्साहन हेतु स्थान उपलब्ध कराया जायेगा। साथ ही हिमाद्रि एवं हिलांस के स्थायी इम्पोरियम भी इस हाट में स्थापित किये जा रहे है। इस अवसर पर दून हाट में राज्य के शिल्पियों द्वारा विकसित किये गये विभिन्न उत्पादों की एक प्रदर्षनी दिनांक 12 दिसंबर से 16 दिसंबर, 2019 तक आयोजित की जा रही है, जिसमें विशिष्ट जनपदों के स्थानीय उत्पाद विपणन हेतु उपलब्ध होगें।उत्तराखण्ड के अतिरिक्त अन्य प्रान्तों के उत्पादों के विपणन के उद्देश्य से विभिन्न कार्यक्रमों को आयोजित किये जाने हेतु दून हाट का वार्षिक कैलेण्डर तैयार किया जा रहा है, जिसके माध्यम से देश-विदेश के पर्यटक राज्य के स्थानीय उत्पादों के साथ-साथ अन्य प्रान्तों द्वारा विकसित किये गये उत्पादों, कला एवं विशिष्टताओं से परिचित हो सकेंगें। दून हाट को एक मोस्ट विजिटिंग डेस्टिनेशन के रूप में विकसित किया जायेगा। स्थानीय उत्पादों एवं शिल्प को राज्य सरकार द्वारा बढावा दिये जाने के उद्देश्य से जनपद स्तर पर भीमतला (चमोली), विण (पिथौरागढ़) एवं काशीपुर (ऊधमसिंहनगर) में भी नावार्ड के सहयोग से रूरल हाट स्थापित किये जा रहे हैं। इस अवसर पर पांच सिद्ध हस्तशिल्पियों को मुख्यमंत्री द्वारा उत्तराखण्ड राज्य शिल्प रत्न पुरस्कार 2018 भी दिया दिया गया। जिसमें ग्राम व पोस्ट ढालवाला, टिहरी गढ़वाल निवासी श्रीमती बीना पुण्डीर, ऋषिकेश रोड़, चम्बा टिहरी गढ़वाल निवासी श्रीमती ऊषा नकोटी, पिथौरागढ़ निवासी किशन राम, रानीखेत अल्मोड़ा निवासी भुवन चन्द्र शाह एवं बागेश्वर निवासी ललिता प्रसाद हैं। पांच दिवसीय प्रदर्शनी में हिमाद्री के साथ ही उत्तराखण्ड के सभी जनपदों के हथकरघा एवं हस्तशिल्प के स्टॉल लगाये जायेंगे। उन्होंने कहा कि दून हाट को विपणन केन्द्र के रूप में विकसित करना है। प्रदर्शनी के दौरान संस्कृति विभाग द्वारा रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों को भी आयोजन किया जायेगा। इस अवसर पर मनीषा पंवार प्रमुख सचिव, सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्यम, सुधीर नौटियाल निदेशक, उद्योग निदेशालय, शैली डबराल उपनिदेशक, उद्योग निदेशालय, एमएस नेगी, अनुपम द्विवेदी, केसी चमोली मौजूद रहे।

Leave A Comment