Breaking News:

30 साल से बिना वेतन के संभालते हैं गंगाराम जी ट्रैफिक, जानिए खबर -

Saturday, September 22, 2018

रमेश सिप्पी को भा गई दून की वादियां, उत्तराखंड फिल्म इंडस्ट्री का भविष्य -

Saturday, September 22, 2018

रोटी डे क्लब 23 सितंबर को मनाएगा रोटी दिवस महोत्सव -

Friday, September 21, 2018

शौचालयों के संबंध में कैग की रिपोर्ट पर निदेशक की स्पष्टीकरण , जानिए खबर -

Friday, September 21, 2018

उत्तराखंड : सदन में पटल पर रखी गई कैग की रिपोर्ट -

Friday, September 21, 2018

पर्यटन स्थलों को स्वच्छ रखना सभी की सामूहिक जिम्मेदारीः राज्यपाल -

Friday, September 21, 2018

डीएम मंगेश घिल्डियाल राइंका खेड़ाखाल में जाकर बच्चों को पढ़ाया -

Friday, September 21, 2018

Asia Cup 2018: भारत-पाकिस्तान के बीच फिर होगा मुकाबला, जानिए खबर -

Friday, September 21, 2018

इस साल दो पीढ़ियों ने एक साथ बनाया गणेशोत्सव और मुहर्रम -

Friday, September 21, 2018

निवेशकों की पहली पसंद बन रहा है उत्तराखण्ड -

Thursday, September 20, 2018

गोविंदा इस ऐक्टर को मानते है सबसे मेहनती, जानिए खबर -

Thursday, September 20, 2018

हार्दिक पंड्या चोटिल, स्ट्रेचर पर मैदान से बाहर ले जाए गए -

Thursday, September 20, 2018

उत्तराखंड : 22 सितम्बर को ‘रेलवे स्वच्छता दिवस’ -

Thursday, September 20, 2018

बाजार में नकली हेलमेटों की बाढ़ -

Thursday, September 20, 2018

दून में आयोजित करेंगी जुड़वा पर्वतारोही बहनें नुंग्शी व ताशी बेस कैंप फेस्टिवल आॅफ इंडिया -

Thursday, September 20, 2018

विधानसभा में गाय को राष्ट्रमाता घोषित करने के अनुरोध का संकल्प पारित -

Wednesday, September 19, 2018

पाकिस्तान से क्रिकेट पर शर्तों के साथ प्रतिबंध नहीं होना चहिए -

Wednesday, September 19, 2018

2500 बच्चियों को शिक्षा के लिए 90 दिन में तय करेंगे 6 हजार किमी -

Wednesday, September 19, 2018

‘मेंटल है क्या’ की राइटर का खुलासा, जानिए खबर -

Wednesday, September 19, 2018

फर्जी प्रमाणपत्रों के जरिए फर्जी तरीके से नौकरी कर रहे हैं कई लोगः चौहान -

Wednesday, September 19, 2018

सीएम ने की ‘डेस्टीनेशन उत्तराखण्ड इन्वेस्टर्स समिट’ तैयारियों की समीक्षा

cm-uk

देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा है कि इन्वेस्टर्स समिट के लिए फुलप्रूफ व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाएं। सभी तैयारियां हर हाल में इस माह के अंत कर ली जाएं। समिट में शामिल होने वाले उद्यमियों व निवेशकों को हर जरूरी जानकारी आसानी से उपलब्ध हों। इसके लिए पर्याप्त संख्या में काउंटर हों और उच्च स्तरीय अधिकारियों को इसकी जिम्मेवारी दी जाए। इन्वेस्टर्स समिट के आयोजन स्थल पर उत्तराखण्ड की प्राकृतिक सुंदरता व संस्कृति की झलकी दिखाई दे। मुख्यमंत्री सचिवालय में आयोजित बैठक में 7 व 8 अक्टूबर को देहरादून में होने वाले ‘डेस्टीनेशन उत्तराखण्ड: इन्वेस्टर्स समिट’ की तैयारियों की समीक्षा कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि समिट में प्रतिभाग करने के लिए देश विदेश से बड़ी संख्या में उद्योगपति, विभिन्न कम्पनियों के सीईओ, उद्यमी आएंगे। उन्हें बताया जाए कि उत्तराखण्ड में निवेश करना उनके लिए कैसे फायदेमंद है। उनकी हर जिज्ञासा का समाधान हो। इसके लिए सभी विभागीय अधिकारियों खासतौर पर समिट में फोकस किए जा रहे क्षेत्रों से संबंधित अधिकारियों के फिंगरटिप्स पर हर तरह की अद्यतन जानकारियां होनी चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि निवेशकों के लिए बैकवर्ड लिंकेज की उपलब्धता पर भी विशेष ध्यान रखा जाए। इसके लिए यथासम्भव महिला स्वयं सहायता समूहों को जोड़ा जाए। तकनीकी काॅलेजों व विश्वविद्यालयों के चुनिंदा छात्रों को भी इसमें प्रतिभाग करने का अवसर दिया जाए। इससे उन्हें काफी कुछ सीखने को मिलेगा। हम इस मौके का लाभ उत्तराखण्ड के पर्यटन विशेष रूप से विंटर टूरिज्म को प्रोमोट करने में भी कर सकते हैं। पर्यटन भी इन्वेस्टर्स समिट का प्रमुख फोकस क्षेत्र है। इसमें ‘फोग फ्री विंटर टूरिज्म’ पंच लाईन हो सकती है।  मुख्यमंत्री ने कहा कि शहर की साफ सफाई, सड़कों का सुधारीकरण, सौंदर्यीकरण आदि काम युद्धस्तर पर किए जाएं। हर हाल में इस माह के अंत तक सारी तैयारियां पूरी कर ली जाएं। समिट में भाग लेने वाले निवेशकों व उद्यमियों को परोसे जाने वाले भोजन में उत्तराखण्ड के व्यंजन भी रखे जाएं। बैठक में बताया गया कि मुख्य आयोजन देहरादून के महाराणा प्रताप स्पोर्ट्स स्टेडियम में किया जाएगा। यहां की तैयारियों का ब्लू प्रिंट बना लिया गया है और उसके अनुरूप व्यवस्थाएं की जा रही हैं। आॅन लाईन रजिस्ट्रेशन प्रारम्भ किए जा चुके हैं। इसके अलावा उद्यमियों को आमंत्रण भी भेजे गए हैं। 12 सेक्टर्स बनाकर सचिव स्तर के अधिकारियों को इनकी जिम्मेवारी दी गई है। प्रवेश स्थान पर वेन्यू मैप भी प्रदर्शित होगा। दो दिवसीय सत्र के उद्घाटन सत्र को प्रधानमंत्री व समापन सत्र को केंद्रीय गृह मंत्री सम्बोधित करेंगे। दो दिवसीय समिट के दौरान कृषि व खाद्य प्रसंस्करण, मैन्यूफेक्चरिंग, शिक्षा व कौशल, इन्फ्रास्ट्रक्चर, आईटी, हेल्थ व वैलनैस, फिल्म शूटिंग विषयों पर सत्र आयोजित किए जाएंगे। इनमें विभिन्न केंद्रीय मंत्री, राज्य सरकार के मंत्री, सचिव व देश के जाने माने उद्योगपति व्याख्यान देंगे। सभी व्यवस्थाओं के लिए 8 समितियां बनाई गई हैं। बैठक में मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह, मुख्यमंत्री के औद्योगिक सलाहकार डाॅ.के.एस.पंवार, तकनीकी सलाहकार डाॅ.नरेन्द्र सिंह, प्रमुख सचिव डाॅ. मनीषा पंवार, आनंद वर्द्धन, डाॅ. भूपिंदर कौर औलख, सचिव आर.के.सुधांशु, दिलीप जावलकर, नितेष झा, राधिका झा सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Leave A Comment