Breaking News:

मेयर से मांगी ज़रूरतमंदो के लिए मदद, जानिए खबर -

Wednesday, April 8, 2020

उत्तराखंड : शाक्य बौद्ध समुदाय ने मुख्यमंत्री राहत कोष में 23 लाख रूपये की राशि दी -

Wednesday, April 8, 2020

सीएम, मंत्रियों व विधायकों के वेतन मेें होगी 30 प्रतिशत की कटौती -

Wednesday, April 8, 2020

दून के तीन होटलों को सरकार ने किया अधिग्रहित -

Wednesday, April 8, 2020

उत्तराखण्ड पीसीएस एसोसिएशन 15 दिन के वेतन का चेक सीएम राहत कोष में दिया -

Wednesday, April 8, 2020

नैनीताल बैंक प्रधानमंत्री राहत कोष में देगा 15 लाख रुपये की धनराशि -

Wednesday, April 8, 2020

लॉकडाउन : मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने अधिकारियों से लिए फीडबैक -

Tuesday, April 7, 2020

सीएम त्रिवेन्द्र ने शहीद जवान अमित कुमार और देवेंद्र सिंह की पार्थिव देह पर पुष्प चक्र अर्पित कर दी श्रद्धांजलि -

Tuesday, April 7, 2020

सफाई कार्मिकों को किया पुरस्कृत, जानिए खबर -

Tuesday, April 7, 2020

फूल उगाने वाले किसानों के चेहरे मुरझाए, जानिए खबर -

Tuesday, April 7, 2020

हेल्प मी वेलफेयर सोसायटी ने गरीबों की मदद किये -

Tuesday, April 7, 2020

उत्तराखंड में पांच और कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आए, संक्रमित मरीजों की संख्या हुई 31 -

Monday, April 6, 2020

सीएम ने उत्तराखंड के जवानों की शहादत को नमन किया -

Monday, April 6, 2020

उत्तराखंड : मुख्यमंत्री कैम्प कार्यालय में बेहतर समन्वय के लिए बनाया गया कंट्रोल रूम -

Monday, April 6, 2020

पौड़ी : पाबौ में चट्टान से गिरने से महिला की मौत -

Monday, April 6, 2020

जुबिन नौटियाल ने ऑनलाइन शो से कोरोना फाइटर्स को कहा थैंक्यू -

Monday, April 6, 2020

अनूप नौटियाल व डा. दिनेश चौहान रहे कोरोना वाॅरियर -

Monday, April 6, 2020

पहल : देहरादून में 7745 भोजन पैकेट वितरित किये गये -

Sunday, April 5, 2020

सीएम त्रिवेन्द्र ने परिवार संग दीप जला कर हौसला बढाने का दिया सन्देश -

Sunday, April 5, 2020

उत्तराखंड में चार और कोरोना पाॅजीटिव मामले सामने आए, संख्या 26 हुई -

Sunday, April 5, 2020

सेंट थाॅमस काॅलेज का शताब्दी समारोह प्रारम्भ

stc-100

विद्यालय की ओर से शताब्दी वर्ष 2016 का कैलेण्डर जारी किया गया

देहरादून। सेंट थाॅमस काॅलेज के शताब्दी समारोह का शुभारम्भ किया गया। आज सेंट थाॅमस काॅलेज ने अपनी स्थापना के सौ वर्ष पूरे कर दिए हैं। इस मौके पर विद्यालय की ओर से शताब्दी वर्ष (2016) का कैलेण्डर भी जारी किया गया। प्रिंसिपल आरवी गार्डनर ने विद्यालय के बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि आज जो स्कूल एक ईमारत के रूप में दिखाई दे रहा है, उस स्कूल का आरम्भ मात्र तीन कमरों के स्कूल से किया गया था। सौ वर्ष पूरे करना स्कूल की बहुत बड़ी उपलब्धी है। गार्डनर ने पूर्व प्रधानाध्यापकों को धन्यवाद दिया, जिनके सहयोग से एक ऐसे विद्यालय की स्थापना की गई, जहां बच्चों को शिक्षा को दी जाती है साथ में उनके व्यक्तित्व व चरित्र को भी निखारा जाता है। शिक्षक-शिक्षिकाओं के प्रति अपना आभार व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि स्कूल को उन्नति की ओर ले जाने में उनके स्टाॅफ का भी उन्हें पूर्ण सहयोग प्राप्त हुआ। उनके सहयोग के बिना शायद यह सम्भव नहीं था। भविष्य में भी वह अपने शिक्षक-शिक्षिकाओं में इसी तरह सहयोग की कामना करते हैं, ताकि वह अपने देश को इसी तरह सभ्य नागरिक प्रदान कर देश की उन्नति में सहायक सिद्ध हो। विद्यालय की ओर से शताब्दी वर्ष (2016) का एक कैलेण्डर भी प्रसारित किया गया। जिसमें पूरे वर्ष के कार्यक्रमों का ब्यौरा दिया गया है। कार्यक्रम का आरम्भ सर्वधर्म प्रार्थना से किया गया। उसके माध्यम से यह संदेश देने की चेष्टा की जायेगी कि हम सब एक ही ईश्वर की संतान हैं, धर्म व जाति मानव को अलग नहीं कर सकती। मानवता हमारा धर्म है। विद्यालय की 100वीं वर्षगांठ पर विद्यालय के सौ छात्र व छात्राएं वृद्धों, निर्बल तथा असहाय लोगों की सहायता एवं सेवा हेतु सदैव अपना योगदान देने के लिए तैयार रहेंगे। विद्यालय के भूतपूर्व छात्र भी इस शुभ अवसर पर दून घाटी को सुन्दर बनाने का प्रयास करेंगे तथा यातायात के साधनों को भी सुधारने की चेष्टा करेंगे। शताब्दी के अवसर पर 100 गुब्बारे तथा एक कबूतर, शान्ति का प्रतीक छोड़ा जायेगा। गुब्बारे छोड़कर ईश्वर से प्रार्थना करेंगे कि जिस तरह ये गुबारे आकाश की ऊंचाइयों को छूने का प्रयास कर रहे हैं, वैसे ही विद्यालय भी निरन्तर उन्नति करें। इस अवसर पर सौ वर्ष अर्थात शाताब्दी का प्रतीक भी प्रसारित किया गया।

Leave A Comment