Breaking News:

उत्तराखंड : त्रिवेंद्र सिंह रावत सरकार के 6 माह … -

Tuesday, September 19, 2017

उत्तराखंड : राष्ट्रपति के रूप में प्रेसिडेंट रामनाथ कोविंद का पहला दौरा 23 सितम्बर को -

Tuesday, September 19, 2017

हनीप्रीत बनी राखी सावंत , जानिए ख़बर -

Tuesday, September 19, 2017

झारखंड के कतरास में 230 लोगों ने मांगी इच्छा मृत्यु , जानिए ख़बर -

Tuesday, September 19, 2017

नए भारत निर्माण में स्वच्छता निभाएगी महत्वपूर्ण भूमिका : सीएम -

Monday, September 18, 2017

‘हिमालय लोक समृधि वृक्ष अभियान’ रूपी पहल को घर घर पहुंचाए जनता -

Monday, September 18, 2017

‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ होगा बंद ! -

Monday, September 18, 2017

जरा हटके : 15 साल की उम्र में बनी माँ , अब है आठ बच्चों की माँ … -

Monday, September 18, 2017

समाज के विकास के लिए महिलाओं को पुरूषों के समान अधिकार मिलना जरूरी : सीएम -

Monday, September 18, 2017

‘‘स्वच्छता ही सेवा’’ के तहत सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने झाड़ू लगाकर किया श्रमदान -

Sunday, September 17, 2017

18 नवंबर को मसूरी में लोट-पोट करेंगी ‘गुत्थी’ -

Sunday, September 17, 2017

बांग्लादेश जाने वाले रोहिंग्या शरणार्थियों की संख्या हुई 389,000 -

Sunday, September 17, 2017

आखिर कहा नवजात बच्चों को मिलती है ग्रेजुएशन, जानिए खबर -

Sunday, September 17, 2017

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दी जन्मदिन की बधाई -

Saturday, September 16, 2017

खेल ट्रांसपेरेंट कपड़ो की… -

Saturday, September 16, 2017

रेयान इंटरनेशनल स्कूल केस : हत्यारा कोई और है – वकील मोहित वर्मा -

Saturday, September 16, 2017

जब कुत्ते ने हत्यारों के घर लेकर पहुंचा पुलिस , जानिए खबर -

Saturday, September 16, 2017

देहरादून की सफाई व्यवस्था निरीक्षण हेतु हर वार्ड में नामित होंगे नोडल अधिकारी -

Saturday, September 16, 2017

उत्तराखंड : सचिवालय परिसर में पीक थूकना पडेगा महंगा -

Saturday, September 16, 2017

गरीबी नहीं रोक सकी अंतरराष्ट्रीय स्तर की पहलवान बनाना, जानिए खबर .. -

Friday, September 15, 2017

स्मार्ट सिटी बनाने पर पर्यावरण का रहेगा ध्यान : हरीश रावत

harish-cm

मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा है कि देहरादून में स्मार्ट सिटी के संबंध में व्यक्त की गई तमाम शंकाओं व चिंताओं को राज्य सरकार ने गम्भीरता से लेते हुए इनका समाधान किया है। इसीलिए स्मार्ट सिटी को स्केल डाउन करते हुए इसके एरिया को 350 एकड़ से नीचे रखा गया है। जीएमएस रोड़ स्थित एक होटल में अमर उजाला द्वारा स्मार्ट सिटी पर आयोजित संवाद कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री रावत ने कहा कि विकास के इतिहास में एक फेज दूसरे फेज को टेकओवर करता है। पूर्व केंद्र सरकार द्वारा जेएनएनयूआरएम के जरिए शहरों व कस्बों को ट्रांसफोर्म किया जा रहा था। वर्तमान केंद्र सरकार स्मार्ट सिटी व अमृत शहर की कन्सेप्ट लाई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र द्वारा स्मार्ट सिटी के लिए प्रारम्भिक तौर पर चयनित शहरों में देहरादून को शामिल किया गया है। हमारे सामने दो विकल्प थे। पहला, वर्तमान देहरादून में ही रेट्रोफिटिंग कन्सेप्ट के साथ बदलाव लाते। इसके लिए नगर निगम को आगे आना होता। परंतु वर्तमान में नगर निगम देहरादून की स्थिति ऐसी नहीं है कि इसमें कुछ विशेष कर पाता। दूसरा, एक नए क्षेत्र को स्मार्ट कन्सेप्ट के साथ विकसित करते। इसमें मसूरी की तरफ नहीं बढ़ा जा सकता था। रायपुर में वन क्षेत्र आ जाता है। डोईवाला में कृषि भूमि है जो कि चीनी मिल को सपोर्ट करता है। इससे सैंकड़ों लोगों की आजीविका जुड़ी है। सर्वश्रेष्ठ विकल्प चाय बागान की भूमि थी। मुख्यमंत्री ने कहा कि चाय बागान की भूमि पर अतिक्रमण होने लग रहे थे और अवैध प्लाटिंग भी देखने को मिल रही थी। हमने लोगों द्वारा व्यक्त की गई शंकाओं को पूरी गम्भीरता से लिया है और इनका समाधान किया है। चाय बागान में वर्तमान में कार्यरत मजदूरों को स्मार्ट सिटी में रोजगार उपलब्ध करवाया जाएगा और उन्हें अच्छा घर भी उपलब्ध करवाया जाएगा। जो लोग वहां खेती कर रहे हैं या जिन्होंने प्लाट क्रय किए हैं उनके हितों की सुरक्षा भी सुनिश्चित की जाएगी। एफआरआई से यह बताने को कहा गया है कि स्मार्ट सिटी में पर्यावरणीय कारणों से कितना ग्रीन कवर आवश्यक है, उतनी भूमि इसके लिए चिन्हित कर दी जाएगी।

Leave A Comment