Breaking News:

देहरादून : सिटी बस संघ के 145 चालकों एवं परिचालकों को दिया राशन -

Saturday, July 4, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 3093, आज कुल 45 नए मरीज मिले -

Saturday, July 4, 2020

कोरोना की लड़ाई में लगातार सतर्कता जरूरी: सीएम उत्तराखंड -

Saturday, July 4, 2020

आरडी प्रोडक्शन पूरे करेगा मॉडलिंग और एक्टिंग के सपने , जानिए खबर -

Saturday, July 4, 2020

“दिल बेचारा” सुशांत की आखिरी फ़िल्म को लेकर खुलासा -

Saturday, July 4, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 3048, आज कुल 64 नए मरीज मिले -

Friday, July 3, 2020

आरटीआई कार्यकर्ता सैफअली सिद्दीकी के पत्र पर राज्य अल्पसंख्यक आयोग ने जांच के आदेश दिए , जानिए खबर -

Friday, July 3, 2020

उत्तराखंड में बने जड़ी बूटी मंडी : डा. राणा -

Friday, July 3, 2020

त्रिवेन्द्र सरकार ने जारी की 11 करोड़, जानिए क्यों -

Friday, July 3, 2020

कोरियोग्राफर सरोज खान नही रही …. -

Friday, July 3, 2020

अनलॉक-2 की गाईडलाइन जारी , जानिए खबर -

Thursday, July 2, 2020

राज्य सरकार अन्य राज्यों के मुख्यमंत्रियों को गंगा जल करेगी भेंट -

Thursday, July 2, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 2984, आज कुल 37 नए मरीज मिले -

Thursday, July 2, 2020

लोकगायक जीत सिंह नेगी के नाम पर होगा संस्कृति विभाग का प्रेक्षागृह -

Thursday, July 2, 2020

समाजसेवी अरुण कुमार यादव को बनाया गया खेल विकास संगठन उत्तराखंड का राज्य सलाहकार -

Thursday, July 2, 2020

भारत की चिंगारी के आगे फीका पड़ा चीनी टिकटाक , जानिए खबर -

Thursday, July 2, 2020

रोटी डे क्लब ने जरूरतमंद बच्चों को खिलाया खाना , जानिए खबर -

Wednesday, July 1, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 2947, आज कुल 66 नए मरीज मिले -

Wednesday, July 1, 2020

डॉक्टर्स डे पर डॉ शिव सिंह पाल एवं डॉ मुकुल शर्मा हुए सम्मानित -

Wednesday, July 1, 2020

जेब मे थे बस 419 रुपये जब आया था मुंबई : अन्नू कपूर -

Wednesday, July 1, 2020

हैलो उत्तराखंड ऐप अब तीन क्षेत्रीय भाषाओं का अनुवाद हिंदी, इंग्लिश समेत 100 से ज्यादा भाषाओं में

देहरादून । हैलो उत्तराखंड गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध एक पब्लिक यूटिलिटी मोबाईल ऐप है। एन्ड्रॉयड फोन पर चलने वाला यह ऐप विदेशी एवं भारतीय पर्यटकों के लिए एक मल्टीलिंग्वल ट्रांसलेशन ऐप के रूप में काम करता है, जो उन्हें स्थानीय लोगों द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली क्षेत्रीय भाषा को समझने में मदद करेगा। उत्तराखंड में तीन मुख्य क्षेत्रीय भाषाओं-गढ़वाली, जौनसारी और कुमाऊँनी भाषा का इस्तेमाल होता है। इस ऐप का मुख्य उद्देश्य लोगों द्वारा एक दूसरे की भाषा को समझने में आने वाली परेशानी को दूर करना है।  विदेशी नागरिक इस ऐप का उपयोग कर फ्रेंच, इंग्लिश, जर्मन, चाईनीज, जापानी, रशियन, इटैलियन, स्पैनिश एवं स्वीडिश आदि भाषाओं में अनुवाद कर सकते हैं। भारतीय पर्यटक इस ऐप का उपयोग कर हिंदी या इंग्लिश का अनुवाद कर सकते हैं। ‘हैलो उत्तराखंड’ एक टेक्नॉलॉजी इनेबल्ड कम्युनिटी डेवलपमेंट सेवा है, जिसका उद्देश्य उत्तराखंड में रहने वाले लोगों की सामाजिक व आर्थिक स्थिति में सुधार करना है। वर्ड मैपिंग में योगदान देने वाले यूजर के लिए आज बीटा वर्जन का लॉन्च किया गया। जब तक इसका अंतिम लॉन्च नहीं हो जाता, तब तक और ज्यादा बीटा वर्जन अपडेट प्रस्तुत किए जाएंगे। यह ऐप देहरादून स्थित आईटी सॉल्यूशन एक्सपर्ट, डेटा साईंटिस्ट एवं सामाजिक उद्यमी, आकाश शर्मा द्वारा विकसित किया गया है। आकाश इससे पूर्व सफल एन्ड्रॉयड-आधारित ऐप, जैसे ‘उत्तराखंड पुलिस ऐप’ विकसित कर चुके हैं, जिसके 1 लाख से ज्यादा डाउनलोड किए गए और यह उत्तराखंड का नं. 1 मोबाईल ऐप बन गया। यह ऐप राज्य में टेक्नॉलॉजी को बढ़ावा देने के सरकार के अभियान के अनुरूप विकसित किया गया है। उन्होंने क्षेत्रीय गेमिंग ऐप्स जैसे ‘पिठू बत्ती’ और ‘बाघ बकरी’ के विकास के लिए भी काम किया गया, जो गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध हैं। ‘‘हैलो उत्तराखंड’’ मोबाईल ऐप के लॉन्च की तैयारी में इसके संस्थापक एवं डेवलपर, आकाश शर्मा ने कहा, ‘‘मेरी टीम इस ऐप पर दो सालों से ज्यादा समय से काम कर रही है। यह काफी चुनौतीपूर्ण एवं मुश्किल यात्रा थी। हमने 100 से ज्यादा लोगों के बीच विस्तृत शोध की और ऐप में क्षेत्रीय भाषा का डेटा एकत्रित कर फीड किया। हमें उम्मीद है कि यह ऐप उत्तराखंड के पर्यटन उद्योग को बढ़ावा देने में मदद करेगा।

Leave A Comment