Breaking News:

कांग्रेस बागी विधायकों के लिए फिर दरवाजे खोलने को तैयार ! -

Monday, November 18, 2019

सीएम ने स्वच्छ कॉलोनी के पुरस्कार से किया सम्मानित, जानिए खबर -

Monday, November 18, 2019

पर्वतीय क्षेत्रों में 500 उपभोक्ता पर एक मीटर रीडर हो ,जानिए खबर -

Monday, November 18, 2019

ईरान एवं भारत में है गहरा सांस्कृतिक सम्बन्धः डॉ पण्ड्या -

Monday, November 18, 2019

गांधी पार्क में ओपन जिम का सीएम त्रिवेंद्र ने किया लोकार्पण -

Monday, November 18, 2019

स्मार्ट सिटी हेतु 575 करोड़ रूपए के कामों का हुआ शिलान्यास, जानिए खबर -

Sunday, November 17, 2019

मिसेज दून दिवा सेशन-2 के फिनाले में पहुंचे राहुल रॉय , जानिए खबर -

Sunday, November 17, 2019

शीघ्र ही नई शिक्षा नीति : निशंक -

Sunday, November 17, 2019

उत्तराखंड : युवा इनोवेटर्स ने विकसित किए ऊर्जा दक्ष वाहन -

Sunday, November 17, 2019

यमकेश्वर : कार्यरत स्टार्ट अप को मुख्यमंत्री ने दिए 10 लाख रूपए -

Sunday, November 17, 2019

भगवा रक्षा दल : पंकज कपूर बने प्रदेश मीडिया प्रभारी -

Saturday, November 16, 2019

उत्तराखण्ड स्कूलों में वर्चुअल क्लास शुरू करने वाला बना पहला राज्य -

Saturday, November 16, 2019

सूचना कर्मचारी संघ चुनाव : भुवन जोशी अध्यक्ष , सुषमा उपाध्यक्ष एवं सुरेश चन्द्र भट्ट चुने गए महामंत्री -

Saturday, November 16, 2019

रेस लगाना पड़ा महंगा, हादसे में तीन की मौत -

Saturday, November 16, 2019

पब्लिक रिलेशंस सोसाइटी आफ इंडिया : 41वीं नेशनल कान्फ्रेंश के ब्रोशर का हुआ विमोचन -

Saturday, November 16, 2019

अन्तर्राष्ट्रीय सम्मेलन में भारत से साध्वी भगवती सरस्वती ने किया सहभाग -

Saturday, November 16, 2019

देहरादून में हुआ भाजपा के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा का भव्य स्वागत, जानिए खबर -

Friday, November 15, 2019

भिक्षा मांग रहे बच्चो को भिक्षा की जगह शिक्षा दे : एडीजी अशोक कुमार -

Friday, November 15, 2019

हरिद्वार : पर्यटकों के लिए खुले राजा जी रिजर्व पार्क के दरवाजे -

Friday, November 15, 2019

शहर में दूसरा प्लास्टिक बैंक हुई स्थापित, जानिए खबर -

Friday, November 15, 2019

10वीं के छात्र ने कैदियों की रिहाई के लिए डोनेट की अपनी स्कॉलरशिप, जानिए खबर

pahal

भोपाल | दसवीं में पढ़ने वाले भोपाल के छात्र आयुष किशोर ने उन कैदियों के लिए उम्मीद की एक किरण बना हैं जो अपनी सजा तो काट चुके हैं लेकिन जुर्माना न भर पाने की वजह से सलाखों के पीछे हैं। वह स्वतंत्रता दिवस पर इन्हें जेल से बाहर निकलवाएंगे। इस साल आयुष अपना 14वां जन्मदिन मना रहे हैं, इसलिए उन्होंने 14 ऐसे कैदियों को छुड़ाने का फैसला किया है।2016 नैशनल चाइल्ड अवॉर्ड फॉर एक्सेप्शनल अचीवमेंट इन एकेडमिक्स जीतने वाले आयुष को राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने सम्मानित किया था। स्वतंत्रता दिवस पर स्कॉलरशिप के 27,850 रुपये डोनेट करके आयुष यह अच्छा कदम उठाने जा रहे हैं। जो समाज के प्रति एक नयी मिसाल बनेगी | इस साल गणतंत्र दिवस के मौके पर भी आयुष ने ऐसे चार कैदियों को जेल से निकलवाया था। इन 14 कैदियों में से 12 इंदौर जेल से और दो भोपाल के हैं, इन सभी पर हत्या का मामला साबित हुआ था। आयुष को उसके स्कूल से भी ऑल-राउंडर होने के चलते कई स्कॉलरशिप्स मिली हैं। उसने कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में गोल्ड मेडल जीते हैं। आयुष ने बताया, ‘जब माँ ने देखा कि इन पैसों से मैं दूसरों की मदद करना चाहता हूँ ‘ तो माँ ने मुझे कहा की , उन कैदियों को रिहा करवाने में मदद करो जो जुर्माना न भर पाने के चलते अतिरिक्त सजा काट रहे हैं। जिससे जब वो कैदी रिहा हो तो समाज को प्रेरित करे | उनकी माँ विनीता मालवीय भी इस फैसले पर गर्व महसूस करती हैं।

Leave A Comment