Breaking News:

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 958 -

Monday, June 1, 2020

उत्तराखंड : कोरोना मरीजो की संख्या 929 हुई, चम्पावत में 15 नए मामले मिले -

Monday, June 1, 2020

जागरूकता: तंबाकू छोड़ने की जागरूकता के लिए स्वयं तत्पर होना जरूरी -

Monday, June 1, 2020

मदद : गांव के छोटे बच्चों को पढ़ा रही भावना -

Monday, June 1, 2020

नही रहे मशहूर संगीतकार वाजिद खान -

Monday, June 1, 2020

नेक कार्य : जरूरतमन्दों के लिए हज़ारो मास्क बना चुकी है प्रवीण शर्मा -

Sunday, May 31, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या पहुँची 907, आज 158 कोरोना मरीज मिले -

Sunday, May 31, 2020

सोशल डिस्टन्सिंग के पालन से कोरोना जैसी बीमारी से बच सकते है : डाॅ अनिल चन्दोला -

Sunday, May 31, 2020

कोरोंना से बचे : उत्तराखंड में मरीजो की संख्या 802 हुई -

Sunday, May 31, 2020

उत्तराखंड : 1152 लोगों को दून से विशेष ट्रेन से बेतिया बिहार भेजा गया -

Sunday, May 31, 2020

पूर्व सीएम हरीश रावत ने किया जनता से संवाद, जानिए खबर -

Sunday, May 31, 2020

प्रदेश में खेती को व्यावसायिक सोच के साथ करने की आवश्यकताः सीएम त्रिवेंद्र -

Sunday, May 31, 2020

अनलॉक के रूप में लॉकडाउन , जानिए खबर -

Saturday, May 30, 2020

कोरोना का कोहराम : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 749 -

Saturday, May 30, 2020

रहा है भारतीय पत्रकारिता का अपना एक गौरवशाली इतिहास -

Saturday, May 30, 2020

पहचान : फ्री ऑन लाइन कोचिंग दे रहे फुटबाल कोच विरेन्द्र सिंह रावत, जानिए खबर -

Saturday, May 30, 2020

एक वर्ष की सफलता ने प्रधानमंत्री मोदी को बनाया विश्व नेता : सीएम त्रिवेंद्र -

Saturday, May 30, 2020

श्री विश्वनाथ मां जगदीशिला डोली के आयोजन स्थलों पर पौधारोपण होगा : नैथानी -

Friday, May 29, 2020

हरेला पर 16 जुलाई को वृहद स्तर पर पौधारोपण किया जाएगाः सीएम -

Friday, May 29, 2020

छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी का निधन -

Friday, May 29, 2020

10वीं के छात्र ने कैदियों की रिहाई के लिए डोनेट की अपनी स्कॉलरशिप, जानिए खबर

pahal

भोपाल | दसवीं में पढ़ने वाले भोपाल के छात्र आयुष किशोर ने उन कैदियों के लिए उम्मीद की एक किरण बना हैं जो अपनी सजा तो काट चुके हैं लेकिन जुर्माना न भर पाने की वजह से सलाखों के पीछे हैं। वह स्वतंत्रता दिवस पर इन्हें जेल से बाहर निकलवाएंगे। इस साल आयुष अपना 14वां जन्मदिन मना रहे हैं, इसलिए उन्होंने 14 ऐसे कैदियों को छुड़ाने का फैसला किया है।2016 नैशनल चाइल्ड अवॉर्ड फॉर एक्सेप्शनल अचीवमेंट इन एकेडमिक्स जीतने वाले आयुष को राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने सम्मानित किया था। स्वतंत्रता दिवस पर स्कॉलरशिप के 27,850 रुपये डोनेट करके आयुष यह अच्छा कदम उठाने जा रहे हैं। जो समाज के प्रति एक नयी मिसाल बनेगी | इस साल गणतंत्र दिवस के मौके पर भी आयुष ने ऐसे चार कैदियों को जेल से निकलवाया था। इन 14 कैदियों में से 12 इंदौर जेल से और दो भोपाल के हैं, इन सभी पर हत्या का मामला साबित हुआ था। आयुष को उसके स्कूल से भी ऑल-राउंडर होने के चलते कई स्कॉलरशिप्स मिली हैं। उसने कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में गोल्ड मेडल जीते हैं। आयुष ने बताया, ‘जब माँ ने देखा कि इन पैसों से मैं दूसरों की मदद करना चाहता हूँ ‘ तो माँ ने मुझे कहा की , उन कैदियों को रिहा करवाने में मदद करो जो जुर्माना न भर पाने के चलते अतिरिक्त सजा काट रहे हैं। जिससे जब वो कैदी रिहा हो तो समाज को प्रेरित करे | उनकी माँ विनीता मालवीय भी इस फैसले पर गर्व महसूस करती हैं।

Leave A Comment