Breaking News:

अरविंद पांडेय ने हरेला कार्यक्रम के अंर्तगत “मेरा गांव हरा भरा गांव” अभियान का किया शुभारंभ -

Monday, July 6, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 3161, आज कुल 37 नए मरीज मिले -

Monday, July 6, 2020

विरेन्द्र सिंह रावत बने खेलों मास्टर गेम्स फाउंडेशन इंडिया उत्तराखंड के महासचिव -

Monday, July 6, 2020

उत्तराखंड के हित में सदैव करते रहेंगे धरने प्रदर्शनः आप -

Monday, July 6, 2020

डॉ0 रमेश पोखरियाल ’निशंक’ ने पब्लिक रिलेशंस सोसायटी ऑफ इण्डिया के ’विजय भारत अभियान’ का किया शुभारम्भ -

Monday, July 6, 2020

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना में गड़बड़ी पर डीएसओ होंगे जिम्मेवार : सीएम त्रिवेंद्र -

Monday, July 6, 2020

सीएम त्रिवेंद्र ने कहा कोविड-19 को लेकर पांच बातों पर विशेष जोर जरूरी, जानिए खबर -

Sunday, July 5, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 3124, आज कुल 31 नए मरीज मिले -

Sunday, July 5, 2020

अनुष्का विराट और कोरोना महामारी का समय …… -

Sunday, July 5, 2020

उत्तराखंड : तीन महिलाओं की कोसी नदी में डूबने की खबर, एक महिला का मिला शव -

Sunday, July 5, 2020

जरा हटके : यह शख्स सोने के मास्क का कर रहे उपयोग -

Sunday, July 5, 2020

देहरादून : सिटी बस संघ के 145 चालकों एवं परिचालकों को दिया राशन -

Saturday, July 4, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 3093, आज कुल 45 नए मरीज मिले -

Saturday, July 4, 2020

कोरोना की लड़ाई में लगातार सतर्कता जरूरी: सीएम उत्तराखंड -

Saturday, July 4, 2020

आरडी प्रोडक्शन पूरे करेगा मॉडलिंग और एक्टिंग के सपने , जानिए खबर -

Saturday, July 4, 2020

“दिल बेचारा” सुशांत की आखिरी फ़िल्म को लेकर खुलासा -

Saturday, July 4, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 3048, आज कुल 64 नए मरीज मिले -

Friday, July 3, 2020

आरटीआई कार्यकर्ता सैफअली सिद्दीकी के पत्र पर राज्य अल्पसंख्यक आयोग ने जांच के आदेश दिए , जानिए खबर -

Friday, July 3, 2020

उत्तराखंड में बने जड़ी बूटी मंडी : डा. राणा -

Friday, July 3, 2020

त्रिवेन्द्र सरकार ने जारी की 11 करोड़, जानिए क्यों -

Friday, July 3, 2020

8000 करोड़ के फर्जीवाड़े का खुलासा, जानिए खबर

देहरादून । आयुक्तालय जीएसटी देहरादून की 55 टीमों ने 70 व्यापार स्थलों पर सर्वेक्षण करके लगभग 8000 करोड़ के फर्जीवाड़े का खुलासा किया है।विभाग को पिछले कुछ महीने से खबर मिल रही थी कि उत्तराखंड राज्य में कुछ लोगों के द्वारा जीएसटी के तहत फर्जी तरीके से पंजीकरण कराकर करोड़ों रुपए का कारोबार ईवे बिल के माध्यम से किया जा रहा है जिसके बाद गोपनीय रूप से जांच करने के बाद पाया गया कि 70 फलों के द्वारा राज्य के भीतर व बाहर 2 महीने में 8000 करोड रुपए के ई वे बिल बनाए गए हैं। जिनके गहनता से जांच करने पर पता चला कि इन 70 में से 34 वर्ग दिल्ली से मशीनरी और कंपाउंड दाना की खरीद के हुए बिल बना रही थी जिनका मूल्य लगभग 1200 करोड़ है उसके बाद इन्फॉर्म द्वारा आपस में ही खरीद बिक्री के साथ-साथ बाहर के फॉर्म को भी खरीद बिक्री दिखाई जा रही थी इस प्रकार देखा गया कि यह बिल की वास्तविक मूल्य तो 1200 करोड़ है जिसमें वह बिल के माध्यम से मूल्य वर्धन करते हुए धनराशि 8000 करोड रुपए तक पहुंच जाती है। 26 फर्म से चप्पल की बिक्री अन्य राज्यों आंध्र प्रदेश राजस्थान तमिलनाडु और महाराष्ट्र को दिखाई जा रही थी जबकि मौके पर कोई भी फॉर्म नहीं पाई गई और ना ही कोई पंजीकृत व्यक्ति जिससे पता चलता है कि इस फर्जीवाड़े के दायरे में अन्य राज्यों दिल्ली हरियाणा आंध्र प्रदेश तमिलनाडु महाराष्ट्र राजस्थान तक फैला हुआ है जिसके संबंध में अभी जांच जारी है जांच पूरी करते हैं इन राज्यों को भी रिपोर्ट प्रेषित की जाएगी।

Leave A Comment