Breaking News:

केदारनाथ धाम में सात फीट तक हुई बर्फवारी -

Thursday, January 24, 2019

“तुम मुझे खून दो, मै तुम्हे आजादी दूँगा ” के नारों से गुजा आसमाँ -

Thursday, January 24, 2019

डीएम व एसएसपी ने गणतंत्र दिवस पर परेड मैदान का निरीक्षण किया -

Wednesday, January 23, 2019

बर्फ गलाकर पानी पीने को मजबूर , जानिए खबर -

Wednesday, January 23, 2019

जनता से जुड़े मामलों को शीर्ष प्राथमिकता दी जाये : सीएम त्रिवेन्द्र -

Wednesday, January 23, 2019

फिल्‍ममेकर प्रदीप शर्मा के बेटे प्रियांक शर्मा करने जा रहे है फिल्‍म डेब्‍यू -

Wednesday, January 23, 2019

सीएमएस में अपोलो-मेडिक्स ने सैनेटरी नैपकिन वेंडिंग मशीन लगाई -

Wednesday, January 23, 2019

सड़क किनारे भूख से तड़प रही दिव्यांग बुजुर्ग को कॉन्स्टेबल ने खिलाया खाना, जानिए खबर -

Wednesday, January 23, 2019

गोरखा कल्याण परिषद हो शीघ्र गठन : पदम सिंह थापा -

Wednesday, January 23, 2019

15वें प्रवासी भारतीय दिवस सत्र का पीएम मोदी ने किया शुभारम्भ -

Tuesday, January 22, 2019

गति फाउंडेशन ने जारी की स्वच्छता सर्वेक्षण पर रिपोर्ट -

Tuesday, January 22, 2019

मसूरी में सीजन का पहला हिमपात , जानिए ख़बर -

Tuesday, January 22, 2019

दो फरवरी को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह दून में -

Tuesday, January 22, 2019

उत्तराखंड यूथ फेस्टिवल के लिए आयोजित हुआ ऑडिशन -

Tuesday, January 22, 2019

23 जनवरी को युवा कांग्रेस की क्रांति यात्रा पहुँचेगी दून -

Tuesday, January 22, 2019

मानव विकास में देहरादून प्रथम, जानिए ख़बर -

Monday, January 21, 2019

सीएम त्रिवेन्द्र प्रयागराज कुंभ पर्व में हुए सम्मिलित -

Monday, January 21, 2019

नेत्रदान के लिए गांव ने फैलाई जागरूकता, जानिए खबर -

Monday, January 21, 2019

रिलीज़ हुआ फिल्म ‘टोटल धमाल’ का मजेदार ट्रेलर -

Monday, January 21, 2019

देहरादून से 3 नए शहरों के लिए हवाई सेवा शुरू -

Monday, January 21, 2019

सड़क किनारे भूख से तड़प रही दिव्यांग बुजुर्ग को कॉन्स्टेबल ने खिलाया खाना, जानिए खबर

doon

दमोह | अपनो के लिए तो सभी सोचते है पर दुसरो के दर्द को अपना बहुत ही कम लोग महसूस करते है जी हां पर इन्ही कम लोगो मे है यातायात कांस्टेबल दिनेश जो अपने इस डयूटी रूपी फर्ज के साथ साथ मानवता रूपी ड्यूटी को को भी बखूबी निभा रहे है | यातायात पुलिस विभाग में पदस्थ एक प्रधान आरक्षक मानवसेवा करते हुए डयूटी करने के लिए पहचाने जाने लगे हैं। वह अपनी डयूटी भी बखूबी निभाते हुए लोगों की मदद के लिए पीछे नहीं हटते हैं। ऐसा ही एक नजारा शहर के एवरेस्ट लॉज तिराहा पर देखने को…

Read More

नेत्रदान के लिए गांव ने फैलाई जागरूकता, जानिए खबर

eyes

कन्याकुमारी | मडठट्टूविलई गांव कन्याकुमारी का जिला है | अगर इस गांव में किसी की मौत हो जाती है तो सबसे पहले चर्च के पादरी को उसकी सूचना दी जाती है। उसके बाद घंटा बजाया जाता है और मौत का ऐलान किया जाता है। इसके साथ ही गांव के युवाओं को यह संदेश मिल जाता है कि मृतक के परिवार को नेत्रदान के लिए तैयार करें। जब परिवार निधन की सूचना देने में व्यस्त होता है तो नेत्र चिकित्सालय की एक टीम गांव में जाकर आंखें निकालकर उनकी जगह आर्टिफिशल आंखें लगा देती है जो बिलकुल असली आंखों सी लगती…

Read More

कभी बीनते थे कूड़ा अब है चंडीगढ़ के मेयर , जानिए खबर

pehchan

चंडीगढ़ | राजनीति में ऐसे स्थिति पर सीढिया चढ़ना जो उस मुकाम तक नही पहुँच पाते उनके लिए प्रेरणास्रोत है यह ख़बर जी हां हम बात कर रहे है 46 वर्षीय राजेश कालिया की जो चंडीगढ़ के नए मेयर हैं. राजेश कालिया को शनिवार को हुए एक चुनाव में 20 में से 16 मत हासिल हुए और वह चंडीगढ़ के प्रथम नागरिक बन गए. राजेश वाल्मीकि समुदाय से ताल्लुक रखते हैं और उनके पिता कुंदनलाल एक सफाई कर्मी के तौर पर सेवानिवृत्त हुए. उनका एक भाई आज भी सफाई कर्मी के तौर पर कार्य कर रहा है. अपने घर के…

Read More

डीएम ने अपनी बेटी को पढ़ने भेजा आंगनबाड़ी , जानिए खबर

praba

चेन्नई | दक्षिण भारत में तिरुनेलवेली जिला तमिलनाडु में पड़ता है। 2009 बैच की आईएएस अधिकारी शिल्पा प्रभाकर आजकल यहां पर डीएम हैं। वह जिले की पहली महिला डीएम भी हैं। आईएएस अधिकारी शिल्पा प्रभाकर ने एक ऐसी मिसाल पेश कर दी है, जो आमतौर पर साधन संपन्न लोग नहीं करते। उन्होंने अपनी बेटी को किसी प्राइवेट प्ले स्कूल में भेजने की बजाय आंगनबाड़ी केंद्र में भेजने का निर्णय लिया। देश में सरकारी स्कूलों और आंगनबाड़ी की हालत किसी से छिपी नहीं है। लेकिन डीएम शिल्पा प्रभाकर इस इलाके में जबरदस्त तरीके से आंगनबाड़ी की मदद कर रही हैं। उन्होंने…

Read More

8 साल के लड़के ने की माउंट कोसकीउसजको पहाड़ की चढ़ाई…

samanyu_pothuraju

हैदराबाद के 8 साल के भारतीय लड़के ने ऑस्ट्रेलिया के सबसे ऊंचे पहाड़ माउंट कोसकीउसजको की चढ़ाई करने में सफलता हासिल की है | एएनआई के मुताबिक, मां लवन्या और बहन सहित 5 लोगों की टीम के साथ समन्यू 12 दिसंबर को माउंट कोसकीउसजको के टॉप पर पहुंचे | इससे पहले समन्यू पोठुराजू ने अफ्रीका की सबसे ऊंची चोटी पर भी चढ़ाई की थी | समन्यू ने कहा कि अब तक वे 4 पहाड़ चढ़े हैं| उन्होंने अपने भविष्य की योजनाओं के बारे में भी बताया | उन्होंने कहा कि आगे इरादा जापान के माउंट फुजी पर चढ़ने का है…

Read More

बेसहारा बच्‍चों के लिए देवदूत बने यह दंपती, जानिए खबर

pahal

ओडिशा के पिछड़े इलाके कालाहांडी में अनाथ बच्‍चों के लिए एक दंपती देवदूत बनकर सामने आया है। श्‍यामसुंदर और उनकी पत्‍नी कसूरी जशोदा आश्रम के नाम से अनाथालय चलाते हैं। फिलहाल यहां 23 लड़के और 113 लड़कियां रह रही हैं। इन बच्‍चों को श्‍यामसुंदर ने अपना नाम भी दिया है। ये पति-पत्‍नी सड़क पर बेसहारा घूमने वाले बच्‍चों को अपने घर लेकर आते हैं और उनके पालन-पोषण का पूरा जिम्‍मा उठाते हैं। आम जनता के चंदे से चलने वाले इस अनाथ आश्रम को सरकारी मदद भी मिलती है। अपने नेक काम के चलते इलाके में इस दंपती की ख्‍याति बढ़ती…

Read More

जरूरतमन्द बच्चों के संग पर्ल चैरिटेबल सोसाइटी ने मनाया क्रिसमस

pearl

कला, पुरस्कार, मज़ा… बच्चे मन के सच्चे देहरादून | पर्ल चैरिटेबल सोसाइटी (पर्ल ग्रुप एशिया) बच्चे आम तौर पर मजेदार समारोहों में भाग लेने के लिए उत्सुक होते हैं, क्योंकि वे कुछ असामान्य या उनके सामान्य दिनचर्या से अलग करने की इच्छा रखते है। पर्ल चैरिटेबल सोसाइटी ने 25 दिसंबर, 2018 को एमकेपी कॉलेज ग्राउंड, देहरादून में एक समारोह का आयोजन किया, जो की यमुना मिशन फाउंडेशन और ब्लड फ्रेंड द्वारा प्रायोजित किया गया। बच्चों के मनोरंजन के लिए आयोजित कार्यक्रम में विभिन्न आयु वर्ग के लगभग 2300 बच्चों को विभिन्न संस्थाओं से आमंत्रित किया गया था। जिसमें, आसरा फाउंडेशन,…

Read More

मृत लोगों के लिए मसीहा बना यह शख्स, जानिए खबर

pahal

सूरत | गुजरात के रहने वाले 55 वर्षीय वेनीलाल मालवाला एक ऐसे शख्स हैं जो सबकुछ भूलकर उन लोगों के लिए काम करते हैं, जिनके बारे में कोई नहीं सोचता। वेनीलाल पेशे से कारोबारी हैं लेकिन उनके लिए पैसे कमाना ही सबकुछ नहीं है। वह ऐसी लाशों का अंतिम संस्कार करते हैं जो लावारिस होती हैं। इस काम में वेनीलाल अपनी जेब से रुपये खर्च करते हैं। बीते 18 वर्षों से अब तक वह 7,000 लाशों का अंतिम संस्कार कर चुके हैं। वेनीलाल का जरी का व्यवसाय है लेकिन लावारिस लाशों के अंतिम संस्कार के आगे वह अपने व्यापार पर…

Read More

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत दिव्यांग बच्चों के साथ मनाया अपना जन्मदिवस

देहरादून | मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने युवाओ से रक्तदान करने व रक्तदान के प्रति जागरूकता बढ़ाने का आहवाहन किया है। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने अपील की है कि आपका दिया एक यूनिट खून चार लोगो की जिन्दगी बचा सकता है। पहले लोगो के मन में भ्रम था कि रक्तदान करने से कमजोरी या अन्य कोई दिक्कत हो सकती है परन्तु आज वह भ्रम दूर हुआ है। यह अति प्रसन्नता की बात है कि आज लोग अधिकाधिक रक्तदान में भागीदारी कर रहे है। ऐसे रक्तदाता जो लगातार हर साल रक्तदान करते है, अन्य लोगो को रक्तदान के लिए प्रेरित कर रहे…

Read More

गाड़ी में पानी भरकर प्रोफेसर ने सींचा सूखे पौधों को ,जानिए खबर

pahal

ग्रेटर नोएडा के एक प्रफेसर को जहरीली हो रही हवा की उन्हें चिंता सताए रहती है। और धरती की फिक्र है इसलिए वह चर्चा-परिचर्चा से दूर जमीन पर उतरकर हवा को कम जहरीला बनाने का काम कर रहे हैं। आईटीएस इंजिनियरिंग कॉलेज में कम्प्यूटर साइंस के प्रफेसर डॉ. कुलदीप मलिक रोज सुबह दूध के डिब्बों में पानी भरकर अपनी आठ लाख की गाड़ी में रखते और आसपास लगे सूखे पौधों को सींचकर उन्हें सांस देते हैं ताकि हम भी साफ हवा में सांस ले सकें। उनका साथ कुछ स्टूडेंट्स भी दे रहे हैं। ग्रेटर नोएडा के नॉलेज पार्क स्थित आईटीएस…

Read More