Breaking News:

देहरादून : हजारो लोगों के बीच पीएम मोदी ने किया योग -

Thursday, June 21, 2018

रोज योग करने का सीएम त्रिवेंद्र ने दिया सन्देश …… -

Wednesday, June 20, 2018

सफर देवभूमि से योगभूमि तक का ……. -

Wednesday, June 20, 2018

ग्रेटर नोएडा में पतंजलि मेगा फूड पार्क के लिए रास्ता साफ जानिए ख़बर -

Wednesday, June 20, 2018

उत्तराखंड सरकार को हाईकोर्ट से झटका जानिए ख़बर -

Wednesday, June 20, 2018

पिरूल घास से डीजल, तारकोल, तारपीन का तेल तथा बिजली की जा रही पैदा, जानिए ख़बर -

Wednesday, June 20, 2018

कलाकारों से नहीं होने देंगे कोई भेदभाव : चन्द्रवीर गायत्री -

Wednesday, June 20, 2018

21 जून अंतरराष्ट्रीय योग दिवस को लेकर रिहर्सल, जानिए ख़बर -

Tuesday, June 19, 2018

जम्मू कश्मीर सरकार गिरी, बीजेपी ने पीडीपी से तोड़ा गठबंधन जानिए ख़बर -

Tuesday, June 19, 2018

नारायणबगड़ में शीघ्र ही खुलेगा डिग्री काॅलेज, जानिए ख़बर -

Tuesday, June 19, 2018

उत्तराखंड को 18 साल बाद बीसीसीआइ से मिली मान्यता जानिए ख़बर -

Tuesday, June 19, 2018

सीएम से पांच देशों की सागर परिक्रमा पूर्ण करने वाली लेफ्टिनेंट कमाण्डर वर्तिका एवम उनकी टीम ने की भेंटवार्ता -

Tuesday, June 19, 2018

देवभूमि से एक और लाल हुआ शहीद, जानिए ख़बर -

Tuesday, June 19, 2018

महिला अधिकारी योग के प्रति की जन जागरुकता -

Tuesday, June 19, 2018

पेट्रोल, डीजल पर उत्पाद शुल्क में कटौती की संभावना को अरुण जेटली ने किया खारिज -

Tuesday, June 19, 2018

मुख्यमंत्री ने शहीद जवान विकास गुरूंग को श्रद्धांजलि दी -

Monday, June 18, 2018

सत्येंद्र जैन और मनीष सिसोदिया की तबीयत बिगड़ी, अस्पताल में भर्ती -

Monday, June 18, 2018

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र से केन्द्रीय ग्रामीण विकास राज्यमंत्री रामकृपाल यादव ने की शिष्टाचार भेंट -

Monday, June 18, 2018

आयरनमैन बनाम अल्ट्रामैन जानिए ख़बर -

Monday, June 18, 2018

आॅडिशन में प्रतिभागियों ने बिखेरे जलवे, जानिए ख़बर -

Monday, June 18, 2018

युवाओं का नशा देश भक्ति में हो न कि नशा पदार्थों में

nasha na karo

    आज हमारा देश युवाओं के भविष्य पर टीका है देश के युवा जिस दिशा में जा रहे है वह देश के लिए घातक होगा। अनेक युवा नशा खोरी एवं नशे में लिप्त पाए जा रहे हे जिससे यह संकेत मिलना लाजमी है देश का भविष्य किस तरपफ जा रहा है युवाओं का ताकत देश को सवारने में लगना चाहिए न कि नशा के माध्यम से ताकत को कमजोर करना चाहिए। इस क्रम में परिवार के लोग अपने बच्चों को अच्छे संस्कार दे तथा सही गलत की पहचान करने की क्षमता प्रदान करे। माता- पिता इतनी मुश्किलों से अपने बच्चों…

Read More

बुलेट ट्रेन या ट्रेनो की वृद्धि एंव विद्युतिकरण जरूरी

tren

      मोदी सरकार का रेल बजट एंव आम बजट आया लोगो के लिए क्या अच्छा सौगात लाया है देश की जनता इसे अलग-अलग नजरिया से देख रही है। यदि बात रेल बजट का करे तो मोदी सरकार बुलेट ट्रेन की सौगात जनता को लुभाने के लिए ला रही है। परन्तु देश में ट्रेनों  की संख्या में कमी सभी ट्रेनों  का विद्युतिकरण का न होना यहाँ तक कि देश के कई हिस्सो में ट्रेन का न चलना एंव ट्रेनो में उच्चस्तरीय सुविधाये न होना को नजर अन्दाज कर 80 हजार करोड़ का एक बुलेट ट्रेन चलाना देश एंव देश…

Read More

डीएवी कालेज, छात्र नेता और छात्रों का भविष्य

dav p g dehradun

    देहरादून डीएवी कालेज छात्रों का भविष्य कालेज प्रशासन के हाथ में नहीं के बराबर और छात्र नेताओ के हाथ में अधिक लगता है . हाल ही में छात्र नेता चुनाव के समय में छात्रों के बीच उनके भविष्य के लिए अनेक लुभावने वादे किये थे परन्तु समय परिवर्तन के साथ साथ वक्त बदलता रहा .हम बात कर रहे है डीएवी कालेज की , डीएवी छात्र संघ अध्यक्ष ने छात्रों के भविष्य के साथ ऐसा खिलवाड़ किया जिसकी उमीद छात्रों को भी नहीं थी.डीएवी में कैम्पस प्लेसमेंट के समय छात्र संघ अध्यक्ष ने दबंगई दिखा कर आईबीएम जैसी प्रतिष्ठित…

Read More

इंडिया और भारत ?

आजादी मिलने से अब तक हमारा देश भारत और इंडि़या के बीच फंसा हुआ है। देश में इंडि़या, इंडि़या बनता जा रहा है। और भारत, भारत। जी हाँ बात अमीरी और गरीबी की हो रही है। देश में जहाँ विकास हुआ है वहाँ विकास पे विकास हो रहा है परन्तु जहाँ देश विकास से महरूम है वहाँ सरकार एंव प्रशासन की कोई नजर नही हैं। जिस देश में अरबों रूपये का आई.पी.एल. होता है इसी देश में करोड़ो बी.पी.एल धारक पंजीकृत हैं जो देश को इंडि़या और भारत में विभाजित करते है। सरकार एंव प्रशासन देश से गरीबी दूर करने…

Read More

चंदन का सपना हुआ साकार

चंदन की उम्र महज 14 साल है लेकिन इस उम्र में ही उसने उस फाइटर प्लेन के कॉकपिट में बैठने का सपना पूरा कर लिया जिस तक पहुंचना भी बेहद मुश्किल होता है।चंदन का सपना है कि बड़ा होकर वह फाइटर प्लेन पायलट बने लेकिनए उसका सपना पूरा होता इससे पहले ही उसे एक ऐसी बीमारी लग गई जो लाइलाज है।असल में चंदन की उम्र महज 14 साल है और उसे बोन कैंसर है। डॉक्टरों के मुताबिक वह कुछ दिनों का ही मेहमान है। दिल्ली के एक एनजीओ को जब चंदन के सपने के बारे में पता चला तो उसने…

Read More

बेटियां बोझ नही

कामनवेल्थ खेल में जहाँ भारत पाचवे स्थान पर रहा वही इंग्लैड पहले स्थान पर रहा। इस खेल में भारत के प्रतिनिधित्व की बात करे तो भारत की तरफ से महिला खिलाडि़यों का पदक का जीतना एक शुभ संकेत है। यह वही भारत है जहाँ घरों में लड़कियों के जन्म होते ही मायूसी छा जाती है कही-कही तो जन्म होने से पहले ही उनका जीवन समाप्त कर दिया जाता है। इन मांशिकता वाले लोगों को यह पदक वीर महिला खिलाडि़यो ने एक सच्चे रास्ते पर लाने की पहल की है। इस इवेन्ट के कुशती, निशानेबाजी, मुक्केबाजी, एंव अन्य खेलों में पदक जीतकर…

Read More

दहेज उत्पीड़न एक अपराध

pahal

    कानून बनता हैं जनता के मद्द के लिए। जिससे जनता अपने हक के लिए लड़ाई लड़ सकें उसे इंसाफ मिल सकें। हमारे देश में महिलाओं पर हो रहें अत्याचार रोकथाम के लिए अनेक कानूनों को लागू किया गया परन्तु इसी कानून द्वारा मद्द के साथ साथ इसका गलत इस्तेमाल होने लगा। अगर हम बात दहेज उत्पीड़न की करें तों कुछ गलत महिलायें इस कानून का ससुराल पक्ष पर गलत इस्तेमाल भी करती हैं। इसके साथ साथ बलत्कार के मामलें में भी अब कुछ गलत महिलायें इस कानून का गलत प्रयोग करकें लोगों को झूठे आरोप में फंसाती हैं…

Read More

बेरोजगारी एक समस्या

pahal

    बेरोजगारी की समस्यादेश की युवाओं के लिए एक ऐसास्तम्भबनतीजारहीहैंजोटूटनेकानाम नही लेरहीहैं।देश के युवाबेरोजगारहोनेपरकिसीअन्य रास्तेपरजाने के लिए मजबूरहोरहेंहैंकहतेहैंहालातसबकुछसिखातीहैंठीकउसीप्रकार एक पढा लिखातबकाबेरोजगारी के हालातमेंकिसीगलतरास्तेकोअपनालेतेहैंजोदेश के लिए एक अभिशापजैसाहैंपहचान एक्सप्रेसपहलकरतीहैंसरकारइससमस्याकाहलनिकालेजिससेदेश के साथसाथ युवाओंकाभविष्य अन्धकारसेउजाले के ओरजायें।

Read More

अमीरों का कानून

हमारे देश का कानून आज के दौर में अमीरों के लिए सौगात के बराबर लगता हैं गरीबो के लिए औकात के बराबर लगता हैं। यह जुमला इस दौर में उचित बैठता हैं हार्इ कोर्ट, सुप्रीम कोर्ट के वकीलो की फीस की बात हो या निचले अदालत के वकीलों की फीस की बात। कुछ सामाजिक वकीलों द्वारा गरीबी तबके के लोगो से बिना फीस लिए केस लड़ते हैं यहां तक तथ्य तो सही हैं इसके अलावा जिनके पास केस लड़ने के लिए रूपये नही होते वह इस कानून की लड़ार्इ में पहले ही हारा हुआ महसूस करते हैं। पैसे रूपये वालो…

Read More