Breaking News:

पासपोर्ट बनवाने वालो के लिए आई यह खबर … -

Sunday, January 21, 2018

“आप” के समर्थन में विपक्ष हुआ एकजुट -

Sunday, January 21, 2018

ब्लाइंड क्रिकेट वर्ल्ड कप जीता भारत -

Sunday, January 21, 2018

सुपर डांसर्स शो : दून क्लेमेनटाउन निवासी आकाश थापा को जरूर वोट की -

Saturday, January 20, 2018

डीएम ईवा ने सुनीं जनसमस्याएं -

Saturday, January 20, 2018

आइडिया के अनलिमिटेड रिचार्ज पर पाएं 3300 रूपये का कैशबैक -

Saturday, January 20, 2018

फेसबुक माध्यम से बजट के लिए लोगों से मांगे सुझाव -

Saturday, January 20, 2018

दर – दर भटक रही है अपने बच्चे के साथ यह महिला, जानिए खबर -

Thursday, January 18, 2018

बिग बॉस के इस प्रतिभागी का चेहरा सर्जरी से हुआ खराब, जानिए है कौन -

Thursday, January 18, 2018

प्रदेश में भू कानून में परिवर्तन की मांग को लेकर “हम” का धरना -

Thursday, January 18, 2018

शासकीय योजनाओं का हो व्यापक प्रचार-प्रसार : डाॅ.पंकज कुमार पाण्डेय -

Thursday, January 18, 2018

केंद्रीय वित्तमंत्री के समक्ष सीएम ने रखी ग्रीन बोनस की मांग -

Thursday, January 18, 2018

कांटों वाले बाबा को हर कोई देख है दंग … -

Wednesday, January 17, 2018

फिल्म पद्मावत फिर पहुंची एक बार कोर्ट, जानिए खबर -

Wednesday, January 17, 2018

बालिकाओ ने जूडो, बैडमिंटन, फुटबाल, वालीबाल, बाक्सिंग में दिखाई दम -

Wednesday, January 17, 2018

उत्तराखंड के उत्पादों का एक ही ब्रांड नेम होना चाहिए : उत्पल कुमार सिंह -

Wednesday, January 17, 2018

पर्वतीय राज्यों को मिले 2 प्रतिशत ग्रीन बोनस : सीएम -

Wednesday, January 17, 2018

सिर दर्द हो तो करे यह उपाय …. -

Monday, January 15, 2018

उत्तरायणी महोत्सव में रंगारंग कार्यक्रमों की धूम -

Monday, January 15, 2018

सौर ऊर्जा से चलने वाली कार का दिया प्रस्तुतीकरण -

Monday, January 15, 2018

पाकिस्तानी मॉडल कंदील बलोच के भाई ने हत्या करना कबूला

baloch

नई दिल्ली। पाकिस्तानी सोशल मीडिया की चर्चित हस्ती कंदील बलोच की हत्या के मामले में उसके भाई को गिरफ्तार कर लिया गया है। 26 वर्षीय मॉडल की उसके छोटे भाई ने कथित तौर पर गला घोंटकर हत्या कर दी थी। कंदील के छोटे भाई वसीम को देर रात डेरा गाजी खान से गिरफ्तार किया गया। बाद में वसीम ने प्रेस वार्ता में अपनी बहन को नशीली दवा देने के बाद उसकी गला घोंटकर हत्या करने की बात कबूल भी की।

Read More

पैर में लाठी बांधकर एक किसान जोतता है खेत, जानिये किसान की इमोशनल कहानी

pehchan

झांंसी | झांंसी यहां एक किसान के पैर में लाठी बांधकर खेत जोतने की मार्मिक तस्‍वीर सामने आई है। 41 साल से कमर में लाठी बंधकर चल रहे इस किसान की मई, 2015 को अखिलेश यादव ने मदद की थी। आर्टिफिशियल पैर लगवाया गया था, लेकिन किसान ने ये नकली पैर हटाकर रख दिया। किसान देवराज का कहना है, सरकार ने मेरी मदद करके नकली पैर लगवाया था। लेकिन उस पैर के साथ मैं अच्छा महसूस नहीं कर रहा था। उसके साथ चलने में बहुत परेशानी होती थी। 41 साल से कमर में लाठी बांधकर खेत जोत रहा था। लेकिन आर्टिफिशियल…

Read More

कैप्टेन की माँ, देश के लिए शहीद हुए अपने पुत्र के स्मारक की खुद कर रही सफाई

jai-hind

कैप्टेन सुनील चौधरी की माँ, देश के लिए शहीद हुए अपने पुत्र के 36वें जन्मदिवस पर उसके स्मारक की खुद सफाई कर रही हैं |दुर्भाग्य की बात हैं जिसने इस देश की रक्षा के खातिर अपने प्राणों को न्योछावर कर दिया आज ये हालात हैं कि उस देश कि सरकारे इन शहीदों के स्मारकों को सिर्फ एक पत्थर समझती है | देश के राजनेताओ द्वारा लम्बी लम्बी भाषण सुनाने के आदि यह नेता इस पर अब तक कोई प्रतिक्रिया नहीं दिए है | पहचान एक्सप्रेस पर इस भारत माता को सेल्यूट जो अपने बेटे के स्मारक का ये हाल ना…

Read More

गांव में नहीं थी बस की सुविधा तो खुद ही थाम लिया स्टेयरिंग

bus-driver-girl

जब कोई भी यदि अच्छी जिद्द ठान ले तो वह पूर्ण जरूर होता है ऐसा ही काम किया है एक गाँव की बेटी प्रियंका ने | गांव के अड्डे पर बस न रुकना प्रियंका को इतना नागवार गुजरा कि उसने खुद ही चालक बनने की ठान ली। विदित हो की इसके बाद तो चरखी दादरी डिपो के ट्रेनिंग सेंटर में उसने दाखिला भी ले लिया। तकरीबन डेढ़ माह की ट्रेनिंग के बाद मेहनत रंग लाई तो अधिकारी भी उसके लगन और कुशलता के कायल हो गए। इतना ही नहीं उसे ट्रेनिंग के दौरान सर्वोच्च चालक के खिताब से भी नवाजा…

Read More

फुटपाथ पर रहने वाले बच्चे निकालते हैं अखबार, चार राज्यों में इनका है नेटवर्क

balaknama

यह खबर आप को चौका देगी लेकिन यह सत्य है साथ ही साथ आप कभी नहीं सुना होगा की बच्चे अपना खुद का अखबार भी चलाते हों? मगर ऐसा दिल्ली में कुछ बच्चे खुद रिपोर्टिंग कर अपना खुद का अखबार चलाते हैं. दिल्ली क गौतम नगर में कुछ बच्चे अपना खुद का अखबार ‘बालकनामा’ नामक नाम से चलाते है| विदित हो की यह अखबार पूरी तरह बच्चों के लिए ही है | इसकी शुरुआत सन 2003 में हुई थी | इससे आश्चर्य की बात यह है की इस अखबार की रिपोर्टर कोई खास बच्चे नहीं, बल्कि सड़कों पर काम करने…

Read More

हजब्बा संतरे बेच बेच कर गरीब बच्चों के लिए किया स्कूल का निर्माण

कर्नाटक में मेंगलोर के रहने वाले हरेकला हजब्बा यूं तो कहने के लिए अनपढ़ हैं, लेकिन समाज में ज्ञान का प्रकाश फैला रहे हैं। डेक्कन क्रॉनिकल में छपी रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले 30 साल से संतरे बेचकर अपना गुजारा चलाने वाले हजब्बा ने पाई-पाई जोड़कर अपने गांव में गरीब बच्चों के लिए एक स्कूल का निर्माण करा दिया है। यही नहीं, अब वह एक कॉलेज बनाने का सपना पूरा करना चाहते हैं।कर्नाटक में मेंगलोर के रहने वाले हरेकला हजब्बा यूं तो कहने के लिए अनपढ़ हैं, लेकिन समाज में ज्ञान का प्रकाश फैला रहे हैं। डेक्कन क्रॉनिकल में छपी रिपोर्ट…

Read More

काश रानू द्विवेदी गरीबी के साथ साथ आरक्षण जाति के अंतर्गत आती …. .

1

कानपुर में एक छोटा सा रेलवे स्टेशन है उसके बाहर एक झोपडी में छोटा सा ढाबा है जहा रिक्शेवाले , कुली , ऑटो ड्राईवर यही लोग उसके ग्राहक है | मै बचपन से वहा जाती थी खेलने , ढाबे में मेरे बराबर की एक ” रानू द्विवेदी ” लड़की भी रहती थी उससे मेरी दोस्ती हो गयी हम दोनों रोज स्टेशन की सीढियों ओर प्लेटफ़ॉर्म पर खेलते थे | साथ साथ खेलते खेलते हम दोनों आपस में पढाई के बारे में भी बात करते थे , वो मुझ से एक क्लास आगे थी और किसी छोटे से स्कूल में पढ़ती…

Read More

दिव्यांग ने उठाया समाज को जाग्रत करने का बीडा

pehchan

हरिद्वार। मन में यदि हो विश्वास तो शरीर की अपंगता मायने नहीं रखती। कहानी है देवभूमि उत्तराखंड में निवास करने वाली एक ऐसी बाला की जिसकी निष्ठा के कारण अपनी अपंगता को धता बताते हुए एक नये जीवन की शुरूआत ही नहीं बल्कि अपने जैसों के लिए प्रेरणा का सजीव उदाहरण भी प्रस्तुत किया। जयपुर निवासी मैकेनिकल इंजीनियर जय सिंह यादव की 26 वर्षीया दिव्यांग पुत्री कोमल ने जन्म से मिली मानसिक विकलांगता और शारीरिक वाध्यता को दर किनार करते हुए समाज को नई दिशा देने का बीडा उठाया। कोमल ने शांतिकुंज में स्थित श्रीरामपुरम् के नचिकेता भवन के निकट…

Read More

दुल्हन को बैसाखी से चलता देख दूल्हे ने गोद में उठाकर पूरी की सभी रस्मे

pehchan

इंदौर। वरमाला के बाद अपनी दुल्हन को बैसाखी से चलता देख दिव्यांग दूल्हे से रहा नहीं गया और वो उसे गोद में उठाकर अन्य रस्में निभानें के लिए चल दिया। खास बात ये है दूल्हा खुद भी पोलियोग्रस्त है। अपने जीवन साथी का ऐसा प्रेम देख दुल्हन खिलखिला उठी और लोग ताली बजाते हुए बोल उठे एक सच्चे जोड़े की शुरुआत | विदित हो की ऐसी खबरें समाज के लिए एक अच्छा आदर्श का संगम बनाती आ रही है |

Read More

उत्तराखण्ड की झोली में रोहित ने डाला योग ओलम्पियाड-२०१६ का रजत

UK

हरिद्वार। उत्तराखण्ड की झोली में योग ओलम्पियाड-२०१६ का रजत पदक डालने वाले रोहित यादव को सम्मानित करने वालों की शृंखला में निरंतर विकास होता जा रहा है। गायत्री विद्यापीठ के इस छात्र ने मात्र ११ वर्ष की उम्र में योग की १५० से अधिक आसनों का प्रस्तुतिकरण करके लोगों को आश्चर्य चकित कर दिया। देश के २१ राज्यों के मध्य हुई कड़ी स्पर्धा में प्रदेश की झोली मे आये इस एकमात्र पदक ने योग के धरातल पर जहाँ बाल उपलब्धि को रेखांकित किया, वहीं विश्व मंच पर कीर्तिमान स्थापित करने की प्रेरणा भी प्रदान की। केन्द्रीय मानव संसाधन मंत्री स्मृति…

Read More