Breaking News:

महिला ब्लाइंड क्रिकेट : उड़ीसा की दूसरी धमाकेदार जीत -

Saturday, December 15, 2018

कहीं भी रहें, अपनी लोकसंस्कृति एवं लोक परंपराओं से जुड़े रहेंः माता मंगला -

Saturday, December 15, 2018

एनएच-74 घोटाला : बिल्डर प्रिया शर्मा ने जिला कोर्ट में किया सरेंडर -

Saturday, December 15, 2018

जनता के लिए वरदान बन रहा उत्तराखण्ड सीएम एप…. -

Saturday, December 15, 2018

पहचान : समाजसेवी विजय कुमार नौटियाल को उत्तराखंड गौरव सम्मान -

Saturday, December 15, 2018

कैबिनेट की मुहर : शिक्षकों के लिए 7वें वेतनमान को मंजूरी -

Friday, December 14, 2018

राफेल को लेकर राहुल गांधी ने झूठ फैलाने का किया कार्य : सीएम त्रिवेंद्र -

Friday, December 14, 2018

बर्फबारी के बाद केदारनाथ में मौसम हुआ साफ -

Friday, December 14, 2018

उत्तराखण्ड : सीएम एप से पहली बार बिजली से रोशन हुए कई दूरस्थ गाँव -

Friday, December 14, 2018

आईसीआईसीआई बैंक ने जोड़े ‘ईजीपे‘ पर 1.93 लाख से अधिक ग्राहक -

Friday, December 14, 2018

प्रेसवार्ता : लापता संत गोपालदास की बरामदगी न होने पर रोष -

Thursday, December 13, 2018

हाउस टैक्स को लेकर गामा और चमोली आमने सामने -

Thursday, December 13, 2018

उत्तराखंड : 22 आईपीएस अधिकारियों को समय से पहले हटाया गया -

Thursday, December 13, 2018

अजब गजब : जेठानी ने की नाबालिग के साथ शारीरिक शोषण -

Thursday, December 13, 2018

त्रिवेंद्र सरकार द्वारा आंगनबाङी कार्यकत्रियों को नए वर्ष की सौगात, जानिये खबर -

Thursday, December 13, 2018

बढ़ते अपराधों के बीच दूनवासी दहशत में , जानिए खबर -

Wednesday, December 12, 2018

14 दिसंबर को होगा ‘अपहरण’ सामने , जानिए खबर -

Wednesday, December 12, 2018

कुलपति सम्मेलन 20 दिसम्बर को राजभवन में -

Wednesday, December 12, 2018

दो मुंहा सांप के चक्कर में गए जेल , जानिए खबर -

Wednesday, December 12, 2018

फर्जी पीसीएस अधिकारी को पुलिस ने दबोचा -

Wednesday, December 12, 2018

यह स्टार अब दिखती है ऐसे , जानिये खबर

kya

एड्स बीमारी के प्रति लोगों में अभी भी जागरूकता की कमी है। यहां तक कि कई बार इस बीमारी का पता मरीज को तब चलता है जब इलाज होना संभव नहीं होता। एड्स के प्रति भारत में जागरूकता फैलाने के उद्देश्य से हर साल 1 दिसंबर को वर्ल्ड एड्स डे मनाया जाता है। एक ऐसी जानलेवा बीमारी है जिससे ग्रस्त होने पर व्यक्ति अंदर से खोखला हो जाता है। तमिल एक्ट्रेस निशा नूर ने साउथ इंडिया की मशहूर फिल्मों जैसे कल्याण अगाथिकल और अय्यर दि ग्रेट में अभिनय किया। निशा ने तमिल, मलयालम, तेलुगू और कन्नड़ फिल्मों में काम किया।…

Read More

चिकन पॉक्स को क्यों कहा जाता है माता,जरा जानिए

chicken-pox

वैसे तो हम सारी चीजों को भगवान की मर्जी से जोड़ते हैं, लेकिन चिकन पॉक्स को खासकर शीतला माता से जोड़ा जाता है। शीतला माता को मां दुर्गा का रूप माना जाता है। ऐसा कहते हैं कि उनकी पूजा करने से चेचक, फोड़े-फूंसी और घाव ठीक हो जाते हैं। दरअसल, शीतला का अर्थ होता है ठंडक। चिकन पॉक्स होने पर बॉडी में काफी इरिटेशन होती है और उस वक्त सिर्फ बॉडी को ठंडक चाहिए होती है। इसलिए कहा जाता है कि शीतला माता की पूजा करने से वो खुश हो जाती हैं, जिससे मरीज की बॉडी को ठंडक पहुंचती है।…

Read More

शिक्षकों ने अपनी सैलरी से बदला पूरे विद्यालय का सूरत

file

  गोरखपुर | जी हां एक विद्यालय में शिक्षकों ने अपनी सैलरी से पूरे विद्यालय को बदल दिया है। स्कूल में प्रोजेक्टर और वाई-फाई की व्यवस्था कर स्मार्ट क्लास बनाई गई हैं। हेडमास्टर आशुतोष कुमार सिंह ने बताया कि इन सब कामों में सब मिलाकर डेढ़ लाख रुपये खर्च हुए हैं। सभी शिक्षकों ने अपनी सैलरी से इस काम में योगदान दिया है। युवा शिक्षकों की इस लगन को देखकर उनके दोस्तों ने भी इस काम में योगदान दिया। गोरखपुर के पिपरौली ब्लॉक के प्राथमिक विद्यालय कॉन्वेंट स्कूलों को टक्कर दे रहा है। आईजी मोहित अग्रवाल की पहल ने प्राथमिक…

Read More

जब अपहरणकर्ताओं पर भारी पड़ा 9 साल का बच्चा, जानिए खबर

child

  भोपाल | 9 साल का बच्चा अपने साहस का परिचय देते हुए भोपाल में अपहरणकर्ताओं के चंगुल से बच निकलने में कामयाब हो गया। भोपाल के गोविंदपुरा में तीसरी क्लास का छात्र अपहरकर्ताओं से बचने में रहा जिसे स्कूल से लौटने के दौरान अगवा कर लिया गया था। अपहरणकर्ताओं के चंगुल से बचने के बाद छात्र ने पुलिस को बताया कि उसे स्कूल से लौटने के दौरान एक नकाबपोश बाइक सवार ने अगवा कर लिया था। जब वह स्कूल से पैदल घर वापस लौट रहा था उसी दौरान एक बाइक सवार ने अचानक उसे दबोच लिया और अपने हाथों…

Read More

लांस नायक रहे, लकवे से डिप्रेशन में चले गए थे अब हैं बैडमिंटन चैंपियन ….

pehchan

जब हौसले हो तो कोई भी मुश्किल काम आसान की पैगाम बन जाती है जी हां ऐसे ही एक सत्य कहानी है सेना में लांस नायक सुरेश कार्की की | विदित हो की कुछ समय पूर्व सेना में लांस नायक सुरेश कार्की एक घायल सैनिक को गुवाहाटी के बेस अस्पताल पहुंचा रहे थे, तभी उनकी ऐंबुलेंस हादसे का शिकार हो गई। सुरेश इस हादसे में घायल हो गए, जिससे उनकी कमर का निचला हिस्सा लकवे का शिकार हो गया। 3 हफ्ते के अंदर एक के बाद एक 3 सर्जरी हुईं, लेकिन सुरेश ने हिम्मत नहीं खोई।एक दिन न्यूरो सर्जन से…

Read More

बदमाशों से लड़ बहादुर रचिता ने बदमाशों को कराया गिरफ्तार

pehchan1

नई दिल्ली | हरियाणा की रहने वालीं रचिता स्केटिंग में स्टेट प्लेयर रह चुकी हैं और स्कूल स्तर पर कबड्डी के दांव भी लगा चुकी हैं। मगर उससे कही अलग उन्होंने लूटपाट की कोशिश करने वाले बदमाशों से भीड़ कर लड़कियों के लिए धाकड़ गर्ल बन गयी है | राजौरी गार्डन मेट्रो स्टेशन के पास रचिता ने जान पर खेलकर एक बदमाश को दबोच लिया। इतना ही नहीं, उन्होंने पुलिस को सूचना दी और बदमाश को गिरफ्तार करवाया। पुलिस के मुताबिक, रोहतक की रहने वालीं 26 साल की रचिता राजौरी गार्डन में पीजी में रहती हैं। वह एक प्राइवेट कंपनी…

Read More

किसान आत्महत्या न कर सीखे इन महिलाओ से , जानिए खबर

pehchan a

अगर दिल में जज्बा हो तो अब कुछ मुमकिन है ऐसा कर दिखाया है महाराष्ट्र की कुछ महिलाएं | महाराष्ट्र में किसान आत्महत्या न करें, इसके लिए यहां एक गांव की महिलाएं प्रेरणास्रोत बन गई हैं। कम पानी में खेती का ऐसा तरीका खोजा है महिला किसानों ने जिससे वह फसल उगा रही हैं। इतना ही नहीं उन्होंने बैंक का कर्ज चुकता करते हुए कारोबार का टर्नओवर 1 करोड़ रुपये कर लिया है। किसानों के समूह ने गांव की दशा बदल कर नई दिशा दिखाई है। इस गांव के पुरुष घर और बच्चे संभालते हुए दिखते हैं तो महिलाएं खेत…

Read More

जॉब छोड़ सब्जी की खेती कर रही यह लड़की, जानिए खबर

pehchan -shan

रायपुर | साइंस से एमटेक रही कॉलेज में असिस्टेंट प्रोफेसर रह चुकी 27 साल की वल्लरी चंद्राकर कम्प्यूटर जॉब छोड़कर 27 एकड़ जमीन पर खेती कर रही हैं। यही नहीं अपने खेत की सब्जियां दुबई और इजरायल को एक्सपोर्ट करने की तैयारी भी वल्लरी कर रही हैं। रायपुर से 88 किमी दूर बागबाहरा के सिर्री गांव की रहने वाली वल्लरी ने खेती की शुरुआत 2016 में की थी। वल्लरी के अनुसार यहां खेती में फायदा नजर आया तो नौकरी छोड़कर आ गई। शुरू में लोग लड़की समझकर मेरी बात को सीरियसली नहीं लेते थे। वल्लरी की सब्जियां दिल्ली, भोपाल, इंदौर,…

Read More

लोगों के घरों में काम करके अपनी पढ़ाई और घर की जिम्मेदारी उठा रही यह मासूम

pehchan -aap

गाजियाबाद | अगर दिल में जज्बा हो तो कोई भी कार्य आसानी से पूरा किया जा सकता है ऐसे ही एक मासूम विपरीत परिस्थितियों के बावजूद खेलने की उम्र में अपने परिवार का सहारा बनीं हैं। उम्र मात्र 11 साल लेकिन जज्बा किसी बड़ो से कम नहीं है।बात हो रही है स्लम एरिया में रहने वाली एक मासूम बच्ची का | जो अपने 9 भाई-बहनों को पालने में पिता की सहायता करती है। इन सभी कार्यों के बावजूद पूजा ( बदला हुआ नाम ) रोज 2 घंटे पढ़ने का समय निकालती है। वह रोजाना सुबह 11 से 1 बजे तक…

Read More

बिना जूतों के दौड़े और इसके बावजूद भी मेडल , गरीबी को दी मात , जानिये खबर

pehchan

अगर हौसला हो तो सब मुमकिन है जी हां इस तथ्य को सावित किया है बेंगलुरु विश्वविद्यालय ऐथलेटिक्स मीट में सरकारी कॉलेजों के बच्चों ने | 53वें ऐथलेटिक्स मीट में कम से कम 30 ऐथलीट ऐसे थे जो बिना जूतों के दौड़े और इसके बावजूद भी मेडल जीता। शारीरिक शिक्षा के एक टीचर ने बताया कि पोडियम पर मेडल पाने वाले 30 से ज्यादा ऐथलीट तीन दिन तक चले इस इवेंट में नंगे पैर दौड़े। एक कोच ने बताया, ‘सिंथेटिक ट्रैक पर बिना जूतों के दौड़ना खतरनाक होता है, इससे चोट लगने की आशंका बढ़ जाती है। आर्टिफिशल सतह पर…

Read More