Breaking News:

उत्तराखंड : राज्यपाल ने जरूरतमंद बच्चो एवं वृद्धजन के बीच बिताये समय -

Tuesday, October 16, 2018

दशहरा को लेकर डीएम व एसएसपी ने लिया व्यवस्थाओं का जायजा -

Tuesday, October 16, 2018

सिंधु, साइना डेनमार्क ओपन बैडमिंटन में भारतीय चुनौती संभालेंगी -

Tuesday, October 16, 2018

उत्तराखंड : निकाय चुनाव का मतदान 18 नवंबर को -

Monday, October 15, 2018

व्यंग्यः कितना दर्द दिया मीटू के टीटू ने…..! -

Monday, October 15, 2018

टिहरी गढ़वाल के बंगसील स्कूल में सफाई अभियान की अनोखी पहल -

Monday, October 15, 2018

गडकरी, एम्स डायरेक्टर समेत आठ लोगों के खिलाफ मातृसदन दर्ज कराएगा हत्या का मुकदमा -

Monday, October 15, 2018

साधन विहीन व निर्बल वर्ग के बच्चों को यथा सम्भव पहुंचे सहायता : राज्यपाल -

Monday, October 15, 2018

#MeToo: बॉलिवुड की अभिनेत्रियों ने आरोपियों के साथ काम करने से किया इंकार -

Monday, October 15, 2018

भारतीय टीम ने वेस्ट इंडीज को हराकर हासिल की शानदार जीत -

Monday, October 15, 2018

“मैड” के सपने को मिला नया नेतृत्व -

Sunday, October 14, 2018

देश के लिए डॉ.कलाम का अद्वितीय योगदान रहा : सीएम त्रिवेंद्र -

Sunday, October 14, 2018

डिप्रेशन विश्व में हार्ट अटैक के बाद मृत्यु का दूसरा बड़ा कारण -

Sunday, October 14, 2018

रूपातंरण कार्यक्रम सराहनीय ही नहीं अनुकरणीय भीः राज्यपाल -

Sunday, October 14, 2018

केदारनाथ यात्रा : 7 लाख के पार पहुंची दर्शनार्थियों की संख्या -

Sunday, October 14, 2018

“उपहार” का निराश्रित बेटियों की शादी में सराहनीय प्रयास -

Sunday, October 14, 2018

अधिकारी एवं कर्मचारी पूरी निष्ठा व ईमानदारी से करे कार्य : सीएम -

Saturday, October 13, 2018

राज्यपाल ने किया पंतनगर विश्वविद्यालय एवं जी.जी.आई.सी.का भ्रमण -

Saturday, October 13, 2018

मिस बॉलीवुड के लिए कॉम्पीटिशन का आयोजन -

Saturday, October 13, 2018

उद्यमी के घर पर भीड़ ने किया हमला -

Saturday, October 13, 2018

अपने आक्रोश को बनाया अपना हथियार बनीं पैरा ऐथलीट चैंपियन

kanchan lakhani

कंचन लखानी ने अपने आक्रोश को अपना हथियार बना लिया। 4 सितंबर 2008 को हुए एक हादसे ने अचानक उनकी जिंदगी बदल कर रख दी। एक रेल हादसे में उनका हाथ कट गया और स्पाइनल इंजरी के चलते कमर से नीचे के हिस्से ने काम करना बंद कर दिया। इसके बाद वह निराशा में डूब गईं, उनके मन में आत्महत्या करने के खयाल आने लगे। एक दिन वह अपने जीवन के बारे में सोच रही थीं। उस समय उन्होंने अपने अवसाद से बाहर निकलकर अपनी तकदीर खुद लिखने का फैसला कर लिया। उन्होंने कड़े परिश्रम के बाद राष्ट्रीय स्तर की…

Read More

एक बच्चा जो पढ़ा रहा स्मार्ट पैरंटिंग का पाठ जानिए ख़बर

priyanshu gupta

वैशाली सेक्टर-3 में रहने वाले प्रियांशु गुप्ता। 13 साल के प्रियाशु केआर मंगलम स्कूल में 8वीं के स्टूडेंट हैं। वह पैरंटिंग टिप्स पर कई बड़े लेख लिख चुके हैं। यही वजह है कि कम उम्र में उनकी काबिलियत को देखते हुए दिल्ली के एक स्कूल ने उन्हें अपना ब्रैंड ऐंबैसडर बनाया है। पढ़ाई के दौरान बच्चों को डांटना नहीं चाहिए। एग्जाम को लेकर उन पर न तो प्रेशर बनाना चाहिए और न टीनेज में ज्यादा रोक-टोक करनी चाहिए। कुछ ऐसे ही विषयों पर 100 से ज्यादा आर्टिकल लिख चुके और विडियो तैयार कर चुके हैं वह अपने नाम से यूट्यूब…

Read More

ब्यूटी क्वीन का खिताब जीता एक ब्रेन ट्यूमर सर्वाइवर ने , जानिए खबर

pehchan

बेंगलुरु | अगर जीवन में जज्बा हो तो कोई भी बिमारी आप के लिए रुकावट नहीं बन सकती है ब्रेन ट्यूमर जैसी बीमारी से पीड़ित होने के बाद किसी भी इंसान की जिंदगी बिखर जाती है लेकिन 31 साल की सोनिया सिंह उन सबके लिए मिसाल हैं। जानलेवा बीमारी से पीड़ित होने के बाद उन्होंने अपने हौसलों को पस्त नहीं होने दिया। लगातार इलाज और दवाइयों के बाद भी अपने जज्बे के दम पर कर्नाटक ब्यूटी क्वीन का खिताब हासिल किया। यह सब कुछ तब शुरू हुआ जब पांच साल पहले एक रोज सोनिया को सिर और कंधों में तेज…

Read More

लकवे से डिप्रेशन और डिप्रेशन से बैडमिंटन चैंपियन तक जानिए ख़बर

suresh

यह बात 2004 की है। सेना में लांस नायक सुरेश कार्की एक घायल सैनिक को बेस अस्पताल गुवाहाटी पहुंचा रहे थे, तभी उनकी ऐंबुलेंस हादसे का शिकार हो गई। सुरेश इस हादसे में घायल हो गए, जिससे उनकी कमर का निचला हिस्सा लकवे का शिकार हो गया। 3 हफ्ते के अंदर एक के बाद एक 3 सर्जरी हुईं, लेकिन सुरेश ने हिम्मत नहीं खोई।एक दिन न्यूरो सर्जन से उन्होंने बड़ी मासूमियत से पूछा, सर जी मैं कब ठीक होऊंगा। डॉक्टर ने कहा, बेटा अब जिंदगी वील चेयर पर बितानी होगी। सुरेश के लिए यह बात सदमे की तरह थी, क्योंकि…

Read More

अपने सपने संस्था ने मनाया जरूरतमंद बच्चो का जन्मदिन

apne sapne ngo

देहरादून | आए दिन लोग असहाय एवम जरूरतमंद बच्चों के साथ अपना या तो अपने बच्चों का जन्मदिन मनाते है यह एक अच्छी सोच एवम नेक कार्य है पर उन असहाय एवम जरूरतमंद बच्चों का जन्मदिन मनाना क्यो नही | इसी सोच के साथ अपने सपने संस्था जरूरतमंद बच्चों का जन्मदिन प्रत्येक महीने के अंतिम रविवार को मनाते आ रहा है | इसी कड़ी में आज अपने सपने संस्था सिमरन , माधुरी, नव्या, अजीत, श्रेया बच्चो का जन्मदिन मनाया गया |  इस आयोजन का उद्देश्य यह कि जब कोई अपना या अपने बच्चों का जन्मदिन इन असहाय एवम जरूरतमंद बच्चो के…

Read More

हैंडिकैप स्टूडेंट के लिए मुफ़्त में ऑनलाइन ट्यूशन जानिए ख़बर…

tuition

आज कल बच्चों के लिए ट्यूशन ढूंढना पैरंट्स के लिए किसी आफत से कम नहीं है।  हैंडिकैप स्टूडेंट को लेकर पैरंट्स की टेंशन और बढ़ जाती है। इस टेंशन को दूर करने के लिए इंदिरापुरम की रहने वाली शिखी उपाध्याय ने हाल ही में एक प्रॉजेक्ट शुरू किया है। इसके जरिए ऐसे स्टूडेंट्स घर बैठे अपने टाइमिंग के मुताबिक ऑनलाइन लाइव ट्यूशन ले सकेंगे। इस ऑनलाइन ट्यूशन में गर्ल्स और हैंडिकैप स्टूडेंट्स को फ्री क्लास दी जाएगी, जिसमें वे महत्वपूर्ण चैप्टर्स कवर कर सकते हैं। इससे अलग-अलग स्टेट के करीब 22 टीचर जुड़े हैं जो बच्चे के इंट्रेस्ट को परखने…

Read More

जॉब छोड़ मशरूम उगा रहे हैं युवा जानिए ख़बर

mushroom

आज कुछ उत्साही युवा हैं, जो उत्तराखंड में पलायन के दावे के बीच सरकार की रिवर्स मुहिम को आगे बढ़ा रहे हैं। उन्होंने न सिर्फ खुद रिवर्स माइग्रेशन किया, बल्कि उनसे प्रेरणा लेकर दूसरे युवा भी गांवों की ओर लौटने लगे हैं। मशरूम लेडी दिव्या रावत, गोट फार्मर श्वेता तोमर, डेयरी फार्मर हरिओम नौटियाल जैसे युवा प्रदेश में रिवर्स माइग्रेशन की मुहिम को आगे बढ़ा रहे हैं। रिवर्स माइग्रेशन की इन युवाओं की मुहिम रंग भी ला रही है, तमाम लोग इनसे ट्रेनिंग लेकर अब अपने गांव में खुद का काम कर रहे हैं। वे उजड़े घरों को फिर से आबाद करना…

Read More

कभी चराता था बकरियां आज है कामयाब निशानेबाज , जानिए ख़बर

jitu ray

जब जीवन ने हौसला हो तो यह कहावत  ‘हिम्मत करने वालों की कभी हार नहीं होती’ सत्य साबित होती है । जी हां हम बात कर रहे है भारत को स्वर्ण पदक दिलाने वाले निशानेबाज जीतू राय का जिनका जिंदगीनामा भी कुछ इसी तरह का रहा है। बचपन से ही दुश्वारियां साये की तरह उनकी जिंदगी में शामिल रहीं लेकिन बकरियां चराते, नेपाल के खेतों में वक्त बिताते हुए वह एक दिन गोल्ड कॉस्ट में कामयाबी की बुलंदी पर पहुंच जाएंगे, आज वह सब जानकर आसानी से यकीन करना मुश्किल सा हो जाता है। जानकारी हो कि जीतू राय भारतीय…

Read More

फुटपाथ पर लोगों का फ्री इलाज करते है डॉक्टर अजीत

pehchan

कानपुर | उम्र कोई भी हो यदि सम्माज की सेवा करनी है तो करनी है यह जज्बा कायम किया है फुटपाथ पर लोगों का फ्री इलाज करने वाले डॉ अजीत ने | यही नहीं इन डॉक्टर को प्रधानमंत्री ने मन की बात में फुटपाथ पर लोगों का फ्री इलाज करने वाले डॉक्टर का जिक्र भी किया है, उनकी कहानी काफी प्रेरणादायक है। एमडी करने के बाद 1980 से प्रैक्टिस शुरू करने वाले डॉ अजीत मोहन चौधरी पिछले एक महीने से चकेरी के चेतना चौराहे पर रोज एक घंटे गरीबों का इलाज करते हैं। डॉ अजीत कहते हैं, मैंने सारी दुनिया…

Read More

पहचान : जीवन का संघर्ष टॉपर पूनम टोडी से सीखें

punam

देहरादून। जीवन एक संघर्ष है यह कथन सत्य किया है देहरादून की पूनम टोडी ने | अगर आपमें कुछ कर गुजरने का जज्बा है, तो चाहे आपकी सफलता की राहों में कितनी भी मुश्किलें आए, आपके हौंसलों को डगा नहीं सकती। कुछ ऐसी ही है हमारी आज पीसीएस-जे परीक्षा की टॉपर पूनम टोडी। दो बार न्यायिक सेवा के इंटरव्यू तक पहुंचने पर मिली असफलता भी पूनम टोडी के हौसले को हिला नहीं सकी और उन्होंने असफलता को सफलता का हथियार बना आज उत्तराखण्ड पीसीएस-जे की परीक्षा में टॉप में जगाह बनाई। इसके आलावा उन्होने उत्तर प्रदेश की सहायक अभियोजन अधिकारी…

Read More