Breaking News:

होटल के कमरे से मिला दिल्ली के पर्यटक का शव -

Friday, February 21, 2020

केदार धाम के कपाट 29 अप्रैल को खुलेंगे -

Friday, February 21, 2020

रेल मंत्री ने दिल्ली से देहरादून के लिए तेजस ट्रेन की सैद्धांतिक स्वीकृति दी -

Friday, February 21, 2020

इस धरती में पवित्रतम है ज्ञानः डॉ. पण्ड्या -

Friday, February 21, 2020

परमार्थ निकेतन में धूमधाम और उल्लास से मनाई गई शिवरात्रि -

Friday, February 21, 2020

महाशिवरात्रि : बाबा विश्वनाथ को समर्पित एक अनूठी भेंट -

Thursday, February 20, 2020

कुर्मांचल परिषद उत्तराखंड : जलाभिषेक कल, होली समारोह की तैयारियां जोरों पर -

Thursday, February 20, 2020

उत्तराखण्ड का एडवेंचर टूरिज्म जल्द ही एमटीवी पर दिखेगा -

Thursday, February 20, 2020

सीएम ने बागेश्वर में 44 योजनाओं का किया शिलान्यास एवं लोकार्पण -

Thursday, February 20, 2020

उत्तराखंड में 10 हजार लोगो को आप पार्टी से जोड़ने का लक्ष्यः एसएस कलेर -

Thursday, February 20, 2020

‘इण्डिया ड्रोन फेस्टिवल-2.0‘ का सीएम त्रिवेंद्र ने किया शुभारम्भ -

Thursday, February 20, 2020

नैनीताल हाईकोर्ट के अगले चीफ जस्टिस होंगे आर.बी. मलिमथ -

Thursday, February 20, 2020

गैरसैंण में विधानसभा सत्र तीन मार्च से, जानिए खबर -

Thursday, February 20, 2020

आयोग की परीक्षाओं में न होने पाए कोई गड़बड़ी : सीएम त्रिवेंद्र -

Wednesday, February 19, 2020

जरा हटके : पत्नी से लड़ाई झगड़ा फिर पति का शांतिभंग में चालान, जानिए खबर -

Wednesday, February 19, 2020

परिवर्तन नहीं, अफवाहें विरोधियों का षड़यंत्रः भगत -

Wednesday, February 19, 2020

दुराचार का आरोपी गिरफ्तार, जेल भेजा -

Wednesday, February 19, 2020

उत्तराखंड : एनडी तिवारी के “पाँच साल” की राह पर सीएम त्रिवेंद्र -

Wednesday, February 19, 2020

देवभूमि में ‘पॉलीटेक्निक स्पोर्ट्स मीट 2020’ का समापन -

Tuesday, February 18, 2020

आढ़तियों के चालान पर पूर्व अध्यक्ष आए बचाव में, जानिए खबर -

Tuesday, February 18, 2020

मुख्यमंत्री ने किया भीमताल ग्राफिक एरा पर्वतीय विश्वविद्यालय में कैफ़ीटेरिया का लोकार्पण

भीमताल ग्राफिक एरामुख्यमंत्री हरीश रावत ने बुधवार को भीमताल ग्राफिक एरा पर्वतीय विश्वविद्यालय में नवनिर्मित हैप्पी होम, कैफीटेरिया भवन का लोकापर्ण किया। उन्होने अपने सम्बोधन मे कहा कि शिक्षा ही एक ऐसा माध्यम है, जिससे हम दक्ष होकर अपने रोजगार के साथ ही दूसरो को रोजगार भी दे सकते हैै। एक दिन ऐसा आयेगा जब हमारे इन शिक्षण संस्थानो से बच्चे निकलकर देश ही नही विदेशो को भी अपनी सेवाये प्रदान करेंगे। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार उत्तराखण्ड को शिक्षा हब के रूप मे विकसित करने जा रही है। उन्होने कहा कि गा्रफिक एरा विश्वविद्यालय देहरादून के साथ ही भीमताल मे भी खोला गया है, जो यहां के बच्चो को तकनीकी शिक्षा में दक्ष करने के साथ ही उन्हे प्लेसमेन्ट देने मे भी सहायक होगा। उन्होंने कहा तीन और विश्वविद्यालय पहाडी क्षेत्र मेे आना चाहते है। सरकार भी पहाड मे ज्यादा से ज्यादा शिक्षण संस्थाये खोलने हेतु प्रयासरत है, तथा निजी शिक्षण संस्थानो को खेालने हेतु भी हर सम्भव सहायता सरकार की तरफ से दी जायेगी। उन्होंने बताया कि सरकार प्रदेश मे 02 और मेडिकल कालेज, 04 वेटनरी कालेज, 01 लाॅ कालेज व अल्मोडा में 01 आवासीय विश्वविद्यालय खोलने जा रही है।
मुख्यमंत्री श्री रावत ने कहा कि हमारे स्थानीय लोग अपनी पूंजी लगाकर चिकित्सालय, स्कूल बनाये सरकार उन्हे किराये पर लेने के लिए तैयार है। उन्होने कहा कि राज्य का निर्माण ही विकास की परिकल्पना पर हुआ है। सरकार सभी को विकास की मुख्य धारा से जोड़ने के लिये प्रयासरत है। उन्होंने कहा कि राज्य में ढांचागत विकास के साथ ही गरीबो के लिए नई-नई योजनाये चलायी जा रही है, सरकार आय का एक बढा हिस्सा गरीबो के कल्याण के लिए व्यय कर रही है। सरकार काश्तकारों व पहाड़ी फसलों जैसे मंडुवा, फाफर, चैलाई, अनारदाना, उत्पादन को प्रोत्साहित करने हेतु बोनस देने जा रही ह,ै साथ ही जो  गाॅव अभी तक सड़कों से जुड़े नहीं है, उन्हें मेरा गाॅव मेरी सड़क के अन्तर्गत जोड़ने जा रही है जिससे काश्तकार आवागमन के साथ ही अपने उत्पादको को बाजार तक ला सकेगें। मुख्यमंत्री श्री रावत ने कहा कि कृषि व बागवानी से ही काश्तकार व प्रदेश की तरक्की का रास्ता निकालने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पेड़ लगाने के साथ ही वर्षा के पानी को रोकने हेतु चाल-खाल बनाने पर भी प्रोत्साहन राशि दी जायेगी, साथ ही बेमौसमी सब्जियाॅ उत्पादन को बढावा दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि शिक्षा मे सुधार लाने की जरूरत है प्रत्येक विद्यालयों में शिक्षकों की तैनाती शीघ्र की जायेगी।
कार्यक्रम में क्षेत्रीय विधायक/संसदीय सचिव सरिता आर्या ने कहा कि पहाडी क्षेत्रों में ऐसे शिक्षण संस्था खोलने पर विश्वविद्यालय के अध्यक्ष डा0 कमल धनशाला को धन्यवाद देते हुये और पहाडी क्षेत्रो में भी विश्वविद्यालय की शाखा खोलने का आह्वान किया। उन्होने भीमताल औद्योगिक क्षेत्र में बन्द हो रहे लद्यु उद्योगों को पुर्नजीवित करने की मांग भी रखी। ताकि लोगो को अच्छी शिक्षा के साथ ही रोजगार भी मिल सके। उन्होने भवाली सेनिटोरियम में मेडिकल कालेज की स्थापना का आग्रह भी किया।  कार्यक्रम में  मुख्यमंत्री श्री रावत  द्वारा वरिष्ठ स्वतन्त्रा सेनानी श्री मथुराप्रसाद शर्मा को शाल ओढाकर सम्मानित किया गया साथ ही विश्विद्यालय द्वारा उन्हे 51 हजार की धनराशि भेंट की गयी।
इस अवसर पर कालेज के डीन आसीएस मेहता, जया बिष्ट, हरीश बिष्ट, राखी घनशाला, कृपाल मेहरा, पुष्कर मेहरा, रामसिह कैडा, सुरेश आर्य, दुर्गेश पन्त, अम्बा आर्य, संजय जोशीयाडा, जेपी चन्द्रा, रेखा आर्या, राजीव जैन, कैलाश जोशी, एससी पलडिया, उदयवीर,हेम सनवाल, राजेन्द्र सिह, रघुवीर राणा, आन्नद सिह, एससी भाकुनी के अलावा मंडलाआयुक्त अवेन्द्र सिह नयाल, डीआईजी पुष्कर सिह सैलाल, जिलाधिकारी दीपक रावत, एसएसपी डी सैथिल अबुदई, मुख्य विकास अधिकारी अनेक छात्र-छात्राये एवं गणमान्य लोग उपस्थित थे।

Leave A Comment