Breaking News:

गैरसैण बनेगी ई-विधानसभा : सीएम त्रिवेंद्र -

Friday, June 5, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1215 , ठीक हुए मरीजो की संख्या हुई 344 -

Friday, June 5, 2020

“उत्तराखंड की शान भैजी विरेन्द्र सिंह रावत” ऑडियो वीडियो का हुआ शुभारम्भ -

Friday, June 5, 2020

डेंगू से बचाव के लिए जागरूकता जरूरी -

Friday, June 5, 2020

कोरोना से बचे : कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1199, देहरादून में 15 नए मामले मिले -

Friday, June 5, 2020

7 जून से “एसपीओ” द्वारा राष्ट्रीय ऑनलाइन योगा प्रतियोगिता का आयोजन -

Friday, June 5, 2020

उत्तराखंड : 10वीं च 12वीं की शेष परीक्षाएं 25 जून से पहले होंगी -

Friday, June 5, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1153 आज 68 नए मरीज मिले -

Thursday, June 4, 2020

पांच जून को अधिकांश जगह बारिश की संभावना -

Thursday, June 4, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1145 -

Thursday, June 4, 2020

जागरूकता और सख्ती पर विशेष ध्यान हो : सीएम त्रिवेंद्र -

Thursday, June 4, 2020

दुःखद : बॉलीवुड कास्टिंग निदेशक का निधन -

Thursday, June 4, 2020

वक्त का फेर : चैम्पियन तीरंदाज सड़क पर बेच रही सब्जी -

Thursday, June 4, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या 1085 हुई , 42 नए मरीज मिले -

Wednesday, June 3, 2020

अभिनेत्री ने जहर खाकर की खुदकुशी, जानिए खबर -

Wednesday, June 3, 2020

मुझे बदनाम करने की साजिश : फुटबॉल कोच विरेन्द्र सिंह रावत -

Wednesday, June 3, 2020

मोदी 2.0 : पहले साल लिए गए कई ऐतिहासिक निर्णय -

Wednesday, June 3, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या 1066 हुई -

Wednesday, June 3, 2020

सराहनीय पहल : एक ट्वीट से अपनों के बीच घर पहुंचा मानसिक दिव्यांग मनोज -

Tuesday, June 2, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1043 -

Tuesday, June 2, 2020

आधुनिक सिंगापुर के जनक ली कुआन येव के निधन पर राष्ट्रपति का शोक संदेश, प्रधानमन्त्री मोदी शामिल होंगे अंतिम संस्कार में

li kuwan yewराष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने सिंगापुर के पूर्व प्रधानमंत्री महामहिम ली कुआन येव के निधन पर सिंगापुर गणराज्‍य के राष्‍ट्रपति महामहिम डॉ टोनी तान केंग याम को पत्र लिखकर शोक प्रकट किया है।

अपने संदेश में राष्‍ट्रपति श्री प्रणब मुखर्जी ने कहा है ‘मुझे यह जानकर बेहद दु:ख हुआ कि सिंगापुर के संस्‍थापक और पूर्व प्रधानमंत्री महामहिम श्री ली कुआन येव नहीं रहे। महामहिम ली कुआन येव हमारे समय के महानतम नेताओं में से एक थे। वह भारत के सच्‍चे दोस्‍त थे। उन्‍हें भारत और सिंगापुर के बीच असाधारण सहयोग की मजबूत नींव रखने के लिए लंबे समय तक याद किया जाएगा। आसियान और अन्‍य दक्षिण-पूर्व एशियाई देशों के साथ भारत के सहयोग को बढ़ावा देने के लिए भी उन्‍हें याद किया जाएगा।

प्रणब मुखर्जी ने कहा है कि महामहिम श्री ली कुआन येव ने खुद को सिंगापुर के उच्‍च विकसित और आधुनिक देश के तौर पर विकसित करने में समर्पित कर दिया। मुझे इस बात में कोई संदेह नहीं है कि उनके विचार सिंगापुर की आने वाली पीढ़ियों और दुनिया के तमाम देशों और उनके नेताओं को प्रेरित करते रहेंगे। इस मौके पर भारत के लोगों की हार्दिक संवेदनाएं सिंगापुर के साथ है। शोक की इस घड़ी में श्री ली कुआन येव के परिवार के साथ हमारी पूरी गहरी सहानुभूति है।

प्रधानमन्त्री कार्यलय ने भी एक प्रेस नोट जारी कर इस घटना पर दुःख व्यक्त किया है | प्रधानमन्त्री मोदी 29 मई को सिंगापुर के पूर्व राष्ट्रपति के अंतिम संस्कार में भी होंगे शामिल |

Leave A Comment