Breaking News:

प्रकाशपर्व: मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र ने मत्था टेक प्रदेश की खुशहाली की कामना की -

Tuesday, November 12, 2019

उत्तराखण्ड: सीएम को फोन पर धमकी देने वाला आरोपी गिरफ्तार -

Monday, November 11, 2019

छात्रो ने फैशन शो में पेश किया नया क्लेक्शन -

Monday, November 11, 2019

पौड़ी के विकास में सीता माता सर्किट होगा मील का पत्थर साबित : सीएम -

Monday, November 11, 2019

सिन्मिट कम्युनिकेशन्स द्वारा मिस टैलेंटेड का आयोजन -

Monday, November 11, 2019

सीएम त्रिवेंद्र 550वें प्रकाश उत्सव एवं कार्तिक पूर्णिमा पर प्रदेशवासियों को दी शुभकामनाएं -

Monday, November 11, 2019

शहर के इस हालात पर अवैध टैक्सी स्टैंड जिम्मेदार, जानिए खबर -

Sunday, November 10, 2019

एक दिसम्बर को केंद्रीय कूर्मांचल परिषद का द्विवार्षिक चुनाव -

Sunday, November 10, 2019

सीएम त्रिवेंद्र ने फिल्म “शुभ निकाह” का मुहूर्त शॉट लिया -

Sunday, November 10, 2019

पौड़ी सांसद तीरथ सिंह रावत घायल, ऋषिकेश एम्स में भर्ती -

Sunday, November 10, 2019

डीएम सविन बंसल की एक पहलः स्कूूली बच्चों को सिखा रहे चित्रकारी -

Sunday, November 10, 2019

रास्ते में पड़े सिंगल यूज प्लास्टिक को भी उठाएं: सीएम त्रिवेंद्र -

Sunday, November 10, 2019

IPL-2020 : तीन नए शहर होगे सकते है शामिल , जानिए खबर -

Saturday, November 9, 2019

उत्तराखंड सैन्यधाम और विद्याधाम भी : रक्षामंत्री राजनाथ सिंह -

Saturday, November 9, 2019

आयुष्मान की सबसे बड़ी ओपनर बनी ‘बाला’, जानिए खबर -

Saturday, November 9, 2019

सीएम त्रिवेंद्र ने हिन्दी, गढ़वाली एवं कुमांऊनी फिल्मकारों को अनुदान राशि के चेक किये वितरित -

Saturday, November 9, 2019

अयोध्या में मंदिर भी और मस्जिद भी, जानिए खबर -

Saturday, November 9, 2019

मिसेज दून दिवा सीजन-4 का फिनाले 16 को , जानिए खबर -

Saturday, November 9, 2019

उत्तराखंड देश विदेशो में बनाई अपनी खास पहचान : सीएम -

Friday, November 8, 2019

सहायक अभियोजन अधिकारी पद के लिए करे 20 तक आवेदन -

Friday, November 8, 2019

यमन से सुरक्षित निकालने का अभियान- ‘राहत’

operation rahat

एक और चुनौतीपूर्ण व कठिन अभियान के तहत भारतीय नौसेना के पोत तरकश ने 10 अप्रैल को यमन के युद्धग्रस्त शहर अदन से विभिन्न राष्ट्रों के 464 लोगों को सुरक्षित निकाल लिया है। स्वर्गीय श्री मनजीत सिंह के पार्थिव शरीर को आईएनएस तरकश से ही जिबूती लाया गया। अदन शहर में बमबारी के दौरान श्री सिंह बुरी तरह घायल हो गये थे और बाद में उनकी मृत्यु हो गयी। वह हिमाचल प्रदेश में हमीरपुर के रहने वाले थे। इस यात्रा के दौरान 46 भारतीय नागरिकों व 14 देशों के 422 लोगों को बंदरगाह वाले शहर अदन से सुरक्षित निकालकर 11 अप्रैल, 2015 को जिबूती पहुंचाया गया। सुरक्षित निकाले गये लोग सदमे में थे और भारतीय नौसेना के पोत पर सुरक्षित पहुंचकर उन्होंने राहत की सांस ली।

सुरक्षित निकाले गये लोगों में चार गर्भवती महिलाएं, एक कैंसर व किडनी की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति और दो कुपोषण के शिकार बच्चे थे। उन्हें तरकश पर तत्काल चिकित्सीय सुविधाएं मुहैया करायी गयीं। अदन से सुरक्षित निकाले गये लोगों से पता चला कि शहर अब भी हौदियों के कब्जे में है और लगातार हो रही गोलीबारी की वजह वहां स्थिति बेहद गंभीर है। विषम परिस्थितियों में भी आईएनएस तरकश ने वहां के बंदरगाह से लोगों को निकालने का काम किया है। तरकश के क्रू ने बंदहगाह क्षेत्र व जेटी के आसपास गोलीबारी व बमबारी की सूचना दी है।

इससे पूर्व 9 अप्रैल, 2015 को आईएनएस सुमित्र ने अल-हौदिदा बंदरगाह से विदेशी नागरिकों सहित 349 लोगों को सुरक्षित निकाला था। जिबूती पहुंचने पर इथोपिया में भारत के राजदूत और कुवैत में बांग्लादेश के राजदूत ने सुमित्र की आगवानी की थी। सभी लोगों को जिबूती में सुरक्षित उतार लिया गया और 10 अप्रैल, 2015 को भारतीय वायुसेना के विमान और अन्य नागरिक विमानों से वहां से सुरक्षित आगे के लिए निकाला गया।

अब तक अदन की खाड़ी में तैनात किये गये भारतीय नौसेना के पोतों मुंबई, तरकश और सुमित्र ने 30 देशों के 964 नागरिकों समेत कुल 2671 लोगों को सुरक्षित निकाला है। यमन के तट पर तैनात किए गए भारतीय नौसेना के पोत अब भी ऑपरेशन ‘राहत’ के तहत लोगों को सुरक्षित निकालने के अभियान में डटे हैं।

Leave A Comment