Breaking News:

होटल के कमरे से मिला दिल्ली के पर्यटक का शव -

Friday, February 21, 2020

केदार धाम के कपाट 29 अप्रैल को खुलेंगे -

Friday, February 21, 2020

रेल मंत्री ने दिल्ली से देहरादून के लिए तेजस ट्रेन की सैद्धांतिक स्वीकृति दी -

Friday, February 21, 2020

इस धरती में पवित्रतम है ज्ञानः डॉ. पण्ड्या -

Friday, February 21, 2020

परमार्थ निकेतन में धूमधाम और उल्लास से मनाई गई शिवरात्रि -

Friday, February 21, 2020

महाशिवरात्रि : बाबा विश्वनाथ को समर्पित एक अनूठी भेंट -

Thursday, February 20, 2020

कुर्मांचल परिषद उत्तराखंड : जलाभिषेक कल, होली समारोह की तैयारियां जोरों पर -

Thursday, February 20, 2020

उत्तराखण्ड का एडवेंचर टूरिज्म जल्द ही एमटीवी पर दिखेगा -

Thursday, February 20, 2020

सीएम ने बागेश्वर में 44 योजनाओं का किया शिलान्यास एवं लोकार्पण -

Thursday, February 20, 2020

उत्तराखंड में 10 हजार लोगो को आप पार्टी से जोड़ने का लक्ष्यः एसएस कलेर -

Thursday, February 20, 2020

‘इण्डिया ड्रोन फेस्टिवल-2.0‘ का सीएम त्रिवेंद्र ने किया शुभारम्भ -

Thursday, February 20, 2020

नैनीताल हाईकोर्ट के अगले चीफ जस्टिस होंगे आर.बी. मलिमथ -

Thursday, February 20, 2020

गैरसैंण में विधानसभा सत्र तीन मार्च से, जानिए खबर -

Thursday, February 20, 2020

आयोग की परीक्षाओं में न होने पाए कोई गड़बड़ी : सीएम त्रिवेंद्र -

Wednesday, February 19, 2020

जरा हटके : पत्नी से लड़ाई झगड़ा फिर पति का शांतिभंग में चालान, जानिए खबर -

Wednesday, February 19, 2020

परिवर्तन नहीं, अफवाहें विरोधियों का षड़यंत्रः भगत -

Wednesday, February 19, 2020

दुराचार का आरोपी गिरफ्तार, जेल भेजा -

Wednesday, February 19, 2020

उत्तराखंड : एनडी तिवारी के “पाँच साल” की राह पर सीएम त्रिवेंद्र -

Wednesday, February 19, 2020

देवभूमि में ‘पॉलीटेक्निक स्पोर्ट्स मीट 2020’ का समापन -

Tuesday, February 18, 2020

आढ़तियों के चालान पर पूर्व अध्यक्ष आए बचाव में, जानिए खबर -

Tuesday, February 18, 2020

मैड ने मसूरी डाइवर्जन के पास चलाया अपना 18वां कायापलट अभियान|

March 29-April 1 wall paint-Before Afterदेहरादून के शिक्षित छात्रों के संगठन मेकिंग ए दिफरंस बाए बीईंग द दिफरंस (मैड) संस्था ने अपना 18वां कायापलट अभियान चलाया| नैश्विल्ला रोड, ओल्ड सर्वे रोड, जाखन, भंडारी बाघ, रेलवे स्टेशन, इत्यादि  के बाद मैड ने बीते रविवार के दिन  को डाइवर्जन  के पास कि लम्बी दीवार का कायापलट करने के लिए निर्धारित किया था|

जैसे जैसे कार्यक्रम शुरू हुआ ही था तभी मूसलाधार वर्षा ने एक्टिविटी पर ब्रेक लगा दिया| लेकिन सभी छात्र पानी से तर बत्तर होने तक काम करते रहे और कई और पोस्टर से सनी दीवार को साफ़ करने में कामयाब रहे|

गौरतलब है कि मैड के सभी सदस्य स्कूल या कालेज के छात्र हैं और आम तौर से यह संगठन अपनी सारी एक्टिविटीज रविवार को ही रखता है| औसतन एक दीवार के कायाकल्प में संगठन के 20 सदस्यों को 4 घंटे लगते है| मंगलवार और ब्रहिस्पतिवार को दोपहर कि तपती गर्मी के बीच किसी तरह समय निकाल-निकाल कर मैड इस दीवार का कायाकल्प करने में सफल रहा|

March 29-April 1 wall paint-2अभियान के दौरान मैड के प्रयासों को कई राह चलते लोगों ने सराहा| क्योंकि दीवार बहुत लम्बी और ऊंची थी, छात्रो को सीढ़ी कि भी ज़रुरत महसूस हुई और स्थानीय लोगों ने तुरंत हाज़िर करदी| मैड के अध्यक्ष अभिजय नेगी और समन्वयक शार्दुल सिंह राणा ने इस एक्टिविटी के लिए ज़रूरी इजाज़त पहले ही ले ली थी| तीन दिन चले इस मैराथन प्रयास में मुख्य तौर से हितेश, विश्वास पाण्डेय, साक्षी जिंदल, दीक्षा रावत, स्वाति सिंह, मानवेन्द्र रावत,  इत्यादि शामिल हुए|

Leave A Comment