Breaking News:

भाई की पुकार…….. -

Monday, August 3, 2020

भाजपा उत्तराखंड में 5 अगस्त को दीपमाला प्रकाशित कर मनाएगी उत्सव -

Monday, August 3, 2020

ऋषिकेश : दुर्घटना में चोटिल मां-बेटे को स्पीकर ने अपनी गाड़ी पहुंचाया अस्पताल -

Monday, August 3, 2020

उत्तराखंड: राजभवन में दो साल से मुसीबत का सबब बना उत्पाती बंदर रेस्क्य टीम ने दबोचा -

Monday, August 3, 2020

उत्तराखंड: आज इस जिले में मिले कोरोना के 100 से अधिक मरीज, जानिए खबर -

Monday, August 3, 2020

भाषा बोली किसी भी संस्कृति एवं सभ्यता का होता है आईना : मंत्री प्रसाद नैथानी -

Sunday, August 2, 2020

रक्षाबन्धन : आंगनबाड़ी और आशा कार्यकत्रि के खाते में एक-एक हजार रुपये की सम्मान राशि मिलेगी -

Sunday, August 2, 2020

उत्तराखंड: आज इन जिलों में मिले कोरोना के अधिक मरीज, जानिए खबर -

Sunday, August 2, 2020

पाताल से भी ढूढ निकालेंगे रिया चक्रवर्ती को : बिहार पुलिस -

Sunday, August 2, 2020

देहरादून : सार्वजनिक स्थानों पर मास्क न पहनने पर 532 लोगों का चालान किया -

Sunday, August 2, 2020

उत्तर प्रदेश : कैबिनेट मंत्री कमल रानी वरुण की कोरोना से मौत -

Sunday, August 2, 2020

डमरूधारी भोला भण्डारी वीडियो गीत को किया लांच, जानिए खबर -

Saturday, August 1, 2020

उत्तराखंड : नरेश बंसल ने नई शिक्षा नीति लागू होने पर खुशी जताई -

Saturday, August 1, 2020

रक्षाबंधन के दिन सुबह 9.29 बजे तक भद्रा रहेगी, उसके बाद पूरे दिन राखी बांधने का समय -

Saturday, August 1, 2020

सकारात्मक पोस्ट के साथ दुष्प्रचार का भी जवाब दें सोशल मीडिया प्रभारीः मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र -

Saturday, August 1, 2020

उत्तराखंड: आज 264 कोरोना के नए मामले मिले -

Saturday, August 1, 2020

बद्रीनाथ धाम के प्रसाद अब देश और विदेश के श्रद्वालुओं को ऑनलाइन  मिलना शुरू, जानिए खबर -

Saturday, August 1, 2020

भारत : पूरे देश मे कोरोना मरीजो की संख्या पहुँची 17 लाख के करीब -

Saturday, August 1, 2020

उत्तराखंड: आज दो जिले को छोड़ बाकी सभी जिलों में मिले नए कोरोना मरीज, जानिए खबर -

Friday, July 31, 2020

उत्तराखंड | वरिष्ठ आईएएस अफसर ओमप्रकाश ने मुख्य सचिव पद का कार्यभार ग्रहण किया -

Friday, July 31, 2020

परमार्थ निकेेतन में मुम्बई से पधारा योगियों का दल

ऋषिकेश । परमार्थ निकेतन में मुम्बई से आये योगी अमरनाथ जी के मार्गदर्शन में साधकों और योगियों का दल पधारा। दल के सदस्यों ने स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी के पावन सान्निध्य में अपनी आध्यात्मिक जिज्ञासाओं का समाधान प्राप्त किया। योगी अमरनाथ जी ने परमार्थ निकेतन के परमाध्यक्ष स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी महाराज को भगवान बुद्ध की फोटो भेंट की। स्वामी जी ने कहा कि भगवान बुद्ध ने प्रेम और शान्ति की शिक्षा दी है। वर्तमान समय में पूरा विश्व शान्ति की तलाश में है परन्तु शान्ति बाहर तलाश करने से प्राप्त नहीं हो सकती उसके लिये हमें अपना माइंडसेट करना होगा।  मानव जितना प्रकृति के सान्निध्य में रहेगा उतना ही शान्त और सुखी जीवन जी सकता है। दूसरी महत्वपूर्ण बात यही भी है कि जब तक प्रत्येक मनुष्य की मूलभूत आवश्यकतायें पूर्ण नहीं होती तब तक हम सर्वत्र शान्ति की कामना नहीं कर सकते। भारत सहित विश्व के अनेक देशों में बड़ी संख्या में लोगों के पास स्वच्छ जल, शुद्ध वायु, पर्याप्त भोजन और शिक्षा का अभाव है जब तक ये जरूरतें पूरी नहीं होती शान्ति की कल्पना नहीं की जा सकती। मुम्बई से आये साधकों और योगियों के दल को जल संरक्षण हेतु प्रेरित करते हुये स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी ने कहा कि जल है तो जीवन है। जल मनुष्य की प्रमुख मूलभूत आवश्यकताओं में से एक हैै। स्वच्छ जल के अभाव के कारण भारत में ही प्रतिदिन पांच वर्ष से कम उम्र के लगभग 1600 बच्चों की मौत हो जाती है। स्वच्छ जल के अभाव में जीवन तो क्या दुनिया की किसी भी सभ्यता की कल्पना तक नहीं की जा सकती। आज कई स्थानों पर वायु प्रदूषण इतना अधिक बढ़ गया है कि लोगों को शुद्ध प्राणवायु आॅक्सीजन नहीं मिल पा रही है। बढ़ता वायु प्रदूषण भारत ही नहीं बल्कि पूरे विश्व के लिये एक बहुत बड़ी समस्या है। यह समस्या  किसी व्यक्ति विशेष की नहीं बल्कि पूरे प्राणीजगत की समस्या है। अतः मुझे तो लगता है कि अब हम सभी की साधना और योग की शक्ति तथा समर्पण जल संरक्षण और वृक्षारोपण के लिये हो तभी सर्वत्र शान्ति और आनन्द की कल्पना कर सकते है। स्वामी चिदानन्द सरस्वती के सान्निध्य मंे योगी अमरनाथ और सभी साधकों व योगियों ने विश्व स्तर पर स्वच्छ जल की आपूर्ति हेतु विश्व ग्लोब का जलाभिषेक किया एवं जल संरक्षण का संकल्प लिया।

Leave A Comment