Breaking News:

उत्तराखंड: आज 246 नए कोरोना मरीज मिले , जानिए खबर -

Wednesday, August 5, 2020

कई वर्षों के संघर्ष के बाद आज यह स्वर्णिम अवसर आया : सीएम त्रिवेंद्र -

Wednesday, August 5, 2020

वर्षो बाद आज रच गया इतिहास, जानिए खबर -

Wednesday, August 5, 2020

सिविल सेवा परीक्षा परिणाम : रामनगर के शुभम अग्रवाल ने हासिल किए 43वीं रैंक -

Wednesday, August 5, 2020

दुःखद : सात साल की मासूम बच्ची को गुलदार ने बनाया निवाला -

Wednesday, August 5, 2020

उत्तराखंड : चार आईएएस समेत 14 अधिकारियों के दायित्वों किया गया फेरबदल -

Wednesday, August 5, 2020

सराहनीय : आत्मनिर्भर भारत अभियान की ओर अग्रसर “हिमालय ट्री” -

Tuesday, August 4, 2020

उत्तराखंड : 5100 घी के दियों से जगमगायेगा मुख्यमंत्री आवास -

Tuesday, August 4, 2020

उत्तराखंड: आठ हजार के पार पहुँचा कोरोना मरीजो की संख्या , जानिए खबर -

Tuesday, August 4, 2020

“छुमका गिरा रे बरेली के बाज़ार में” के गाने में बरेली बाजार ही क्यों , जानिए खबर -

Tuesday, August 4, 2020

‘रक्षा बंधन’ फिल्म बनाएंगे अक्षय कुमार, जानिए खबर -

Tuesday, August 4, 2020

भारत : कोरोना मरीजों की पूरे देश मे 18 लाख से अधिक संख्या पहुँची -

Tuesday, August 4, 2020

भाई की पुकार…….. -

Monday, August 3, 2020

भाजपा उत्तराखंड में 5 अगस्त को दीपमाला प्रकाशित कर मनाएगी उत्सव -

Monday, August 3, 2020

ऋषिकेश : दुर्घटना में चोटिल मां-बेटे को स्पीकर ने अपनी गाड़ी पहुंचाया अस्पताल -

Monday, August 3, 2020

उत्तराखंड: राजभवन में दो साल से मुसीबत का सबब बना उत्पाती बंदर रेस्क्य टीम ने दबोचा -

Monday, August 3, 2020

उत्तराखंड: आज इस जिले में मिले कोरोना के 100 से अधिक मरीज, जानिए खबर -

Monday, August 3, 2020

भाषा बोली किसी भी संस्कृति एवं सभ्यता का होता है आईना : मंत्री प्रसाद नैथानी -

Sunday, August 2, 2020

रक्षाबन्धन : आंगनबाड़ी और आशा कार्यकत्रि के खाते में एक-एक हजार रुपये की सम्मान राशि मिलेगी -

Sunday, August 2, 2020

उत्तराखंड: आज इन जिलों में मिले कोरोना के अधिक मरीज, जानिए खबर -

Sunday, August 2, 2020

मैड की प्रस्तुति : म्यारू पहाड़ म्यारू आदर्श….

देहरादून | देहरादून के शिक्षित युवाओं का संगठन, मेकिंग ए डिफरेंस बाय बींग द डिफरेंस (मैड) सांस्था ने अपने गन्दी दीवारों के कायाकल्प अभियान को एक कदम और आगे बढ़ाते हुए परेड ग्राउंड के पीछे तिब्बती मार्किट से सटी एक और दीवार का कायाकल्प कर दिया है। इस चित्रकला की यह विशेषता है कि यह गढ़वाली सभ्यता एवं आदर्शों को झल्काते हुए तैयार की गयी है।  गौरतलब है कि मैड के स्वयंसेवी विगत आठ वर्षों से पर्यावरण संरक्षण के अनेक अभियानों मे अग्रसर हैं और विशेष तौर पर सफाई एवं जागरूकता मे उनकी एक अहम् भूमिका रही है। मैड की ओर से पूरे शहर मे पचास से ज्यादा जगहों पर गन्दी पेशाब युक्त और पोस्टर से सनी दीवारों का कायाकल्प अभियान चलाया गया है जिसके जरिये मैड के सदस्य इन गंदी दीवारों को साफ करके इन पर सुंदर चित्रकला बिखेरने का काम करते हैं। मैड की ओर से इस चित्रकला मे गढ़वाल में निर्माण कार्य में पहले के जमाने के स्तंभ दर्शाये गए हैं और साथ साथ गढ़वाली कला की बारीकियों को भी दर्शाया गया है। एक स्तंभ के पीछे से गढ़वाल की एक स्त्री को झांकते हुए दिखाया गया है इस संदेश के साथ कि पहाड़ ही हमरे आदर्श हैं। इस दीवार को तैयार करने मे मैड के स्वयंसेवीयों को लगभग एक सप्ताह का समय लगा जिसमे पहले तो दीवार को साफ किया गया और उसके उपर यह कलाकृतियाँ बिखरी गयी। मैड ने सार्वजनिक तौर पर शहर के सभी युवाओं से यह अपील की है कि जो लोग चित्रकला बनाने मे अच्छे हैं वह अपनी ड्रॉइंग फाइलों से बाहर अपनी कला को बिखरने का काम करें ताकि उनके इस हुनर का लाभ पूरे शहर को हो सके। मैड सांस्था की ओर से इस अभियान मे अहम् भूमिका निभाने वलों में श्रेया रोहिल्ला, सामीर, अर्ची बिष्ट, इन्दर, आदर्श त्रिपाठी, उत्कर्ष और आर्यन शामिल थे। गौरतलब है कि मैड की ओर से परेड ग्राउंड बाहरी क्षेत्र की दीवारों पर यह कायाकल्प अभियान चलाया जा रहा है जिसमे कई ऐसी जगहों को चिन्हित करा गया है जहाँ कायाकल्प की आवश्यकता है।

Leave A Comment