Breaking News:

उत्तराखंड में पांच और कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आए, संक्रमित मरीजों की संख्या हुई 31 -

Monday, April 6, 2020

सीएम ने उत्तराखंड के जवानों की शहादत को नमन किया -

Monday, April 6, 2020

उत्तराखंड : मुख्यमंत्री कैम्प कार्यालय में बेहतर समन्वय के लिए बनाया गया कंट्रोल रूम -

Monday, April 6, 2020

पौड़ी : पाबौ में चट्टान से गिरने से महिला की मौत -

Monday, April 6, 2020

जुबिन नौटियाल ने ऑनलाइन शो से कोरोना फाइटर्स को कहा थैंक्यू -

Monday, April 6, 2020

अनूप नौटियाल व डा. दिनेश चौहान रहे कोरोना वाॅरियर -

Monday, April 6, 2020

पहल : देहरादून में 7745 भोजन पैकेट वितरित किये गये -

Sunday, April 5, 2020

सीएम त्रिवेन्द्र ने परिवार संग दीप जला कर हौसला बढाने का दिया सन्देश -

Sunday, April 5, 2020

उत्तराखंड में चार और कोरोना पाॅजीटिव मामले सामने आए, संख्या 26 हुई -

Sunday, April 5, 2020

दुःखद : जंगल की आग में जिंदा जली दो महिलाएं -

Sunday, April 5, 2020

आम आदमी की रसोईः जरूरतमंदों को दे रही भोजन और राशन -

Sunday, April 5, 2020

5 अप्रैल को रात 9 बजे 9 मिनट के लिए अपने घरों में लाईट बंद कर दीपक जलाए : सीएम त्रिवेंद्र -

Saturday, April 4, 2020

लापता व्यक्ति का शव पाषाण देवी के मंदिर पास झील से बरामद हुआ -

Saturday, April 4, 2020

देहरादून : स्वयंसेवी संस्थाओं के सहयोग से 9482 भोजन पैकेट वितरित किये गये -

Saturday, April 4, 2020

उत्तराखंड में कोरोना पॉजिटिव मामलों की संख्या हुई 22 -

Saturday, April 4, 2020

सोशियल पॉलीगोन ग्रुप ऑफ कंपनी ने मुख्यमंत्री राहत कोष में 5 लाख का चेक दिया -

Saturday, April 4, 2020

लॉकडाउन : रचायी जा रही शादी पुलिस ने रुकवाई, 15 लोगों पर मुकदमा दर्ज -

Friday, April 3, 2020

उत्तराखंड : त्रिवेन्द्र सरकार ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए जारी किये 85 करोङ रूपए -

Friday, April 3, 2020

ऋषियों का मूल मंत्र ’तमसो मा ज्योतिर्गमय’ एक अद्भुत आइडियाः स्वामी चिदानन्द सरस्वती -

Friday, April 3, 2020

आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने किया रक्तदान -

Friday, April 3, 2020

अंतरिक्ष उपयोग केन्द्र के निदेशक के खिलाफ प्रदर्शन हुआ तेज , जानिए खबर

uk-sheela

देहरादून। यूसैक से निकाले गये कर्मचारियों ने अपनी बहाली की मांग को लेकर धरनास्थल पर अंतरिक्ष उपयोग केन्द्र के निदेशक के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए धरने पर बैठे रहे और कहा कि शीघ्र ही मांगों का निदान नहीं किया गया तो सड़कों पर उतरकर आंदोलन को तेज किया जायेगा। उनका कहना है कि उनके हितों की अनदेखी की जा रही है।  यहां धरना स्थल पर यूसैक से निकाले गये कर्मचारी शीला रावत के नेतृत्व में इकटठा हुए और वहां पर उन्होंने अपनी बहाली की मांग को लेकर प्रदर्शन करते हुए धरना दिया। इस अवसर पर शीला रावत का कहना है कि आज उनके धरने को 78वें दिन भी जारी रहा और उनका कहना है कि विभाग में सात वर्ष से निरन्तर कार्यरत महिला व पुरुष कर्मियों को उत्पीड़न कर बाहर करने के निर्णय को वापस लेकर, ससम्मान विभाग में वापसी की जाये और आउट सोर्स पर तैनात सभी कर्मियों की विभाग में स्थाई नियुक्ति प्रदान की जाये। उनका कहना है कि प्रतिनियुक्ति पर तैनात निदेशक एमपीएस बिष्ट पर महिला उत्पीड़न व तानाशाही को लेकर कार्यवाही किये जाने की आवश्यकता है और उच्चाधिकारियों को इसका संज्ञान लेना होगा उनका कहना है कि विभाग में व्याप्त अनियमित्ताओं की निष्पक्ष जांच की जाये और विभाग में महिला उत्पीड़न रोकने के लिए, वूमैन सेल का गठन तत्काल प्रभाव से किया जाये। उनका कहना है कि शीघ्र ही उनकी मांगों का समाधान नहीं किया गया तो आंदोलन को तेज किया जायेगा। उनका कहना है कि लंबे समय से आंदोलन किया जा रहा है लेकिन अभी तक केन्द्र के निदेशक के खिलाफ किसी भी प्रकार की कोई कार्यवाही नहीं की गई है जो चिंता का विषय है। इस अवसर पर अन्य संगठनों के कार्यकर्ताओं ने आंदोलन को अपना समर्थन दिया। इस अवसर पर धरने पर हटाये गये कर्मचारी व संगठनों के कार्यकर्ता मौजूद थे |

Leave A Comment