Breaking News:

राजनीति नहीं, राष्ट्रनीति में आना चाहता हूँः अमर सिंह -

Tuesday, January 15, 2019

उत्तराखण्ड के 90 प्रतिशत गांवो में इन्टरनेट कनेक्टिविटी जल्द -

Tuesday, January 15, 2019

डाॅ. सुजाता संजय फॉग्सी वीमेन एम्पावरमेंट अवार्ड से सम्मानित -

Tuesday, January 15, 2019

उत्तराखण्ड में 10 प्रतिशत आर्थिक आरक्षण जल्द लागू: मुख्यमंत्री -

Tuesday, January 15, 2019

द्रोणनगरी में निकली भगवान जगन्नाथ की भव्य रथयात्रा -

Monday, January 14, 2019

शिक्षा विभाग के खिलाफ शिक्षिका उत्तरा बहुगुणा नेखोला मोर्चा -

Monday, January 14, 2019

इस वर्ष प्रदेश के सभी गांव जुड़ेंगे सड़क मार्ग से, जानिए ख़बर -

Monday, January 14, 2019

इमरान हाशमी के नन्हे बेटे ने जीती कैंसर से जंग,जानिए खबर -

Monday, January 14, 2019

राज्यपाल ने सड़क दुर्घटनाओं पर जतायी चिन्ता -

Monday, January 14, 2019

ऋषिकेश पहुंची स्वस्थ भारत साइकिल यात्रा, टीएचडीसी ने किया स्वागत -

Sunday, January 13, 2019

केदारधाम ओढ़ी बर्फ की चादर, कार्य प्रभावित -

Sunday, January 13, 2019

वेब मीडिया एसोसिएशन : उत्तराखण्ड राज्य कार्यकारिणी का हुआ गठन -

Sunday, January 13, 2019

भारतीय टीम में हार्दिक पंड्या,राहुल की जगह इन खिलाड़ियों को मिला मौका -

Sunday, January 13, 2019

3 साल से गायब हैं ‘मुन्नाभाई’ के ऐक्टर ,जानिए खबर -

Sunday, January 13, 2019

पीआरएसआई देहरादून चैप्टर ने स्वस्थ भारत यात्रा अभियान के अंतर्गत सक्रिय भागीदारी निभाई -

Saturday, January 12, 2019

पूर्व सीएम हरीश रावत ने ‘मशरूम व खिचड़ी सक्रांत पार्टी’ का किया आयोजन -

Saturday, January 12, 2019

भारतीय हिमालय क्षेत्र से पलायन पर शोध पुस्तक की समीक्षा -

Saturday, January 12, 2019

जल्द रिलीज होगी जॉन अब्राहम की ‘रोमियो अकबर वॉटर’ -

Saturday, January 12, 2019

IND vs AUS: महेंद्र सिंह धोनी ने छुआ खास मुकाम,जानिए खबर -

Saturday, January 12, 2019

सात साहित्यकारों को मिला सारस्वत सम्मान, उत्तराखण्ड के युवा कवि एवम सम्पादक राज शेखर भट्ट भी हुए सम्मानित -

Saturday, January 12, 2019

अगर तैयारी पूरी थी तो परिणाम क्यों नहीं, जानिए खबर

देहरादून | मुख्यमंत्री  त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने वनाग्नि की घटनाओं की रोकथाम के लिये सभी जिलाधिकारियों को प्रभावी कदम उठाने के निर्देश दिये हैं। मुख्यमंत्री  ने बुधवार को सचिवालय में वन विभाग के अधिकारियों तथा वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़े सभी जिलाधिकारियों के साथ वनाग्नि की घटनाओं की समीक्षा की। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने वन विभाग के अधिकारियों को आडे़ हाथों लेते हुए उनसे पूछा कि उन्होंने क्या तैयारी की थी ? अगर तैयारी पूरी थी तो परिणाम क्यों नहीं मिला ? मुख्यमंत्री ने वन विभाग के नोडल अधिकारी बीपी गुप्ता और डी.एफ.ओ. पौड़ी को फटकार लगाते हुए कार्यप्रणाली में सुधार लाने के निर्देश दिए। उन्होंने सभी जिलाधिकारियों को भी हिदायत दी कि अपने जनपदों में वनाग्नि की घटनाओं की जवाबदेही उन्हीं की होगी। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि प्रभागीय वनाधिकारी की परफाॅर्मेंस एप्रेजल रिर्पोट में वनाग्नि की रोकथाम के प्रयासों तथा उनके परिणामों को भी दर्ज किया जाय। मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि जिलाधिकारियों और वन विभाग, स्थानीय समुदायों को अपने साथ जोड़ें। स्थानीय लोगों की मदद के साथ, वनों की प्रभावी सुरक्षा की जा सकती है। मुख्यमंत्री ने वनाग्नि की रोकथाम के लिये कुल प्रावधानित बजट 12 करोड़ 37 लाख का 50 प्रतिशत ही जारी किये जाने पर भी सख्त नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने वन विभाग को फटकार लगाते हुए कहा कि, ‘‘आग अभी लगी है, आप पैसा कब के लिये बचा रहे हैं।’’ उन्होंने शेष राशि तत्काल जनपदों देने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी जिलाधिकारी आपदा प्रबंधन तंत्र तथा आपदा प्रबंधन मद में उपलब्ध धनराशि का भी समुचित प्रयोग करें। सभी जनपदों में आपाद प्रबंधन मद में 5-5 करोड़ की धनराशि दी गई है जिसकी 10 प्रतिशत राशि से उपकरण क्रय किये जा सकते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि वनों की आग सिर्फ वन विभाग की समस्या नही है। अन्तरविभागीय समन्वय कर इससे पूरी क्षमता के साथ लड़ा जाय। मुख्यमंत्री ने कहा कि वन विभाग वर्षा काल का इंतजार न करे और अभी से अपने प्रयासों को तेज करे। जिन जनपदों में एक्टिव फायर की रिपोर्ट नही है उन्हें भी सजग रहने की जरूरत है। वनाग्नि की घटनाओं में सम्बन्धित नोडल अधिकारी ने बताया कि अभी तक कुल 776 घटनाएं दर्ज हुई है, जिनमें 1271 हेक्टेयर क्षेत्रफल प्रभावित हुआ है। 40 मास्टर कंट्रोल रूम स्थापित किये गये है। बैठक में अपर मुख्य सचिव डाॅ.रणवीर सिंह, प्रमुख सचिव  राधा रतूड़ी, सचिव  अमित नेगी, श्रीमती राधिका झा, अरविन्द सिंह ह्यांकी, अपर सचिव  आशीष श्रीवास्तव एव वन विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।

Leave A Comment