Breaking News:

दुःखद : बॉलीवुड कास्टिंग निदेशक का निधन -

Thursday, June 4, 2020

वक्त का फेर : चैम्पियन तीरंदाज सड़क पर बेच रही सब्जी -

Thursday, June 4, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या 1085 हुई , 42 नए मरीज मिले -

Wednesday, June 3, 2020

अभिनेत्री ने जहर खाकर की खुदकुशी, जानिए खबर -

Wednesday, June 3, 2020

मुझे बदनाम करने की साजिश : फुटबॉल कोच विरेन्द्र सिंह रावत -

Wednesday, June 3, 2020

मोदी 2.0 : पहले साल लिए गए कई ऐतिहासिक निर्णय -

Wednesday, June 3, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या 1066 हुई -

Wednesday, June 3, 2020

सराहनीय पहल : एक ट्वीट से अपनों के बीच घर पहुंचा मानसिक दिव्यांग मनोज -

Tuesday, June 2, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1043 -

Tuesday, June 2, 2020

उत्तराखंड : मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना में करें अब आनलाईन आवेदन -

Tuesday, June 2, 2020

10 वर्षीय आन्या ने अपने गुल्लक के पैसे देकर मजदूर का किया मदद -

Tuesday, June 2, 2020

उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या 999 हुई, 243 मरीज हुए ठीक -

Tuesday, June 2, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 958 -

Monday, June 1, 2020

उत्तराखंड : कोरोना मरीजो की संख्या 929 हुई, चम्पावत में 15 नए मामले मिले -

Monday, June 1, 2020

जागरूकता: तंबाकू छोड़ने की जागरूकता के लिए स्वयं तत्पर होना जरूरी -

Monday, June 1, 2020

मदद : गांव के छोटे बच्चों को पढ़ा रही भावना -

Monday, June 1, 2020

नही रहे मशहूर संगीतकार वाजिद खान -

Monday, June 1, 2020

नेक कार्य : जरूरतमन्दों के लिए हज़ारो मास्क बना चुकी है प्रवीण शर्मा -

Sunday, May 31, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या पहुँची 907, आज 158 कोरोना मरीज मिले -

Sunday, May 31, 2020

सोशल डिस्टन्सिंग के पालन से कोरोना जैसी बीमारी से बच सकते है : डाॅ अनिल चन्दोला -

Sunday, May 31, 2020

अब तक 12 लाख से अधिक लोगो को सेवा प्रदान की, जानिए ख़बर

trivendra-singh-rawat

देहरादून। जीवीके ईएमआरआई प्रबन्धन द्वारा 108 आपातकालीन सेवा के मुख्यालय में राज्यस्तरीय इमरजेंसी मेडिकल केयर अवार्ड समारोह का आयोजन किया गया। इस समारोह में राज्य भर से आये उन सभी फील्ड कर्मियों एवं टीम के अन्य सदस्यों को आमंत्रित किया गया था, जिन्होंने आपातकालीन स्थितियों के दौरान विषिश्ट सेवाएं प्रदान करते हुये पीड़ितों के जीवन बचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। इस अवसर पर जीवीके ईएमआरआई उत्तराखण्ड के स्टेट हैड मनीश टिंकू द्वारा समारोह में आमंत्रित किये गये समस्त कर्मियों को सम्मानित किया गया। अपनी टीम को बधाई देते हुये मनीश टिंकू ने कहा कि हमारी टीम गत लगभग दस वर्शों से आम जनता को आपातकालीन स्थितियों के दौरान त्वरित एवं निस्वार्थ रुप से अपनी सेवाएं प्रदान कर रही हैं। ज्ञात हो कि जीवीके ईएमआरआई 108 आपातकालीन सेवा द्वारा प्रतिदिन 300 से 350 आपातकालीन मामलों में सेवाएं प्रदान की जाती हैं परन्तु इनमें से कुछ आपातकालीन मामले ऐसे भी होते हैं जिनमें यदि पीड़ित व्यक्ति को त्वरित रुप से प्राथमिक उपचार न मिल पाये तो उस व्यक्ति का जीवन संकट में पड़ सकता है। उन्होंने कहा कि हमें गर्व है कि जीवीके ईएमआरआई 108 आपातकालीन सेवा द्वारा प्रारम्भ से अब तक लगभग 12 लाख 58 हजार से अधिक आपातकालीन मामलों में सेवाएं प्रदान करते हुये लगभग 31,700 से अधिक पीड़ितों का जीवन बचाया गया है, ये सभी ऐसे मामले थे जिनमें यदि पीड़ितों को उचित समय पर आपातकालीन सहायता ना मिल पाती, तोे उनका जीवन बचाया जाना असम्भव था। समारोह में आमंत्रित टीम के सदस्यों ने आपातकालीन मामलों में हुये अपने अनुभवों को आपस में साझा करते हुए बताया कि उनके द्वारा किस प्रकार से उस आपातकालीन स्थिति के दौरान त्वरित रुप से सहायता प्रदान कर पीड़ितों का जीवन बचाया था। ज्ञात हो कि गत लगभग दस वर्शों की अवधि में 108 आपातकालीन सेवा द्वारा लगभग 12 लाख 58 हजार से अधिक आपातकालीन मामलों में सेवाएं प्रदान की गई हैं, जिनमें से 4.91 लाख से अधिक मामले गर्भावस्था तथा 1.27 लाख मामले सड़क दुर्घटना से सम्बन्धित हैं। इसके साथ ही लगभग 10,200 से अधिक बच्चों का जन्म 108 आपातकालीन सेवा के एम्बुलेंस वाहनों में हुआ है। इस अवसर पर 108 आपातकालीन सेवा की विभिन्न टीमों को उनके क्षेत्र में दी गई विषिश्ट सेवाओं हेतु क्रमषः 108 नेषनल सेवियर अवार्ड, ईएम केयर अवार्ड, बैस्ट केएमपीएल अवार्ड, बैस्ट ईआरओ अवार्ड इत्यादि प्रदान किये गये। बेरीनाग एम्बुलेंस में तैनात ईएमटी गोकुल सिंह एवं दिगम्बर कुमार को इस बार 108 नेषनल सेवियर अर्वाड से सम्मानित किया गया, इन दोनों कर्मचारियों को यह अवार्ड एक गर्भवती महिला को प्रसव पीड़ा के दौरान अस्पताल ले जाते हुए एम्बुलेंस में ही सुरक्षित प्रसव करवाने हेतु प्रदान किया गया, आज आयाजित किये गये इस कार्यक्रम में संस्था में 10 वर्श पूर्ण करने वाले कर्मचारियों को भी सम्मानित किया गया। इस अवसर पर जीवीके ईएमआरआई उत्तराखण्ड के स्टेट हैड मनीश टिंकू ने समारोह में उपस्थित सभी टीमों को उनके द्वारा किए जा रहे उत्कृष्ट कार्याें हेतु बधाई देते हुए उनका उत्साहवर्धन किया और कहा कि जीवीके ईएमआरआई सदैव आपातकालीन स्थितियों के दौरान आमजनमानस की सहायता हेतु दृढ़-संकल्पित है और हमारी टीम अपने इस संकल्प को सदैव पूर्ण करने हेतु तत्पर रहेगी।

Leave A Comment