Breaking News:

मनाया जा रहा उत्तराखण्ड में वर्ष 2019 रोजगार वर्ष के रूप में, जानिए खबर -

Wednesday, February 20, 2019

दून में फ्लाईओवरों के नाम शहीदों के नाम पर रखे जाएंः यूकेडी -

Wednesday, February 20, 2019

उत्तराखण्ड के युवाओं को रोजगार के अवसर प्रदान करना सीएम त्रिवेन्द्र की प्राथमिकता, जानिए खबर -

Wednesday, February 20, 2019

क्षय रोग के प्रति जागरूकता कार्यक्रम का हुआ आयोजन -

Wednesday, February 20, 2019

डीएम लेंगी पुलवामा हमले में शहीद हुए जवानों के परिवार को गोद -

Wednesday, February 20, 2019

रणवीर सिंह की फिल्म ‘गली बॉय’ ने की 88 करोड़ की कमाई -

Wednesday, February 20, 2019

15 गरीब कन्याओं का कराया सामूहिक विवाह -

Wednesday, February 20, 2019

पौड़ी और अल्मोड़ा में सबसे अधिक पलायन -

Tuesday, February 19, 2019

कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग ने पाकिस्तान व आतंकियों का फूंका पुतला -

Tuesday, February 19, 2019

शहीद मेजर विभूति शंकर ढ़ौडियाल के अंतिम दर्शन में उमड़ा जनसैलाब, सीएम त्रिवेन्द्र पुष्प चक्र अर्पित कर दी श्रद्धांजलि -

Tuesday, February 19, 2019

भारत को वर्ल्ड कप में पाकिस्तान के खिलाफ नहीं खेलना चाहिए: हरभजन -

Tuesday, February 19, 2019

फिल्‍म ‘नोटबुक’ से सलमान खान ने रिप्‍लेस किया सिंगर आतिफ असलम को -

Tuesday, February 19, 2019

त्रिवेंद्र सरकार ने पेश किया 48663.90 करोड़ रु का बजट -

Monday, February 18, 2019

समावेशी विकास को समर्पित है बजट-मुख्यमंत्री -

Monday, February 18, 2019

मुख्यमंत्री ने की प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना की समीक्षा -

Monday, February 18, 2019

मोहाली स्टेडियम से पंजाब क्रिकेट संघ ने हटावाईं पाकिस्तानी क्रिकेटरों की तस्वीरें -

Monday, February 18, 2019

तुलाज इंस्टीट्यूट में मनाया गया अमौर -

Monday, February 18, 2019

द न्यू देवतास का बुक डब्लूआईसी इंडिया में हुआ लॉन्च -

Monday, February 18, 2019

मैड ने चलाया अभियान, गंदी दीवारों का किया कायाकल्प -

Monday, February 18, 2019

देहरादून के लिए मिस्टर एंड मिस फैशन आइकॉन ऑडिशन का आयोजन -

Monday, February 18, 2019

अब तक 12 लाख से अधिक लोगो को सेवा प्रदान की, जानिए ख़बर

trivendra-singh-rawat

देहरादून। जीवीके ईएमआरआई प्रबन्धन द्वारा 108 आपातकालीन सेवा के मुख्यालय में राज्यस्तरीय इमरजेंसी मेडिकल केयर अवार्ड समारोह का आयोजन किया गया। इस समारोह में राज्य भर से आये उन सभी फील्ड कर्मियों एवं टीम के अन्य सदस्यों को आमंत्रित किया गया था, जिन्होंने आपातकालीन स्थितियों के दौरान विषिश्ट सेवाएं प्रदान करते हुये पीड़ितों के जीवन बचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। इस अवसर पर जीवीके ईएमआरआई उत्तराखण्ड के स्टेट हैड मनीश टिंकू द्वारा समारोह में आमंत्रित किये गये समस्त कर्मियों को सम्मानित किया गया। अपनी टीम को बधाई देते हुये मनीश टिंकू ने कहा कि हमारी टीम गत लगभग दस वर्शों से आम जनता को आपातकालीन स्थितियों के दौरान त्वरित एवं निस्वार्थ रुप से अपनी सेवाएं प्रदान कर रही हैं। ज्ञात हो कि जीवीके ईएमआरआई 108 आपातकालीन सेवा द्वारा प्रतिदिन 300 से 350 आपातकालीन मामलों में सेवाएं प्रदान की जाती हैं परन्तु इनमें से कुछ आपातकालीन मामले ऐसे भी होते हैं जिनमें यदि पीड़ित व्यक्ति को त्वरित रुप से प्राथमिक उपचार न मिल पाये तो उस व्यक्ति का जीवन संकट में पड़ सकता है। उन्होंने कहा कि हमें गर्व है कि जीवीके ईएमआरआई 108 आपातकालीन सेवा द्वारा प्रारम्भ से अब तक लगभग 12 लाख 58 हजार से अधिक आपातकालीन मामलों में सेवाएं प्रदान करते हुये लगभग 31,700 से अधिक पीड़ितों का जीवन बचाया गया है, ये सभी ऐसे मामले थे जिनमें यदि पीड़ितों को उचित समय पर आपातकालीन सहायता ना मिल पाती, तोे उनका जीवन बचाया जाना असम्भव था। समारोह में आमंत्रित टीम के सदस्यों ने आपातकालीन मामलों में हुये अपने अनुभवों को आपस में साझा करते हुए बताया कि उनके द्वारा किस प्रकार से उस आपातकालीन स्थिति के दौरान त्वरित रुप से सहायता प्रदान कर पीड़ितों का जीवन बचाया था। ज्ञात हो कि गत लगभग दस वर्शों की अवधि में 108 आपातकालीन सेवा द्वारा लगभग 12 लाख 58 हजार से अधिक आपातकालीन मामलों में सेवाएं प्रदान की गई हैं, जिनमें से 4.91 लाख से अधिक मामले गर्भावस्था तथा 1.27 लाख मामले सड़क दुर्घटना से सम्बन्धित हैं। इसके साथ ही लगभग 10,200 से अधिक बच्चों का जन्म 108 आपातकालीन सेवा के एम्बुलेंस वाहनों में हुआ है। इस अवसर पर 108 आपातकालीन सेवा की विभिन्न टीमों को उनके क्षेत्र में दी गई विषिश्ट सेवाओं हेतु क्रमषः 108 नेषनल सेवियर अवार्ड, ईएम केयर अवार्ड, बैस्ट केएमपीएल अवार्ड, बैस्ट ईआरओ अवार्ड इत्यादि प्रदान किये गये। बेरीनाग एम्बुलेंस में तैनात ईएमटी गोकुल सिंह एवं दिगम्बर कुमार को इस बार 108 नेषनल सेवियर अर्वाड से सम्मानित किया गया, इन दोनों कर्मचारियों को यह अवार्ड एक गर्भवती महिला को प्रसव पीड़ा के दौरान अस्पताल ले जाते हुए एम्बुलेंस में ही सुरक्षित प्रसव करवाने हेतु प्रदान किया गया, आज आयाजित किये गये इस कार्यक्रम में संस्था में 10 वर्श पूर्ण करने वाले कर्मचारियों को भी सम्मानित किया गया। इस अवसर पर जीवीके ईएमआरआई उत्तराखण्ड के स्टेट हैड मनीश टिंकू ने समारोह में उपस्थित सभी टीमों को उनके द्वारा किए जा रहे उत्कृष्ट कार्याें हेतु बधाई देते हुए उनका उत्साहवर्धन किया और कहा कि जीवीके ईएमआरआई सदैव आपातकालीन स्थितियों के दौरान आमजनमानस की सहायता हेतु दृढ़-संकल्पित है और हमारी टीम अपने इस संकल्प को सदैव पूर्ण करने हेतु तत्पर रहेगी।

Leave A Comment