Breaking News:

गोविंदा इस ऐक्टर को मानते है सबसे मेहनती, जानिए खबर -

Thursday, September 20, 2018

हार्दिक पंड्या चोटिल, स्ट्रेचर पर मैदान से बाहर ले जाए गए -

Thursday, September 20, 2018

उत्तराखंड : 22 सितम्बर को ‘रेलवे स्वच्छता दिवस’ -

Thursday, September 20, 2018

बाजार में नकली हेलमेटों की बाढ़ -

Thursday, September 20, 2018

दून में आयोजित करेंगी जुड़वा पर्वतारोही बहनें नुंग्शी व ताशी बेस कैंप फेस्टिवल आॅफ इंडिया -

Thursday, September 20, 2018

विधानसभा में गाय को राष्ट्रमाता घोषित करने के अनुरोध का संकल्प पारित -

Wednesday, September 19, 2018

पाकिस्तान से क्रिकेट पर शर्तों के साथ प्रतिबंध नहीं होना चहिए -

Wednesday, September 19, 2018

2500 बच्चियों को शिक्षा के लिए 90 दिन में तय करेंगे 6 हजार किमी -

Wednesday, September 19, 2018

‘मेंटल है क्या’ की राइटर का खुलासा, जानिए खबर -

Wednesday, September 19, 2018

फर्जी प्रमाणपत्रों के जरिए फर्जी तरीके से नौकरी कर रहे हैं कई लोगः चौहान -

Wednesday, September 19, 2018

हर मुद्दे पर विधानसभा में चर्चा को तैयार सरकार : सीएम -

Wednesday, September 19, 2018

भारतीय सेना में चयनित लेफ्टिनेंट मालविका रावत को सीएम त्रिवेंद्र ने किया सम्मानित -

Wednesday, September 19, 2018

उत्तराखंड विधानसभा सत्र : अनेक मुद्दों पर हुई चर्चा -

Tuesday, September 18, 2018

26 सालों से मंदिर की देखभाल कर रहे हैं मुसलमान -

Tuesday, September 18, 2018

हर बाधाओं को पार कर हमारे खिलाड़ियों ने पायी सफल -

Tuesday, September 18, 2018

अनुष्का शर्मा ने खोला वरुण धवन का राज! -

Tuesday, September 18, 2018

देहरादून के निर्माता ओम प्रकाश भट्ट ने किया मुंबई में प्रोडक्शन हाउस का लांच -

Tuesday, September 18, 2018

प्राइमरी स्कूली बच्चों संग पीएम मोदी ने मनाया जन्मदिन -

Tuesday, September 18, 2018

चिन्यालीसौड़ में मुख्यमंत्री ने किया आर्च पुल का लोकार्पण -

Monday, September 17, 2018

कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक ‘खून का रिश्ता’ -

Monday, September 17, 2018

अब दीक्षांत समारोह में भारतीय संस्कृति युक्त नया परिधान निर्धारित होगी, जानिए खबर

uk

देहरादून | उच्च शिक्षा राज्य मंत्री डाॅ.धन सिंह रावत की अध्यक्षता में सचिवालय में प्रदेश भर के समस्त विश्वविद्यालयों द्वारा दीक्षांत समारोह के अवसर पर छात्र-छात्राओं के गणवेश(ड्रेस) में समानता लाने विषयक बैठक सम्पन्न हुई। जिसमें प्रदेश में अवस्थित समस्त विश्वविद्यालय के कुलपति, रजिस्ट्रार उपस्थित थे। बैठक में उच्च शिक्षा राज्यमंत्री डाॅ.धन सिंह रावत ने कहा कि दीक्षांत समारोह के दौरान सरकार के समक्ष यह विचार आया, कि दीक्षांत समारोह के लिये ऐसा नया परिधान निर्धारित किया जाये, जिसमें भारतीय संस्कृति परिलक्षित होने के साथ-साथ उत्तराखण्ड की संस्कृति का समावेश किया जाए। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत द्वारा भी इस विषय में दिशा निर्देश दिये गये है। इस विचार के आते ही विभिन्न उपक्रमों से ड्रेस डिजाइन तैयार कराये गये। तथा विभिन्न विश्वविद्यालयों से दीक्षांत समारोह परिधान तैयार कराये गये, जिनमें ग्राफिक ऐरा विश्वविद्यालय द्वारा तैयार डिजाइन उपयुक्त पाया गया। ग्राफिक ऐरा विश्वविद्यालय द्वारा प्रदर्शित ड्रेस डिजाइन पर उनके द्वारा बनाये गये परिधान को विश्वविद्यालय के सभी कुलपतियों एवं शिक्षा अधिकारियों के समक्ष प्रदर्शन कराये जाने तथा इस सम्बंध में सुझाव लेने हेतु यह बैठक बुलाई गयी है। बैठक में आये सुझावों में ड्रेस डिजाइन में टोपी को उत्तराखण्डी स्टाइल में परिवर्तित करने तथा दीक्षांत समारोह के दौरान वी.आई.पी., विभागाध्यक्षों/एक्जीक्यूटिव आॅफिसर्स एवं छात्रों की तैयार ड्रेस में कुलपतियों द्वारा अपने-अपने सुझाव दिये गये। उच्च शिक्षा मंत्री डाॅ.रावत ने तैयार परिधान डिजाइन का नेतृत्व करने वाली ग्राफिक ऐरा विश्वविद्यालय की डाॅ.ज्योति छाबरा से अपेक्षा की कि वे बैठक में आये सुझावों यथा टोपी का डिजाइन उत्तराखण्ड के परिपेक्ष्य में तैयार कराने, टोपी में राज्य पक्षी मोनाल व राज्य पुष्प ब्रह्मकमल को समाविष्ट करते हुए संशोधित परिधान का डिजाइन तैयार करें। तथा इन सब सुझावों को समाविष्ट कर 02-03 दिन में संशोधित डिजाइन उपलब्ध करायें, ताकि उस पर मा.राज्यपाल एवं मा.मुख्यमंत्री की सहमति प्राप्त कर ली जाए। उन्होंने आश्वस्त किया कि आगामी 10 दिन के अन्तर्गत दीक्षांत समारोह के परिधान का डिजाइन तैयार कर लिया जायेगा। तथा इसका सर्वप्रथम उपयोग इसी माह फरवरी में होने वाले मेडिकल विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में किया जायेगा। ज्ञातव्य है कि ग्राफिक ऐरा विश्वविद्यालय द्वारा तैयार परिधान में भारतीय संस्कृति के साथ राज्य पुष्प ब्रह्मकमल, राज्य पक्षी मोनाल, गढवाल राईफल एवं कुमांऊ रेजीमेंट के ड्रेस के रंग को भी समाविष्ट किया गया है। इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव डाॅ.रणवीर सिंह, कुलपति मेडिकल विश्वविद्यालय प्रो.एच.एस.धामी, श्रीदेव सुमन विश्वविद्यालय के कुलपति डाॅ.यू.एस.रावत, उत्तराखण्ड संस्कृत विश्वविद्यालय के कुलपति, हिमालयन यूनिवर्सिटी के कुलपति डाॅ.विजय धसमाना, ग्राफिक ऐरा विश्वविद्यालय के कुलपति डाॅ.संजय जसोला, निदेशक उच्च शिक्षा डाॅ.सविता मोहन, एडवाईजर रूसा श्री के.डी.पुरोहित, गुरू राम राय विश्वविद्यालय के कुलपति डाॅ.पी.सी.ध्यानी सहित विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार शामिल थे।

Leave A Comment