Breaking News:

उत्तराखण्ड : सीएम त्रिवेंद्र ने सांसद आदर्श ग्राम योजना की समीक्षा की -

Thursday, November 14, 2019

अंगीठी की गैस से दम घुटने के कारण मां-बेटी की मौत -

Thursday, November 14, 2019

भारतीय वन्य जीव संस्थान का दल पहुंचा परमार्थ निकेतन -

Thursday, November 14, 2019

पिथौरागढ़ विस उपचुनाव: प्रचार को कांग्रेस प्रभारी भी -

Thursday, November 14, 2019

मुख्यमंत्री ने 150 करोड़ रूपए लागत की विभिन्न विकास योजनाओं का किया लोकार्पण एवं शिलान्यास -

Thursday, November 14, 2019

जनभावनाओं के अनुरूप श्रीराम का भव्य मंदिर जल्द : सीएम योगी आदित्यनाथ -

Wednesday, November 13, 2019

उत्तराखण्ड : मंत्रिमंडल की बैठक में 27 फैसलों को मंजूरी -

Wednesday, November 13, 2019

फीस वृद्धि : छात्रों में भारी आक्रोश, की तालाबंदी -

Wednesday, November 13, 2019

उत्तराखण्ड : 25 नवंबर से शुरू होगा खेल महाकुम्भ, जानिए खबर -

Wednesday, November 13, 2019

मिसेज दून दिवा सेशन-4 फिनाले 16 नवंबर को -

Wednesday, November 13, 2019

सीएम त्रिवेन्द्र ने कुम्भ मेले के तैयारियों की समीक्षा की -

Wednesday, November 13, 2019

बुजुर्गो से ठगी करने वाला गिरफ्तार , जानिए खबर -

Tuesday, November 12, 2019

फीस वृद्धि के खिलाफ आयुष छात्रों का आंदोलन जारी -

Tuesday, November 12, 2019

धूमधाम से मनाया गया 550वां प्रकाशोत्सव -

Tuesday, November 12, 2019

पिथौरागढ़ में भूकंप के झटके, जानिए खबर -

Tuesday, November 12, 2019

बचपन की कुछ बातें और उनसे जुडी कुछ यादें….. -

Tuesday, November 12, 2019

प्रकाशपर्व: मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र ने मत्था टेक प्रदेश की खुशहाली की कामना की -

Tuesday, November 12, 2019

उत्तराखण्ड: सीएम को फोन पर धमकी देने वाला आरोपी गिरफ्तार -

Monday, November 11, 2019

छात्रो ने फैशन शो में पेश किया नया क्लेक्शन -

Monday, November 11, 2019

पौड़ी के विकास में सीता माता सर्किट होगा मील का पत्थर साबित : सीएम -

Monday, November 11, 2019

अब दीक्षांत समारोह में भारतीय संस्कृति युक्त नया परिधान निर्धारित होगी, जानिए खबर

uk

देहरादून | उच्च शिक्षा राज्य मंत्री डाॅ.धन सिंह रावत की अध्यक्षता में सचिवालय में प्रदेश भर के समस्त विश्वविद्यालयों द्वारा दीक्षांत समारोह के अवसर पर छात्र-छात्राओं के गणवेश(ड्रेस) में समानता लाने विषयक बैठक सम्पन्न हुई। जिसमें प्रदेश में अवस्थित समस्त विश्वविद्यालय के कुलपति, रजिस्ट्रार उपस्थित थे। बैठक में उच्च शिक्षा राज्यमंत्री डाॅ.धन सिंह रावत ने कहा कि दीक्षांत समारोह के दौरान सरकार के समक्ष यह विचार आया, कि दीक्षांत समारोह के लिये ऐसा नया परिधान निर्धारित किया जाये, जिसमें भारतीय संस्कृति परिलक्षित होने के साथ-साथ उत्तराखण्ड की संस्कृति का समावेश किया जाए। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत द्वारा भी इस विषय में दिशा निर्देश दिये गये है। इस विचार के आते ही विभिन्न उपक्रमों से ड्रेस डिजाइन तैयार कराये गये। तथा विभिन्न विश्वविद्यालयों से दीक्षांत समारोह परिधान तैयार कराये गये, जिनमें ग्राफिक ऐरा विश्वविद्यालय द्वारा तैयार डिजाइन उपयुक्त पाया गया। ग्राफिक ऐरा विश्वविद्यालय द्वारा प्रदर्शित ड्रेस डिजाइन पर उनके द्वारा बनाये गये परिधान को विश्वविद्यालय के सभी कुलपतियों एवं शिक्षा अधिकारियों के समक्ष प्रदर्शन कराये जाने तथा इस सम्बंध में सुझाव लेने हेतु यह बैठक बुलाई गयी है। बैठक में आये सुझावों में ड्रेस डिजाइन में टोपी को उत्तराखण्डी स्टाइल में परिवर्तित करने तथा दीक्षांत समारोह के दौरान वी.आई.पी., विभागाध्यक्षों/एक्जीक्यूटिव आॅफिसर्स एवं छात्रों की तैयार ड्रेस में कुलपतियों द्वारा अपने-अपने सुझाव दिये गये। उच्च शिक्षा मंत्री डाॅ.रावत ने तैयार परिधान डिजाइन का नेतृत्व करने वाली ग्राफिक ऐरा विश्वविद्यालय की डाॅ.ज्योति छाबरा से अपेक्षा की कि वे बैठक में आये सुझावों यथा टोपी का डिजाइन उत्तराखण्ड के परिपेक्ष्य में तैयार कराने, टोपी में राज्य पक्षी मोनाल व राज्य पुष्प ब्रह्मकमल को समाविष्ट करते हुए संशोधित परिधान का डिजाइन तैयार करें। तथा इन सब सुझावों को समाविष्ट कर 02-03 दिन में संशोधित डिजाइन उपलब्ध करायें, ताकि उस पर मा.राज्यपाल एवं मा.मुख्यमंत्री की सहमति प्राप्त कर ली जाए। उन्होंने आश्वस्त किया कि आगामी 10 दिन के अन्तर्गत दीक्षांत समारोह के परिधान का डिजाइन तैयार कर लिया जायेगा। तथा इसका सर्वप्रथम उपयोग इसी माह फरवरी में होने वाले मेडिकल विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में किया जायेगा। ज्ञातव्य है कि ग्राफिक ऐरा विश्वविद्यालय द्वारा तैयार परिधान में भारतीय संस्कृति के साथ राज्य पुष्प ब्रह्मकमल, राज्य पक्षी मोनाल, गढवाल राईफल एवं कुमांऊ रेजीमेंट के ड्रेस के रंग को भी समाविष्ट किया गया है। इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव डाॅ.रणवीर सिंह, कुलपति मेडिकल विश्वविद्यालय प्रो.एच.एस.धामी, श्रीदेव सुमन विश्वविद्यालय के कुलपति डाॅ.यू.एस.रावत, उत्तराखण्ड संस्कृत विश्वविद्यालय के कुलपति, हिमालयन यूनिवर्सिटी के कुलपति डाॅ.विजय धसमाना, ग्राफिक ऐरा विश्वविद्यालय के कुलपति डाॅ.संजय जसोला, निदेशक उच्च शिक्षा डाॅ.सविता मोहन, एडवाईजर रूसा श्री के.डी.पुरोहित, गुरू राम राय विश्वविद्यालय के कुलपति डाॅ.पी.सी.ध्यानी सहित विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार शामिल थे।

Leave A Comment