Breaking News:

अधिकारियों व कार्मिकों को निरन्तर प्रशिक्षण की जरूरत , जानिए खबर -

Tuesday, December 11, 2018

एनआईटी मामला : हाईकोर्ट ने राज्य,एनआईटी और केंद्र सरकार को जवाब दाखिल करने को कहा -

Tuesday, December 11, 2018

जनसंपर्क और मीडिया लोक कल्याणकारी राज्य की प्रमुख विशेषता : राज्यपाल -

Monday, December 10, 2018

मानव अधिकार दिवस : इस वर्ष 2090 वाद में से 1434 वाद निस्तारित -

Monday, December 10, 2018

एकता कपूर व माही गिल गंगाआरती में हुए शामिल -

Monday, December 10, 2018

एकता कपूर और जितेंद्र हरिद्वार में करेंगे महाआरती , जानिए खबर -

Monday, December 10, 2018

पहल : एक साथ विवाह बंधन में बंधे 21 जोड़े -

Monday, December 10, 2018

सीएम ने की विभिन्न निर्माण कार्यों का शिलान्यास, जानिए खबर -

Sunday, December 9, 2018

पौराणिक मेले हमारी पहचान : सीएम त्रिवेंद्र -

Sunday, December 9, 2018

मैड और एनसीसी की टीम ने रिस्पना को किया साफ़ -

Sunday, December 9, 2018

राष्ट्रीय जनसंपर्क सम्मेलन : हिमालय और गंगा राष्ट्र का गौरव -

Sunday, December 9, 2018

दून नगर निगम बढ़ाएगा हाउस टैक्स, जानिए खबर -

Sunday, December 9, 2018

आईएमए पीओपीः 347 कैडेट बने भारतीय सेना का हिस्सा -

Saturday, December 8, 2018

सीएम त्रिवेंद्र 40वें आॅल इण्डिया पब्लिक रिलेशन्स काॅन्फ्रेंस का किया शुभारम्भ -

Saturday, December 8, 2018

कर्ज से परेशान किसान ने की आत्महत्या की कोशिश, हालत गंभीर -

Saturday, December 8, 2018

सीएम त्रिवेंद्र किये कई घोषणाएं , जानिए खबर -

Saturday, December 8, 2018

‘केदारनाथ’ फिल्म के नाम से ऐतराज: सतपाल महाराज -

Saturday, December 8, 2018

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र करेंगे राष्ट्रीय जनसंपर्क सम्मेलन का शुभारंभ -

Friday, December 7, 2018

सीएम एप ने दिलाई गरीब परिवारों को धुएं से मुक्ति, जानिए खबर -

Friday, December 7, 2018

गावस्कर : विराट नहीं भारत के ओपनर करेंगे सीरीज का फैसला -

Friday, December 7, 2018

अब दीक्षांत समारोह में भारतीय संस्कृति युक्त नया परिधान निर्धारित होगी, जानिए खबर

uk

देहरादून | उच्च शिक्षा राज्य मंत्री डाॅ.धन सिंह रावत की अध्यक्षता में सचिवालय में प्रदेश भर के समस्त विश्वविद्यालयों द्वारा दीक्षांत समारोह के अवसर पर छात्र-छात्राओं के गणवेश(ड्रेस) में समानता लाने विषयक बैठक सम्पन्न हुई। जिसमें प्रदेश में अवस्थित समस्त विश्वविद्यालय के कुलपति, रजिस्ट्रार उपस्थित थे। बैठक में उच्च शिक्षा राज्यमंत्री डाॅ.धन सिंह रावत ने कहा कि दीक्षांत समारोह के दौरान सरकार के समक्ष यह विचार आया, कि दीक्षांत समारोह के लिये ऐसा नया परिधान निर्धारित किया जाये, जिसमें भारतीय संस्कृति परिलक्षित होने के साथ-साथ उत्तराखण्ड की संस्कृति का समावेश किया जाए। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत द्वारा भी इस विषय में दिशा निर्देश दिये गये है। इस विचार के आते ही विभिन्न उपक्रमों से ड्रेस डिजाइन तैयार कराये गये। तथा विभिन्न विश्वविद्यालयों से दीक्षांत समारोह परिधान तैयार कराये गये, जिनमें ग्राफिक ऐरा विश्वविद्यालय द्वारा तैयार डिजाइन उपयुक्त पाया गया। ग्राफिक ऐरा विश्वविद्यालय द्वारा प्रदर्शित ड्रेस डिजाइन पर उनके द्वारा बनाये गये परिधान को विश्वविद्यालय के सभी कुलपतियों एवं शिक्षा अधिकारियों के समक्ष प्रदर्शन कराये जाने तथा इस सम्बंध में सुझाव लेने हेतु यह बैठक बुलाई गयी है। बैठक में आये सुझावों में ड्रेस डिजाइन में टोपी को उत्तराखण्डी स्टाइल में परिवर्तित करने तथा दीक्षांत समारोह के दौरान वी.आई.पी., विभागाध्यक्षों/एक्जीक्यूटिव आॅफिसर्स एवं छात्रों की तैयार ड्रेस में कुलपतियों द्वारा अपने-अपने सुझाव दिये गये। उच्च शिक्षा मंत्री डाॅ.रावत ने तैयार परिधान डिजाइन का नेतृत्व करने वाली ग्राफिक ऐरा विश्वविद्यालय की डाॅ.ज्योति छाबरा से अपेक्षा की कि वे बैठक में आये सुझावों यथा टोपी का डिजाइन उत्तराखण्ड के परिपेक्ष्य में तैयार कराने, टोपी में राज्य पक्षी मोनाल व राज्य पुष्प ब्रह्मकमल को समाविष्ट करते हुए संशोधित परिधान का डिजाइन तैयार करें। तथा इन सब सुझावों को समाविष्ट कर 02-03 दिन में संशोधित डिजाइन उपलब्ध करायें, ताकि उस पर मा.राज्यपाल एवं मा.मुख्यमंत्री की सहमति प्राप्त कर ली जाए। उन्होंने आश्वस्त किया कि आगामी 10 दिन के अन्तर्गत दीक्षांत समारोह के परिधान का डिजाइन तैयार कर लिया जायेगा। तथा इसका सर्वप्रथम उपयोग इसी माह फरवरी में होने वाले मेडिकल विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में किया जायेगा। ज्ञातव्य है कि ग्राफिक ऐरा विश्वविद्यालय द्वारा तैयार परिधान में भारतीय संस्कृति के साथ राज्य पुष्प ब्रह्मकमल, राज्य पक्षी मोनाल, गढवाल राईफल एवं कुमांऊ रेजीमेंट के ड्रेस के रंग को भी समाविष्ट किया गया है। इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव डाॅ.रणवीर सिंह, कुलपति मेडिकल विश्वविद्यालय प्रो.एच.एस.धामी, श्रीदेव सुमन विश्वविद्यालय के कुलपति डाॅ.यू.एस.रावत, उत्तराखण्ड संस्कृत विश्वविद्यालय के कुलपति, हिमालयन यूनिवर्सिटी के कुलपति डाॅ.विजय धसमाना, ग्राफिक ऐरा विश्वविद्यालय के कुलपति डाॅ.संजय जसोला, निदेशक उच्च शिक्षा डाॅ.सविता मोहन, एडवाईजर रूसा श्री के.डी.पुरोहित, गुरू राम राय विश्वविद्यालय के कुलपति डाॅ.पी.सी.ध्यानी सहित विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार शामिल थे।

Leave A Comment