Breaking News:

सोशल मीडिया पर कार्तिक आर्यन की मां की चर्चा , जानिए खबर -

Saturday, June 6, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1245 , जिनमे 422 मरीज हुए ठीक -

Saturday, June 6, 2020

नेक कार्य : सोनू सूद ने जहाज बुक कर उत्तराखंड के प्रवासियों को घर भेजा -

Saturday, June 6, 2020

गैरसैण बनेगी ई-विधानसभा : सीएम त्रिवेंद्र -

Friday, June 5, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1215 , ठीक हुए मरीजो की संख्या हुई 344 -

Friday, June 5, 2020

“उत्तराखंड की शान भैजी विरेन्द्र सिंह रावत” ऑडियो वीडियो का हुआ शुभारम्भ -

Friday, June 5, 2020

डेंगू से बचाव के लिए जागरूकता जरूरी -

Friday, June 5, 2020

कोरोना से बचे : कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1199, देहरादून में 15 नए मामले मिले -

Friday, June 5, 2020

7 जून से “एसपीओ” द्वारा राष्ट्रीय ऑनलाइन योगा प्रतियोगिता का आयोजन -

Friday, June 5, 2020

उत्तराखंड : 10वीं च 12वीं की शेष परीक्षाएं 25 जून से पहले होंगी -

Friday, June 5, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1153 आज 68 नए मरीज मिले -

Thursday, June 4, 2020

पांच जून को अधिकांश जगह बारिश की संभावना -

Thursday, June 4, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1145 -

Thursday, June 4, 2020

जागरूकता और सख्ती पर विशेष ध्यान हो : सीएम त्रिवेंद्र -

Thursday, June 4, 2020

दुःखद : बॉलीवुड कास्टिंग निदेशक का निधन -

Thursday, June 4, 2020

वक्त का फेर : चैम्पियन तीरंदाज सड़क पर बेच रही सब्जी -

Thursday, June 4, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या 1085 हुई , 42 नए मरीज मिले -

Wednesday, June 3, 2020

अभिनेत्री ने जहर खाकर की खुदकुशी, जानिए खबर -

Wednesday, June 3, 2020

मुझे बदनाम करने की साजिश : फुटबॉल कोच विरेन्द्र सिंह रावत -

Wednesday, June 3, 2020

मोदी 2.0 : पहले साल लिए गए कई ऐतिहासिक निर्णय -

Wednesday, June 3, 2020

इस साल दो पीढ़ियों ने एक साथ बनाया गणेशोत्सव और मुहर्रम

pahal

पुणे | इस साल गणेशोत्सव और मुहर्रम के एक साथ आने से भले की प्रशासन को सुरक्षा की चिंता सताती हो, लेकिन महाराष्ट्र के पुणे में धनोरी के रेड्डी परिवार जैसे लोग जब तक मौजूद हैं धार्मिक सौहार्द की मिसालें दिखती रहेंगी।इस साल गणेशोत्सव और मुहर्रम एक साथ मनाए गए। मुस्लिम और हिंदू दोनों समुदायों से लोग उनके घर पहुंचे। भजन मंडल के साथ कव्वाल भी बुलाए गए। हालांकि, ये सब आसान नहीं रहा। सोनू के बड़े बेटे राजू ने बताया कि कई बार कुछ मुस्लिम समुदाय ने उनके मुहर्रम के तरीके को गलत बताया और उनकी बेइज्जती का आरोप लगाया। इस पर उन्होंने अजमेर शरीफ जाकर इसे सीखा और आज वे इस परिवार की तारीफ करते हैं। इसी तरह उन्हें हिंदू समाज की ओर से भी उन्हें धमकाया गया। उनके समझाने पर उनका धर्म परिवर्तन नहीं किया गया, लोगों को समझ में आया। रिटायर्ड डिफेंस कर्मी का निधन हो चुका है लेकिन उनके घर में आज भी एक ओर गणपति बप्पा विराजे थे और दूसरी ओर मुहर्रम का ताबूत रखा जाता है। दरअसल, दो पीढ़ियों 25 साल पहले और नारायणस्वामी और लक्ष्मी रेड्डी पुणे बड़ा इमाम दरगाह में नियम से जाते थे। उनकी निष्ठा देखकर निशान और पंजा उनके घर ले जाया गया। हालांकि, 18 साल पहले उनके निधन के बाद मुहर्रम ताबूत रखना बंद हो गया। उनका बड़ा बेटा तुलसीराम अपने परिवार के साथ धनोरी में रहने लगा। करीब 6 साल पहले तुलसीराम के बेटे वेंकटेश और सोनू को सपने में ख्वाजा गरीब नवाज दिखे। परिवार ने इसे भगवान का आदेश मानते हुए मुहर्रम का ताबूत रखना शुरू कर दिया। उन्होंने रेड्डी परिवार को अल्लाह के सच्चे भक्त का वंशज बताते हुए मुहर्रम जारी रखने के लिए कहा। सोनू ने बताया कि ख्वाजा में उनका गहरा विश्वास है लेकिन साथ ही वह भगवान बालाजी को भी नहीं भूलते।

Leave A Comment