Breaking News:

स्मार्ट सिटी हेतु 575 करोड़ रूपए के कामों का हुआ शिलान्यास, जानिए खबर -

Sunday, November 17, 2019

मिसेज दून दिवा सेशन-2 के फिनाले में पहुंचे राहुल रॉय , जानिए खबर -

Sunday, November 17, 2019

शीघ्र ही नई शिक्षा नीति : निशंक -

Sunday, November 17, 2019

उत्तराखंड : युवा इनोवेटर्स ने विकसित किए ऊर्जा दक्ष वाहन -

Sunday, November 17, 2019

यमकेश्वर : कार्यरत स्टार्ट अप को मुख्यमंत्री ने दिए 10 लाख रूपए -

Sunday, November 17, 2019

भगवा रक्षा दल : पंकज कपूर बने प्रदेश मीडिया प्रभारी -

Saturday, November 16, 2019

उत्तराखण्ड स्कूलों में वर्चुअल क्लास शुरू करने वाला बना पहला राज्य -

Saturday, November 16, 2019

सूचना कर्मचारी संघ चुनाव : भुवन जोशी अध्यक्ष , सुषमा उपाध्यक्ष एवं सुरेश चन्द्र भट्ट चुने गए महामंत्री -

Saturday, November 16, 2019

रेस लगाना पड़ा महंगा, हादसे में तीन की मौत -

Saturday, November 16, 2019

पब्लिक रिलेशंस सोसाइटी आफ इंडिया : 41वीं नेशनल कान्फ्रेंश के ब्रोशर का हुआ विमोचन -

Saturday, November 16, 2019

अन्तर्राष्ट्रीय सम्मेलन में भारत से साध्वी भगवती सरस्वती ने किया सहभाग -

Saturday, November 16, 2019

देहरादून में हुआ भाजपा के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा का भव्य स्वागत, जानिए खबर -

Friday, November 15, 2019

भिक्षा मांग रहे बच्चो को भिक्षा की जगह शिक्षा दे : एडीजी अशोक कुमार -

Friday, November 15, 2019

हरिद्वार : पर्यटकों के लिए खुले राजा जी रिजर्व पार्क के दरवाजे -

Friday, November 15, 2019

शहर में दूसरा प्लास्टिक बैंक हुई स्थापित, जानिए खबर -

Friday, November 15, 2019

उत्तराखण्ड में ‘‘सबका साथ-सबका विकास’’ जनयोजना अभियान 2 दिसम्बर से , जानिए खबर -

Friday, November 15, 2019

उत्तराखण्ड : सीएम त्रिवेंद्र ने सांसद आदर्श ग्राम योजना की समीक्षा की -

Thursday, November 14, 2019

अंगीठी की गैस से दम घुटने के कारण मां-बेटी की मौत -

Thursday, November 14, 2019

भारतीय वन्य जीव संस्थान का दल पहुंचा परमार्थ निकेतन -

Thursday, November 14, 2019

पिथौरागढ़ विस उपचुनाव: प्रचार को कांग्रेस प्रभारी भी -

Thursday, November 14, 2019

उत्तर प्रदेश में लगेगा राष्ट्रपति शासन !

akhileshmulyamshivpal

लखनऊ। समाजवादी पार्टी में मची कलह क्लाईमेक्स पर पहुंच गई है। राजनीतिक विश्लेषकों की माने तो अगले 24 घण्टे सपा के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है। सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव खेमा अपनी-अपनी ताकत का प्रदर्शन करेगा। राजनीतिक विश्लेषक व वरिष्ठ स्तम्भकार राजनाथ सिंह सूर्य की मानें तो 23 अक्टूबर की रात सपा के भविष्य के लिए ‘कत्ल’ की रात और 24 तारीख ‘विघटन’ का दिन हो सकता है। उन्होंने कहा कि चाचा नहीं, मुलायम सिंह बाप व अखिलेश यादव बेटे के बीच की लड़ाई है। शिवपाल यादव एक बहाना मात्र हैं। उन्होंने कहा कि सत्ता से सम्पन्नता जब बढ़ती है, तो ऐसा होना स्वाभाविक होता है। सपा के प्रदेश अध्यक्ष व पूर्व कैबिनेट मंत्री शिवपाल यादव की मंत्रिमंडल से बर्खास्तगी के बाद अखिलेश सरकार पर भी संकट के बादल छा गए हैं। सपा सूत्रों की मानें तो अखिलेश को मुख्यमंत्री के पद से अपदस्थ करने के लिये राज्यपाल को चिठ्ठी लिखी जा सकती है। इस राजनीतिक घटनाचक्र के बाद सपा मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को पद से हटाने की कोशिश करेगी। सूत्रों ने यह भी बताया कि मुख्यमंत्री पद पर रहते अखिलेश यादव भी बड़ा गेम चल सकते हैं। वे राज्यपाल को चिठ्ठी लिखकर विधानसभा को भंग करा सकते हैं। राजनीतिक विश्लेषकों की मानें तो उत्तर प्रदेश एक बार फिर राष्ट्रपति शासन की तरफ बढ़ रहा हैं। अगर ऐसा होता है तो 14 साल बाद एक बार फिर यूपी में राष्ट्रपति शासन लगेगा। खबर है कि मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने 17 विधायकों व मंत्रियों के मोबाइल फोन जमा कराए हैं। दोनों खेमों की ओर से ताबड़तोड़ लिए जा रहे फैसले से जल्द ही कोई बड़ा फैसला हो सकता है। रामगोपाल यादव से अखिलेश यादव सीधे सम्पर्क में हैं। यूपी के इस राजनीतिक उठापटक को लेकर केन्द्र में भी सरगर्मी बढ़ गई है। उल्लेखनीय है कि समाजवादी पार्टी सपा के सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव ने 24 अक्टूबर को पार्टी के सभी विधायकों, एमएलसी, पूर्व सांसदों, ब्लाॅक सदस्यों समेत पार्टी के सभी पदाधिकारियों को एक बड़ी बैठक बुलाई है। उसके पहले ही मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने विधानमण्डल की बैठक बुलाकर शिवपाल समेत उनके समर्थकों को मंत्रिमण्डल से बाहर का रस्ता दिखाकर सापफ कर दिया है कि सरकार चलाने में किसी का हस्तक्षेप बर्दाश्त नहीं करेंगे।

Leave A Comment