Breaking News:

सीएम त्रिवेंद्र ने सिल्वर मेडल विजेता सूरज पंवार को सम्मानित किया -

Tuesday, October 23, 2018

मैच फिक्सिंग से निपटने के लिए श्री लंका ने मांगी भारत से मदद -

Tuesday, October 23, 2018

कपिल शर्मा ने की अपनी शादी की डेट कन्फर्म, जानिए खबर -

Tuesday, October 23, 2018

कांग्रेस ने देहरादून नगरनिगम के पार्षद पद के उम्मीदवार की लिस्ट की जारी, जानिए खबर -

Monday, October 22, 2018

26 से 30 नवंबर तक बैंक कर्मचारी हड़ताल पर -

Monday, October 22, 2018

सुनील उनियाल गामा एवं रजनी रावत समेत कई ने किया नामांकन -

Monday, October 22, 2018

बॉक्स ऑफिस पर छाई फिल्म ‘बधाई हो’, बनाया रेकॉर्ड -

Monday, October 22, 2018

भाई-चारे और शांति के प्रतिक पर निर्दलीय प्रत्याशी ने गुलाब का फूल भेंट कर किया नामांकन -

Monday, October 22, 2018

‘यूके आइकन सीजन -2‘ आॅडिशन का शुभारम्भ -

Sunday, October 21, 2018

परेड ग्राउंड में मैड ने चलाया सफाई अभियान -

Sunday, October 21, 2018

कांग्रेस से दिनेश अग्रवाल बीजेपी से सुनील उनियाल गामा मेयर उम्मीदवार -

Sunday, October 21, 2018

राष्ट्रीय दलों की मुसीबतें बढ़ा रहे “बगावती” कार्यकर्ता -

Sunday, October 21, 2018

विकास पुरूष पं. नारायण दत्त तिवारी पंचतत्व में हुए विलीन -

Sunday, October 21, 2018

अल्ट्रा माॅडर्न प्लांट का सीएम त्रिवेंद्र ने किया शुभारम्भ -

Sunday, October 21, 2018

योग सीखने ऋषिकेश आई युवती के साथ दुष्कर्म, योग प्रशिक्षक गिरफ्तार -

Saturday, October 20, 2018

बद्रीनाथ दर्शन : राज्यपाल ने देश और राज्य की खुशहाली की कामना की -

Saturday, October 20, 2018

भोजन के लिए एक विकेट पर 10 रुपये पाने वाले पप्पू देवधर ट्राफी के लिए तैयार -

Saturday, October 20, 2018

दशहरा पर किसानों को दिया अमिताभ बच्चन ने बड़ा तोहफा, जानिए खबर -

Saturday, October 20, 2018

मेयर पद के लिए “आप” की प्रत्याशी रजनी रावत,अन्य पार्टियों में हलचल तेज -

Friday, October 19, 2018

देहरादून में हर्सोल्लास के साथ मनाया गया दशहरा पर्व -

Friday, October 19, 2018

एक राजा ऐसा, 60 बीवियां, खाता है म्यांमार में, सोता है भारत में, जानिए खबर

raja

आज आप को भारत के एक ऐसी जगह के बारे में सुना है, जहां के लोग बिना वीजा-पासपोर्ट के दूसरे देश में चले जाते हों? जहां का राजा खाता किसी और देश में है, लेकिन सोता भारत में है? शायद नहीं सुना तो बता दें कि नागालैंड के लोंगवा गांव में ऐसा ही होता है, जहां पर कोन्याक जनजाति के लोग रहते हैं। दरअसल, इस गांव का आधा हिस्सा भारत में तो आधा हिस्सा म्यांमार में है।बता दें कि इस ट्राइब्स के राजा का नाम अंग नगोवांग है, जिनके अधीन लोंगवा समेत कुल 75 गांव आते हैं। वहीं, इनके घर के बीच से होकर म्यांमार और भारत का बॉर्डर गुजरता है। ऐसे में इनका परिवार खाना तो म्यांमार के हिस्से में खाता है, लेकिन सोने के लिए भारतीय सीमा का उपयोग करता है। बता दें कि लोंगवा गांव के राजा की फैमिली भी काफी बड़ी है, जिसमें उनकी 60 बीवियां भी शामिल हैं। वहीं, राजा का बेटा म्यांमार आर्मी में है।भारत-म्यांमार सीमा पर होने के कारण यहां के लोगों को तकनीकी तौर दोनों ही देशों की नागरिकता मिली हुई है। ऐसे में इन्हें म्यांमार जाने के लिए न तो वीजा की जरूरत होती है और न ही भारतीय पासपोर्ट की। यहां के लोग दोनों ही देशों में स्वतंत्र रुप से घूम सकते हैं। इस ट्राइब्स के लोगों को हेड हंटर्स के नाम से भी जाना जाता है। पहले ये लोग इंसानों को मारकर उसके सिर को अपने साथ ले जाते थे। हालांकि, 1960 के दशक बाद यहां हेड हंटिंग नहीं होती है, लेकिन लोगों के घरों में सजाए गए खोपड़ियों को देखा जा सकता है। बता दें कि इनकी संख्या अन्य दूसरे जनजातियों की तुलना में काफी ज्यादा है। वहीं, इनकी भाषा नागमिस है, जो नागा और आसामी भाषा से मिलकर बनी है।

Leave A Comment