Breaking News:

श्री विश्वनाथ मां जगदीशिला डोली के आयोजन स्थलों पर पौधारोपण होगा : नैथानी -

Friday, May 29, 2020

हरेला पर 16 जुलाई को वृहद स्तर पर पौधारोपण किया जाएगाः सीएम -

Friday, May 29, 2020

छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी का निधन -

Friday, May 29, 2020

ज्योतिषी बेजन दारूवाला का निधन -

Friday, May 29, 2020

ब्लैकमेल : न्यूज़ पोर्टल संचालक हुआ गिरफ्तार -

Friday, May 29, 2020

कोरोना का कोहराम : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 716, आज सबसे अधिक 216 मरीज मिले -

Friday, May 29, 2020

उत्तराखंड : उत्तराखंड में कोरोना मरीजों की संख्या हुई 602 , देहरादून में आज आये 54 नए मामले -

Friday, May 29, 2020

उत्तराखंड : दुकान खुलने का समय प्रातः 7 बजे से सांय 7 बजे तक हुआ -

Thursday, May 28, 2020

कोरोना कहर : उत्तराखंड में कोरोना मरीजों की संख्या पहुँची 500 -

Thursday, May 28, 2020

टीवी अभिनेत्री का सड़क हादसे में हुई मौत -

Thursday, May 28, 2020

बिहार की बेटी ज्योति के मुरीद हुए विदेशी भी, जानिए खबर -

Thursday, May 28, 2020

मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना’’ का शुभारंभ हुआ -

Thursday, May 28, 2020

उत्तराखंड : कोरोना मरीजो की संख्या हुई 493 -

Thursday, May 28, 2020

उत्तराखंड : मुख्यमंत्री राहत कोष में आज यह दिए दान, जानिए खबर -

Wednesday, May 27, 2020

देहरादून से विशेष ट्रेन द्वारा हज़ारो मजदूर बिहार एंव उत्तर प्रदेश के लिए रवाना, जानिए खबर -

Wednesday, May 27, 2020

उत्तराखंड : कोरोना मरीजो की संख्या हुई 469, आज 69 मरीज मिले कोरोना के -

Wednesday, May 27, 2020

ऋषिकेश-धरासू हाइवे पर 440 मीटर लंबी टनल हुई तैयार, सीएम त्रिवेंद्र ने जताया आभार -

Wednesday, May 27, 2020

कोरोना का कहर : उत्तराखंड में कोरोना मरीज हुए 438 -

Wednesday, May 27, 2020

उत्तराखंड : राज्य में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 401 -

Tuesday, May 26, 2020

“आप” पार्टी से जुड़े कई लोग, जानिए खबर -

Tuesday, May 26, 2020

‘‘गढ़वाली गाथाओं में लोक और देवता’’ नामक पुस्तक का विमोचन

pustak vimochan

देहरादून, एक ऐसा राज्य गीत तैयार किए जाने की आवश्यकता है जिसमें उत्तराखण्ड के प्रत्येक क्षेत्र का समावेश हो। मोबाईल युग की युवा पीढि को लोक संस्कृति से जोड़े रखने के लिए विशेष प्रयास करने होंगे। हमारी लोक संस्कृति की समृद्ध परम्परा है। इसे बचाए रखने के लिए प्रबुद्धजनों को आगे आना होगा। राज्य सरकार इसमें हर प्रकार का सहयोग देने को तैयार है। रविवार को बीजापुर में शोध पुस्तक ‘‘गढ़वाली गाथाओं में लोक और देवता’’ पुस्तक का विमोचन करते हुए मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि लोकसंस्कृति के संरक्षण के लिए सरकार हर सम्भव प्रयास कर रही है। जनजातिय संस्कृति के संरक्षण के लिए दो संग्रहालय बनाये जा रहे हैं। वाद्ययंत्रों के संरक्षण के लिए भी दो संग्रहालय बनाए जाएंगे। राज्य के वाद्ययंत्र का चयन करने के लिए समिति द्वारा विचार किया जा रहा है। सीएम ने पुस्तक के लेखक डाण्वीरेंद्र बत्र्वाल को बधाई देते हुए कहा कि पुस्तक में इतिहास को लोकगाथाओं व लोकदेवताओं के साथ लिया गया है। उत्तराखण्ड की संस्कृति बहुत समृद्ध है। जागर को महत्वपूर्ण बताते हुए उन्होंने कुमायंूए गढ़वाल सहित पूरे प्रदेश के जागर को संहिताबद्ध करने की आवश्यकता पर बल दिया। दून विश्वविद्यालय को जागर को संहिताबद्ध करने व पांडुलिपियों को संरक्षित करने के लिए कहा गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखण्ड की भाषाओं को बोलियों के स्तर से आगे बढ़ाकर देश की आधिकारिक भाषा में शामिल करने के लिए यहां के लेखकों को प्रयास करने होंगे। लोकसंस्कृति पर पुस्तकों के लेखन के लिए सरकार मदद करेगी। उन्होंने लोकगीतकारों का आह्वान किया कि एक ऐसा राज्य गीत बनाया जाए जिसमें यहां के सभी क्षेत्रों की भाषाओं का समावेश हो। सरकार इस पर पुरस्कार राशि का भी प्राविधान करेगी। शिक्षा मंत्री मंत्रीप्रसाद नैथानी ने डाण्बत्र्वाल को बधाई देते हुए कहा कि राज्य के विद्यालयों की लाईब्रेरी में उत्तराखण्ड की संस्कृति पर आधारित पुस्तकें रखे जाने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि इससे अच्छा अवसर क्या हो सकता है कि लोकगाथाओं पर आधारित पुस्तक का विमोचन श्री हरीश रावत जैसे लोकनेता के करकमलों से हो रहा है। इस अवसर पर केबिनेट मंत्री प्रीतम सिंहए प्रसिद्ध लोक गायक प्रीतम भरत्वाणए वरिष्ठ पत्रकार राजीव नयन बहुगुणाए जयसिंह रावतए सहित अन्य महानुभाव उपस्थित थे।

Leave A Comment