Breaking News:

उत्तराखंड सरकार की हाईकोर्ट ने की तारीफ -

Monday, December 11, 2017

शादीशुदा जोड़ों का अनोखा शो ‘‘आपकी खूबसूरती उनकी नज़र से’’ -

Monday, December 11, 2017

जज्बा हो तो सब मुमकिन है, जानिये खबर -

Monday, December 11, 2017

जन क्रांति विकास मोर्चा ने ड्रग माफियाओं का फूंका पुतला -

Monday, December 11, 2017

गरीब बच्चो का हक न मारे रावत सरकार : आम आदमी पार्टी -

Monday, December 11, 2017

पर्वतीय क्षेत्र में विकास मील का पत्थर होगा साबित : मुख्यमंत्री -

Monday, December 11, 2017

मैड संस्था ने नगर निगम को सुझाया साफ़ सफाई रूपी “रास्ते” -

Monday, December 11, 2017

मां नहीं बन सकी पर 51 बेसहारा बच्चों की है माँ -

Saturday, December 9, 2017

गहरी निंद्रा में सोया है आपदा प्रबंधन विभाग, जानिए खबर -

Saturday, December 9, 2017

राज्य सरकार लोकायुक्त को लेकर गंभीर नहींः इंदिरा ह्रदयेश -

Saturday, December 9, 2017

सरकार ने जनता की आशाओं को विश्वास में बदलाः सीएम -

Saturday, December 9, 2017

उत्तराखण्ड क्रिकेट के हित में एक मंच पर आएं क्रिकेट एसोसिएशन: दिव्य नौटियाल -

Saturday, December 9, 2017

बीजेपी सांसद मोदी की कार्यशैली से नाराज होकर दिया इस्तीफा -

Friday, December 8, 2017

चीन की रिटेल कारोबार पर बढ़ती पकड़ से भारतीय रिटेलर परेशान -

Friday, December 8, 2017

जरूरतमंद लोगों के लिए गर्म कपड़े डोनेशन कैंप की शुरूआत -

Friday, December 8, 2017

बाल रंग शिविर का आयोजन -

Friday, December 8, 2017

युवाओं को देश प्रेम और देश भक्ति की सीख दे रहा यूथ फ़ाउंडेशन -

Friday, December 8, 2017

निकायों में सीमा विस्तार को लेकर विरोध प्रदर्शन तेज़ -

Thursday, December 7, 2017

गुजरात चुनाव : इस बार मणिनगर सीट है “हॉट” -

Thursday, December 7, 2017

पाकिस्तान ने ‘कपूर हवेली’ में दी श्रद्धांजलि, जानिये खबर -

Thursday, December 7, 2017

गढ़वाली भाषा में चक्रव्यूह मंचन का भव्य आयोजन , जानिये खबर

pahal

रुद्रप्रयाग। विकासखण्ड जखोली की ग्राम पंचायत देवल में चल रहे पांडव नृत्य के तहत गढ़वाली भाषा में चक्रव्यूह मंचन का भव्य आयोजन किया गया। चक्रव्यूह देखने के लिये क्षेत्रीय जनता की भारी भीड़ उमड़ पड़ी। सातवें द्वार पर कौरवों द्वारा छल करके अभिमन्यु वध के दौरान कई दर्शक भावुक हो पड़े। दरअसल, आठ साल बाद पिछले 15 दिनों से ग्राम पंचायत देवल में पांडव नृत्य एवं लीला की धूम मची हुई है। पांडव नृत्य देखने के लिये भारी संख्या में भक्त पहुंच रहे हैं। पांडव नृत्य के तहत गांव में चक्रव्यूह का मंचन किया। महाभारत युद्ध में जब अर्जुन और भगवान श्रीकृष्ण युद्ध करते-करते दक्षिण दिशा की ओर चले जाते हैं तो गुरू द्रोणाचार्य चक्रव्यूह रचा देते हैं। अर्जुन के अलावा च्रकव्यूह को भेदना ओर कोई नहीं जानता था। जब सब पांडव निराश होते हैं तो 16 वर्षीय अर्जुन पुत्र अभिमन्यु चक्रव्यूह भेदने की बात कहता है। अभिमन्यु के साथ भीम भी युद्ध में जाते हैं, लेकिन चक्रव्यूह के पहले द्वार पर जयद्रथ भीम को अंदर प्रवेश नहीं करने देते हैं और अभिमन्यु अकेले ही अंदर प्रवेश कर जाता है। अभिमन्यु अकेले ही जयद्रथ, गुरू द्रोणाचार्य, शैल्य, लक्ष्मण, अश्वत्थामा, कर्ण, दुशासन जैसे महारथियों को परास्त करता है, लेकिन सातवें द्वार पर दुर्योधन छल करता है और एक साथ सारे महारथी अभिमन्यु का वध कर देते हैं। अभिमन्यु की भूमिका प्रवीन सेमवाल, दुर्योधन की पवन प्रकाश उनियाल, कर्ण की फरशुराम सेमवाल, द्रोणाचार्य की जगदीश प्रसाद ममगाईं, दुशासन की अनिल उनियाल, शैल्य की गणेश उनियाल, शकुनी की मोहित भटट, अश्वत्थामा की पंकज ममगाईं, जयद्रथ की हयात सिंह राणा ने निभाई। वहीं दूसरी ओर पांडव नृत्य अपने अंतिम चरण में पहुंच चुका है। छह दिसम्बर को मोरू डाली कौथिग के साथ सात दिसम्बर को पांडव नृत्य का विधिवत समापन हो जायेगा। इस मौके पर उप जिलाधिमें हॉकारी जखोली देवमूर्मि यादव, तहसीलदार शालिनी मौर्य, आयोजक राज्य आंदोलनकारी जगतराम सेमवाल, प्रताप सिंह राणा, दिनेश प्रसाद उनियाल, जगदम्बा प्रसाद उनियाल, पूर्व क्षेत्र पंचायत सदस्य दीपक भटट, निर्देशक शंभू प्रसाद उनियाल, पूर्व प्रधान मधुसूदन सकलानी, सुनील प्रसाद उनियाल, राजेन्द्र प्रसाद उनियाल, बच्चीराम उनियाल, हरिकृष्ण उनियाल सहित अन्य मौजूद थे।

Leave A Comment