Breaking News:

पौड़ी : पाबौ में चट्टान से गिरने से महिला की मौत -

Monday, April 6, 2020

जुबिन नौटियाल ने ऑनलाइन शो से कोरोना फाइटर्स को कहा थैंक्यू -

Monday, April 6, 2020

अनूप नौटियाल व डा. दिनेश चौहान रहे कोरोना वाॅरियर -

Monday, April 6, 2020

पहल : देहरादून में 7745 भोजन पैकेट वितरित किये गये -

Sunday, April 5, 2020

सीएम त्रिवेन्द्र ने परिवार संग दीप जला कर हौसला बढाने का दिया सन्देश -

Sunday, April 5, 2020

उत्तराखंड में चार और कोरोना पाॅजीटिव मामले सामने आए, संख्या 26 हुई -

Sunday, April 5, 2020

दुःखद : जंगल की आग में जिंदा जली दो महिलाएं -

Sunday, April 5, 2020

आम आदमी की रसोईः जरूरतमंदों को दे रही भोजन और राशन -

Sunday, April 5, 2020

5 अप्रैल को रात 9 बजे 9 मिनट के लिए अपने घरों में लाईट बंद कर दीपक जलाए : सीएम त्रिवेंद्र -

Saturday, April 4, 2020

लापता व्यक्ति का शव पाषाण देवी के मंदिर पास झील से बरामद हुआ -

Saturday, April 4, 2020

देहरादून : स्वयंसेवी संस्थाओं के सहयोग से 9482 भोजन पैकेट वितरित किये गये -

Saturday, April 4, 2020

उत्तराखंड में कोरोना पॉजिटिव मामलों की संख्या हुई 22 -

Saturday, April 4, 2020

सोशियल पॉलीगोन ग्रुप ऑफ कंपनी ने मुख्यमंत्री राहत कोष में 5 लाख का चेक दिया -

Saturday, April 4, 2020

लॉकडाउन : रचायी जा रही शादी पुलिस ने रुकवाई, 15 लोगों पर मुकदमा दर्ज -

Friday, April 3, 2020

उत्तराखंड : त्रिवेन्द्र सरकार ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए जारी किये 85 करोङ रूपए -

Friday, April 3, 2020

ऋषियों का मूल मंत्र ’तमसो मा ज्योतिर्गमय’ एक अद्भुत आइडियाः स्वामी चिदानन्द सरस्वती -

Friday, April 3, 2020

आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने किया रक्तदान -

Friday, April 3, 2020

कोरोना वॉरियर्स का सभी करे सहयोग : सीएम त्रिवेंद्र -

Friday, April 3, 2020

किन्नरों ने लोगों को भोजन, राशन वितरित किया -

Thursday, April 2, 2020

3 अप्रैल से बैंक सुबह 8 से अपरान्ह 1 बजे तक खुले रहेंगे -

Thursday, April 2, 2020

जरा हटके : मुसलमानों ने की गुरु पूर्णिमा की पूजा

ekta

धर्म के आड़ में जहाँ एक तरफ नफरत का साया मड़राता है वही धर्म को लेकर राजनीति भी जनता के बीच खेली जाती है वही एक तरफ धर्म नगरी काशी में गुरु पूर्णिमा के अवसर पर सांप्रदायिक सद्भावना का वह नजारा देखने को मिला जिसके लिए कभी महान संत रामानंद एवं उनके शिष्‍य कबीर ने सपना देखा था। पातालपुरी मठ में मुस्लिम समुदाय के लोगों ने पीठाधीश्‍वर महंत बालक दास की आरती उतार पूरी दुनिया को संदेश दिया। काशी के विख्‍यात आश्रमों से लेकर मठों-विद्यालयों तक में गुरु पूर्णिमा उत्‍सव की धूम रही। पड़ाव स्थित भगवान अवधूत राम आश्रम, रवीद्रपुरी स्थित बाबा कीनाराम आश्रम, गढ़वा घाट, मणिकर्णिका स्थित सतुआ बाबा आश्रम, अखाड़ा गोस्‍वामी तुलसीदास, अन्‍नपूर्णा मठ, मछली बंदर मठ, धर्मसंघ, परमहंस आश्रम समेत अन्‍य आश्रमों में बड़ी संख्‍या में शिष्‍यों के गुरु पूजन करने पहुंचने से मेले सा नजारा रहा। अखाड़ा गोस्‍वामी तुलसीदास में गोस्‍वामी तुलसीदास की खड़ाऊं, उनके तैलचित्र और मानस की मूल पोथी का पूजन किया गया। शहर के बीच स्थित पातालपुरी मठ में मुस्लिम धर्मगुरु इरफान अहमद शम्‍सी, मुस्लिम राष्‍ट्रीय मंच के नेता मो. अजहरुद्दीन और उत्तर प्रदेश मदरसा शिक्षा परिषद की सदस्‍य नाजनीन अंसारी के साथ पहुंचे मुस्लिम भाई-बहनों ने महंत बालक दास का माल्‍यार्पण कर आरती उतारी और दुपट्टा ओढ़ाकर सम्‍मान किया। कोई भी धर्म भेद नहीं सिखाता है। सभी धर्मों में गुरु को सर्वोच्‍च स्‍थान प्राप्‍त है। रामानंद ने कबीर को शिष्‍य बनाकर संदेश दिया था कि धर्म के आधार पर भेदभाव इंसानियत के खिलाफ है।

Leave A Comment