Breaking News:

एकता कपूर और जितेंद्र हरिद्वार में करेंगे महाआरती , जानिए खबर -

Monday, December 10, 2018

पहल : एक साथ विवाह बंधन में बंधे 21 जोड़े -

Monday, December 10, 2018

सीएम ने की विभिन्न निर्माण कार्यों का शिलान्यास, जानिए खबर -

Sunday, December 9, 2018

पौराणिक मेले हमारी पहचान : सीएम त्रिवेंद्र -

Sunday, December 9, 2018

मैड और एनसीसी की टीम ने रिस्पना को किया साफ़ -

Sunday, December 9, 2018

राष्ट्रीय जनसंपर्क सम्मेलन : हिमालय और गंगा राष्ट्र का गौरव -

Sunday, December 9, 2018

दून नगर निगम बढ़ाएगा हाउस टैक्स, जानिए खबर -

Sunday, December 9, 2018

आईएमए पीओपीः 347 कैडेट बने भारतीय सेना का हिस्सा -

Saturday, December 8, 2018

सीएम त्रिवेंद्र 40वें आॅल इण्डिया पब्लिक रिलेशन्स काॅन्फ्रेंस का किया शुभारम्भ -

Saturday, December 8, 2018

कर्ज से परेशान किसान ने की आत्महत्या की कोशिश, हालत गंभीर -

Saturday, December 8, 2018

सीएम त्रिवेंद्र किये कई घोषणाएं , जानिए खबर -

Saturday, December 8, 2018

‘केदारनाथ’ फिल्म के नाम से ऐतराज: सतपाल महाराज -

Saturday, December 8, 2018

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र करेंगे राष्ट्रीय जनसंपर्क सम्मेलन का शुभारंभ -

Friday, December 7, 2018

सीएम एप ने दिलाई गरीब परिवारों को धुएं से मुक्ति, जानिए खबर -

Friday, December 7, 2018

गावस्कर : विराट नहीं भारत के ओपनर करेंगे सीरीज का फैसला -

Friday, December 7, 2018

मीका सिंह को छेड़छाड़ मामले में कोर्ट में पेश किए जाएंगे -

Friday, December 7, 2018

सड़क पर बच्चे का जन्म, जानिए खबर -

Friday, December 7, 2018

गन्ना किसानों का बकाया भुगतान जल्द, जानिए खबर -

Friday, December 7, 2018

फैशन में करियर की अपार संभावनाएंः पूर्व मिस इंडिया इको ख्याती -

Thursday, December 6, 2018

उत्तराखंड : 1111 पुरूष व महिला होमगार्डस की नई भर्तियां जल्द -

Thursday, December 6, 2018

जरा हटके : मुसलमानों ने की गुरु पूर्णिमा की पूजा

ekta

धर्म के आड़ में जहाँ एक तरफ नफरत का साया मड़राता है वही धर्म को लेकर राजनीति भी जनता के बीच खेली जाती है वही एक तरफ धर्म नगरी काशी में गुरु पूर्णिमा के अवसर पर सांप्रदायिक सद्भावना का वह नजारा देखने को मिला जिसके लिए कभी महान संत रामानंद एवं उनके शिष्‍य कबीर ने सपना देखा था। पातालपुरी मठ में मुस्लिम समुदाय के लोगों ने पीठाधीश्‍वर महंत बालक दास की आरती उतार पूरी दुनिया को संदेश दिया। काशी के विख्‍यात आश्रमों से लेकर मठों-विद्यालयों तक में गुरु पूर्णिमा उत्‍सव की धूम रही। पड़ाव स्थित भगवान अवधूत राम आश्रम, रवीद्रपुरी स्थित बाबा कीनाराम आश्रम, गढ़वा घाट, मणिकर्णिका स्थित सतुआ बाबा आश्रम, अखाड़ा गोस्‍वामी तुलसीदास, अन्‍नपूर्णा मठ, मछली बंदर मठ, धर्मसंघ, परमहंस आश्रम समेत अन्‍य आश्रमों में बड़ी संख्‍या में शिष्‍यों के गुरु पूजन करने पहुंचने से मेले सा नजारा रहा। अखाड़ा गोस्‍वामी तुलसीदास में गोस्‍वामी तुलसीदास की खड़ाऊं, उनके तैलचित्र और मानस की मूल पोथी का पूजन किया गया। शहर के बीच स्थित पातालपुरी मठ में मुस्लिम धर्मगुरु इरफान अहमद शम्‍सी, मुस्लिम राष्‍ट्रीय मंच के नेता मो. अजहरुद्दीन और उत्तर प्रदेश मदरसा शिक्षा परिषद की सदस्‍य नाजनीन अंसारी के साथ पहुंचे मुस्लिम भाई-बहनों ने महंत बालक दास का माल्‍यार्पण कर आरती उतारी और दुपट्टा ओढ़ाकर सम्‍मान किया। कोई भी धर्म भेद नहीं सिखाता है। सभी धर्मों में गुरु को सर्वोच्‍च स्‍थान प्राप्‍त है। रामानंद ने कबीर को शिष्‍य बनाकर संदेश दिया था कि धर्म के आधार पर भेदभाव इंसानियत के खिलाफ है।

Leave A Comment