Breaking News:

लॉकडाउन : रचायी जा रही शादी पुलिस ने रुकवाई, 15 लोगों पर मुकदमा दर्ज -

Friday, April 3, 2020

उत्तराखंड : त्रिवेन्द्र सरकार ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए जारी किये 85 करोङ रूपए -

Friday, April 3, 2020

ऋषियों का मूल मंत्र ’तमसो मा ज्योतिर्गमय’ एक अद्भुत आइडियाः स्वामी चिदानन्द सरस्वती -

Friday, April 3, 2020

आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने किया रक्तदान -

Friday, April 3, 2020

कोरोना वॉरियर्स का सभी करे सहयोग : सीएम त्रिवेंद्र -

Friday, April 3, 2020

किन्नरों ने लोगों को भोजन, राशन वितरित किया -

Thursday, April 2, 2020

3 अप्रैल से बैंक सुबह 8 से अपरान्ह 1 बजे तक खुले रहेंगे -

Thursday, April 2, 2020

पहल : तीन बेटियों ने डेढ़ सौ परिवारों के पास घर-घर पहुंचाया खाने का सामान -

Thursday, April 2, 2020

हम सब उत्तराखंड पुलिस को सहयोग करे: दीपक सक्सेना -

Thursday, April 2, 2020

लोगों को अधिक से अधिक जागरूक किया जाए : सीएम त्रिवेन्द्र -

Thursday, April 2, 2020

डीडी उत्तराखंड का प्रसारण 24 घंटे का हुआ -

Wednesday, April 1, 2020

फेक न्यूज या गलत जानकारी देने पर प्रशासन द्वारा होगी कानूनी कार्रवाई -

Wednesday, April 1, 2020

लाकडाऊन के दौरान रखे संयम: पीआरएसआई देहरादून चैप्टर -

Wednesday, April 1, 2020

लॉकडाउन : डीएम के आदेश को रखा ठेंगे पर, जानिए खबर -

Wednesday, April 1, 2020

मुंबई की सड़कों पर खाना बाँटते नज़र आये अली फजल, जानिए कैसे -

Wednesday, April 1, 2020

कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष पद की अपवाह से तूफान, जानिए खबर -

Tuesday, March 31, 2020

आकाश इंस्टीट्यूट ने कोरोना वायरस से मुकाबले को केंद्र सरकार को एक करोड़ रु की सहायता दी -

Tuesday, March 31, 2020

हजारों ई-बुक फ्री में उपलब्ध करने की घोषणा, जानिए खबर -

Tuesday, March 31, 2020

सोशल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन कराया जाए : सीएम त्रिवेन्द्र -

Tuesday, March 31, 2020

सीएम त्रिवेंद्र पांच माह का देंगे वेतन , जानिए खबर -

Tuesday, March 31, 2020

डेंगू पर नियंत्रण हेतु कारगर प्रयासों की जरूरतः सीएम

देहरादून । मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने प्रदेश में डेंगू रोग पर नियंत्रण एवं प्रभावी रोकथाम के लिये कारगर एवं समेकित प्रयासों की जरूरत बतायी है। उन्होंने इस सम्बन्ध में स्वास्थ्य विभाग के साथ ही सभी जिलाधिकारियों को सर्तकता एवं समन्वय से कार्य करने को कहा है। उन्होंने इस रोग के प्रति जन जागरूकता के प्रसार तथा स्वच्छता एवं सफाई पर विशेष ध्यान देने के भी निर्देश दिये हैं।मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने शनिवार को सचिवालय में डेंगू रोग की रोकथाम के सम्बन्ध में किये जा रहे प्रयासों की शासन के उच्चाधिकारियों, सभी जिलाधिकारियों एवं मुख्य चिकित्सा अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से समीक्षा की। उन्होंने डेंगू के प्रति सजग रहने तथा इसके लिये नियमित रूप से फॉगिंग एवं इसके लार्वा की जांच करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि डेंगू के प्रति लोगों में व्याप्त खौफ के वातावरण को समाप्त करने की जरूरत है। इसके लिये स्वास्थ्य विभाग, आशा, आंगनबाड़ी, ए.एन.एम, सिविल सोसाइटी के साथ नियमित रूप से जन जागरूकता अभियान संचालित किया जाए।  मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने सभी जिलाधिकारियों से अपने कार्यालयों में सिंगल यूज प्लास्टिक का उपयोग सख्ती के साथ बंद करने को कहा है। उन्होंने इसके उपयोग से होने वाले नुकसान के सम्बन्ध में भी जन जागरूकता के प्रसार पर ध्यान देने को कहा है। मुख्यमंत्री ने जल जनित रोगों के प्रति भी प्रभावी नियंत्रण की कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देश दिये। इसके लिये ग्राम समूह पेयजल योजनाओं में भी क्लोरेशन की व्यवस्था करने, नियमित रूप से फॉगिंग व साफ-सफाई की व्यवस्था पर ध्यान देने को कहा। इससे बीमारियों पर हम प्रभावी नियंत्रण करने में सफल हो सकेंगे। मुख्यमंत्री ने डेंगू के उचित ईलाज के लिये होने वाली जांच में आई.एम.ए. व निजी पैथोलॉजी से समन्वय बनाकर इसके लिये वास्तविक फीस का निर्धारण किये जाने के भी निर्देश दिये। बैठक में बताया गया कि प्रदेश में डेंगू रोगियों की संख्या 2595 हैं। स्वास्थ्य विभाग प्रत्येक रोगी के स्वास्थ्य के प्रति सजग है व सभी भर्ती रोगियों के स्वास्थ्य पर निरन्तर निगरानी रखी जा रही है। डेंगू रोग एक स्वतः ठीक होने वाला साधारण मौसमी वायरल रोग है, जो हर वर्ष मानसून के साथ ही फैलता है। डेंगू रोग से निपटने के लिये सरकार एवं स्वास्थ्य विभाग पूर्ण रूप से तैयार है।इस वर्ष डेंगू रोग के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए जनपद देहरादून में 03 व जनपद नैनीताल में 01 अतिरिक्त निःशुल्क डेंगू एलीसा जांच केन्द्र क्रियान्वित किया गया है। वर्तमान में देहरादून में 04(दून चिकित्सालय, कोरोनेशन, गांधी शताब्दी व एस.पी.एस. ऋषिकेश), हरिद्वार में 01(मेला चिकित्सालय), नैनीताल में 02(मेडिकल कालेज, बेस चिकित्सालय), ऊधमसिंहनगर में 01 (जिला चिकित्सालय) व पौड़ी में 01(जिला चिकित्सालय) जांच केन्द्र संचालित है। निःशुल्क जांच केन्द्रों के माध्यम से सरकारी एवं निजी चिकित्सालयों के संदिग्ध डेंगू मरीजों को जांच सुविधा उपलब्ध करायी जा रही है। सरकारी जांच केन्द्रों में समस्त डेंगू मरीजों जिसमें निजी चिकित्सालयों के मरीज भी सम्मिलित हैं व नये जांच केन्द्र भी खोले गये हैं। जिस कारण डेंगू मरीजों की संख्या में वृद्धि हुई है। वर्तमान तक डेंगू रोग से 04 मृत्यु(पुष्टिगत डेंगू) जनपद देहरादून से दर्ज हुई है, जो पूर्व से अन्य रोग से ग्रसित थे। जनपद देहरादून में विभाग द्वारा 50 हजार से ज्यादा घरों में जाकर लगभग 03 लाख की आबादी में घरों में जाकर डेंगू के लार्वा पनपने के स्थानों को नष्ट किया गया तथा इन क्षेत्रों के लोगों को डेंगू के लार्वा के बारे में जागरूक किया गया। बैठक मे सचिव वित्त अमित नेगी, राधिका झा, अरविन्द सिंह हयांकी, एस.ए. मुरूगेशन, सोनिका, अपर सचिव अरूणेन्द्र सिंह चैहान के साथ ही अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Leave A Comment